राजस्थान की गहलोत सरकार ने अपने कर्मचारियों को दिया बड़ा तोहफा, महंगाई भत्ता 38 से बढ़ाकर 42 फीसदी करने का ऐलान

राजस्थान सरकार ने बताया है कि बढ़ा हुआ डीए 1 जनवरी से मिलेगा। बीते तीन महीने (जनवरी से मार्च) का डीए कर्मचारियों के जीपीएफ खातों में जमा किया जाएगा। वहीं अगले महीने यानी अप्रैल से वेतन बढ़े हुए डीए के साथ मिलेगा।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

राजस्थान की अशोक गहलोत सरकार ने अपने कर्मचारियों और पेंशनभोगियों को बड़ा तोहफा दिया है। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने महंगाई भत्ता (डीए) चार फीसदी बढ़ाने का ऐलान किया है। इसके साथ ही राज्य में  अब डीए 38 से बढ़कर 42 फीसदी हो गया है। वित्त विभाग ने कर्मचारियों और पेंशनर्स का डीए बढ़ाने के आदेश भी जारी कर दिए हैं। इस फैसले का लाभ राज्य को आठ लाख कर्मचारियों और पेंशनभोगियों को मिलेगा।

राजस्थान सरकार ने बताया है कि बढ़ा हुआ डीए 1 जनवरी से मिलेगा। बीते तीन महीने (जनवरी से मार्च) का डीए कर्मचारियों के जीपीएफ खातों में जमा किया जाएगा। वहीं अगले महीने यानी अप्रैल से वेतन बढ़े हुए डीए के साथ मिलेगा। वर्कचार्ज कर्मचारियों को भी बढ़े हुए डीए का फायदा मिलेगा।


सीएम गहलोत ने घोषणा के बारे में ट्वीट करते हुए बताया कि, राज्य सरकार ने भी अपने कर्मचारियों को केंद्रीय के कर्मचारियों जितनी डीए देने का फैसला किया है। अब राज्य कर्मचारियों और पेंशनर्स को 1 जनवरी 2023 से 38 फीसदी के स्थान पर 42 फीसदी महंगाई भत्ता देय होगा। इस निर्णय से लगभग 8 लाख कर्मचारियों एवं 4.40 लाख पेंशनर्स को लाभ मिलेगा। बढ़े हुए महंगाई भत्ते का लाभ राज्य कर्मचारियों और पेंशनर्स के अतिरिक्त पंचायत समिति तथा जिला परिषद के कर्मचारियों को भी देय होगा।

गौरतलब है कि राजस्थान सरकार ने बीते साल अक्तूबर में भी महंगाई भत्ता में बढ़ोत्तरी की थी। सीएम गहलोत ने 30 अक्तूबर को महंगाई भत्ते में चार फीसदी बढ़ाने का ऐलान किया था। इसके साथ ही महंगाई भत्ता 34 फीसदी से बढ़कर 38 फीसदी हो गया था। उस वक्त कर्मचारियों और पेंशनर्स को 1 जुलाई 2022 से महंगाई भत्ता दिया गया था।

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


;