राजस्थान ‘लव जिहाद’ मामला: आरोपी के समर्थन में रैली की कोशिश नाकाम, 50 लोग गिरफ्तार

‘लव जिहाद’ के नाम पर अफराजुल की हत्या के आरोपी के समर्थन में रैली को नाकाम करते हुए पुलिस ने उपदेश राणा समते 50 लोगों को गिरफ्तार कर लिया है। उदयपुर और राजसमंद में इंटरनेट सेवा पर रोक लगा दी गई है।

फोटोः सोशल मीडिया
फोटोः सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

राजस्थान में कथित 'लव जिहाद' के नाम पर अफराजुल की हत्या के आरोपी के समर्थन में रैली निकालने की कोशिश को नाकाम करते हुए पुलिस ने 50 लोगों को गिरफ्तार किया है। मामले की संवेदनशीलता को देखते हुए प्रशासन ने धारा 144 लागू करने के साथ ही उदयपुर और राजसमंद में एहतियातन इंटरनेट सेवा पर भी रोक लगा दिया है।

इससे पहले, आरोपी शंभूलाल रैगर के समर्थन में सोशल मीडिया पर कई पोस्ट डालने वाले उपदेश राणा को पुलिस ने उदयपुर आने से पहले ही गिरफ्तार कर लिया। जिसके बाद उसे मजिस्ट्रेट के समक्ष पेश किया गया। जहां से उसे जेल भेज दिया गया। खुद को हिंदू संगठन 'विश्व सनातन संघ' का राष्ट्रीय प्रचारक बताने वाला राणा उत्तर प्रदेश के मेरठ का रहने वाला है और अक्सर सोशल मीडिया के जरिये भड़काउ बयान और वीडियो प्रसारित करता है। अफराजुल की हत्या के आरोपी शंभूलाल रैगर के समर्थन में भी राणा ने मंगलवार को एक ऑनलाइन वीडियो जारी किया था, जिसमें 14 दिसंबर को उदयपुर जाने का ऐलान करते हुए वहां एक बड़ी रैली आयोजित करने की बात कही थी। उसने रैली में हिंदुओं से बड़ी संख्या में भाग लेने की बात कही थी। जिला प्रशासन ने पहले ही राणा के शहर में घुसने पर प्रतिबंध लगा दिया था।

फोटोः सोशल मीडिया
फोटोः सोशल मीडिया
उपदेश राणा

सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे भड़काऊ संदेशों को देखते हुए संभागीय आयुक्त के आदेश पर राजसमंद और उदयपुर में अगले आदेश तक इंटरनेट सेवा बंद करते हुए धारा 144 लागू कर दी गई है। इस बीच हालात को देखते हुए उदयपुर रेंज के आईजी आनंद श्रीवास्तव ने
फेसबुक को पत्र लिखकर उन लोगों के अकाउंट बंद करने को कहा है जो इस तरह के पोस्ट शेयर कर रहे हैं।

फोटोः सोशल मीडिया
फोटोः सोशल मीडिया
अफरोजुल की मौत से गम में डूबा परिवार

इस बीच कई लोगों द्वारा कथित रूप से रैगर की पत्नी के खाते में पैसे जमा कराने की बात सामने आने के बाद प्रशासन ने उसके खाते पर रोक लगा दी है। प्रशासन इश बात की जांच कर रहा है कि उसकी पत्नी के खाते में पैसे किसने जमा कराए। उदयपुर के डीएम ने कहा कि जिले में धारा 144 के तहत भड़काऊ भाषण, रैली और जुलूसों पर सख्त प्रतिबंध है। इसका उल्लंघन करने वालों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने कहा कि धारदार हथियार और छड़ों के साथ घूमने वालों के खिलाफ भी कड़ी कार्रवाई की जाएगी। इस बीच, आईजी आनंद श्रीवास्तव ने फेसबुक को एक पत्र लिखा है जिसमें नफरत वाले संदेश भेजने वाले लोगों के खातों को ब्लॉक करने का अनुरोध किया गया है। उत्तर प्रदेश के रहने वाले राणा ने भी फेसबुक पर नफरत भरा पोस्ट डाला था। आईजी ने फेसबुक से उसके अकाउंट को भी ब्लॉक करने का अनुरोध किया है।

लोकप्रिय