साध्‍वी प्राची के विवादित बोल, इस्लाम धर्म छोड़ हिन्‍दू लड़कों से शादी करें मुस्लिम लड़कियां

विश्व हिंदू परिषद (वीएचपी) की फायर ब्रांड नेता साध्वी प्राची ने एक बार फिर विवादित बयान देते हुए मुस्लिम लड़कियों से कहा है कि वह इस्लाम धर्म छोड़कर हिंदू धर्म अपना लें और हिंदू लड़कों से विवाह करें।

फोटोः सोशल मीडिया
फोटोः सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

अपने भड़काऊ और नफरत फैलाने वाले बयानों के लिए कुख्यात वीएचपी नेता साध्वी प्राची ने एक बार फिर जहर भरा विवादित बयान दिया है। 31 जुलाई को भगवान श्री कृष्ण की नगरी मथुरा में बांके बिहारी मंदिर के दर्शन करने आयीं साध्वी प्राची ने इस बार मुस्लिम लड़कियों को इस्लाम धर्म छोड़कर हिंदू धर्म अपनाने और हिंदू लड़कों से विवाह करने की सलाह दी है। उन्होंने इस्लाम को एक ‘खतरनाक धर्म’ बताते हुए कहा कि ये उनकी जिंदगी तबाह कर सकता है।

बांके बिहारी के मंदिर में दर्शन करने के बाद साध्वी प्राची ने कहा, “धर्म बदलकर शादी करने से मुस्लिम समाज की लड़कियां खुद को तीन तलाक और हलाला से बचा सकती हैं। हिंदू धर्म में आकर मुस्लिम महिलाएं खुद को जीवन भर की परेशानियों और आए दिन तलाक की धमकियों से बचा सकती हैं।” तीन तलाक और हलाला का समर्थन करने वाले मौलानाओं पर भी हमला करते हुए साध्वी ने कहा कि तीन तलाक जैसी कुरीतियों से पीड़ित महिलाओं को ऐसे मौलानाओं को थप्पड़ मारने चाहिए।

इस दौरान साध्वी ने अयोध्या में राम मंदिर निर्माण को लेकर कहा कि यह करोड़ों लोगों की आस्था से जुड़ा मामला है। 2019 में राम मंदिर बनने जा रहा है और इसे कोई रोक नहीं सकता है। उन्होंने कहा कि “इस मामले में हम सभी को सिर्फ सुप्रीम कोर्ट के फैसले का इंतजार है।”

गौरतलब है कि साध्वी प्राची इस तरह के बयान देने के लिए पहले भी सुर्खियों में आ चुकी हैं। विश्व हिंदू परिषद से जुड़ी और राम मंदिर आंदोलन में शामिल रहीं साध्वी प्राची ने 2016 में जाकिर नायक का सिर काटने वाले को 50 लाख रुपये का ईनाम देने की घोषणा की थी।

लोकप्रिय