सिंघु और टिकरी सीमा पर टिके किसान, बुराड़ी जाने से इनकार, सरकार पर भ्रमित करने का आरोप

सिंघु और टिकरी में दोनों ओर से यातायात शनिवार को दूसरे दिन भी बाधित रहा, क्योंकि दिल्ली में विरोध प्रदर्शन करने की योजना बना रहे किसान इन अंतरराज्यीय सीमाओं पर हैं और वे बुराड़ी नहीं जाना चाहते हैं।

फोटो : IANS
फोटो : IANS
user

रवि प्रकाश @raviprakash24

सिंघु और टिकरी में दोनों ओर से यातायात शनिवार को दूसरे दिन भी बाधित रहा, क्योंकि दिल्ली में विरोध प्रदर्शन करने की योजना बना रहे किसान इन अंतरराज्यीय सीमाओं पर हैं और वे बुराड़ी नहीं जाना चाहते हैं।

दिल्ली ट्रैफिक पुलिस ने बसों, ट्रकों और ट्रैक्टर-ट्रॉलियों से दिल्ली जा रहे किसानों के कारण यात्रियों को असुविधा से बचाने के लिए मुकरबा चौक और जीटीके रोड से ट्रैफिक डायवर्ट कर दिया है। दिल्ली सीमा पर इकट्ठे हुए किसानों को केवल बुराड़ी मैदान की ओर जाने की अनुमति दी गई थी। हालांकि, सिंघु और टिकरी में बड़ी संख्या में प्रदर्शनकारियों ने कहा कि वे विरोध के लिए मध्य दिल्ली के रामलीला मैदान या जंतर मंतर में जाना चाहते हैं।


पुलिस अधिकारियों के अनुरोध के बाद भी किसान बुराड़ी न जाने के लिए अड़े हुए हैं क्योंकि उन्हें डर है कि इससे उनका तीन कृषि कानूनों के विरोध में केन्द्र के खिलाफ चल रहा आंदोलन कमजोर हो जाएगा। इसी बीच बुराड़ी के निरंकारी मैदान भेजे गए किसानों का एक हिस्सा यह कहकर लौट आया है कि "यह उन्हें भ्रमित करने की रणनीति है"। एक किसान ने कहा, "मैदान में प्रवेश करने के बाद पुलिस हमारे ट्रैक्टर-ट्रॉलियों को बाहर नहीं आने दे रही है। हम वहां नहीं जाना चाहते हैं। हम केवल सीमा के प्रवेश/निकास बिंदु पर ही घेराबंदी करेंगे। हम बुराड़ी नहीं जाएंगे।"

इस बीच शुक्रवार शाम को बुराड़ी के मैदान में किसानों के शिविर के लिए पानी और अन्य जरूरी सामानों की व्यवस्था की गई। वरिष्ठ पुलिस अधिकारी भी विरोध स्थल की देखरेख कर रहे हैं और सिंघू-टिकरी सीमाओं पर लगातार सतर्कता बरती जा रही थी।

आईएएनएस के इनपुट के साथ

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


;