सीताराम येचुरी बोले- केरल के मंत्री साजी चेरियन के खिलाफ उचित कार्रवाई की जाएगी

माकपा महासचिव सीताराम येचुरी ने बुधवार को कहा कि इस मामले पर चर्चा की जा रही है। येचुरी ने कहा, केरल के साथी इस पर चर्चा कर रहे हैं और वे उचित कार्रवाई करेंगे।

 फोटोः सोशल मीडिया
फोटोः सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

भारतीय संविधान पर केरल के मंत्री साजी चेरियन की 'अपमानजनक' टिप्पणी आने के एक दिन बाद कांग्रेस और बीजेपी कार्यकर्ताओं ने उनके इस्तीफे की मांग को लेकर हंगामा मचाया। माकपा महासचिव सीताराम येचुरी ने बुधवार को कहा कि इस मामले पर चर्चा की जा रही है। येचुरी ने कहा, केरल के साथी इस पर चर्चा कर रहे हैं और वे उचित कार्रवाई करेंगे।

संस्कृति और मत्स्य पालन राज्यमंत्री चेरियन ने रविवार को कहा था कि भारतीय संविधान माकपा को एक स्थान पर रहने वाले लोगों की 'लूट' के लिए पर्याप्त गुंजाइश देता है।

पथानामथिट्टा जिले में हुई पार्टी की एक बैठक में संविधान पर चेरियन की तीखी टिप्पणी मंगलवार को सार्वजनिक होने के तुरंत बाद कांग्रेस के नेतृत्व वाले विपक्ष और राज्य भाजपा ने भी उनके इस्तीफे की मांग को लेकर बड़े पैमाने पर विरोध प्रदर्शन शुरू किया।

चेरियन ने अपना बचाव करते हुए कहा कि उनका इरादा संविधान का अपमान करना नहीं था। उनकी टिप्पणी को गलत समझा गया। उन्होंने इसके लिए माफी मांगी।


विरोध प्रदर्शन तेज होने और केरल विधानसभा में हंगामे के बाद बुधवार की सुबह सदन की कार्यवाही पूरे दिन के लिए स्थगित कर दी गई। माकपा की केरल इकाई ने इस मुद्दे पर चर्चा के लिए बैठक बुलाई। बैठक से निकलने के बाद मीडिया द्वारा पूछे जाने पर चेरियन ने कहा, "मुझे इस्तीफा क्यों देना चाहिए?" और चले गए।

इस बीच, प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष के.सुधाकरन ने कहा कि एक मंत्री की ओर से शर्मनाक बयान आया है। कांग्रेस इस मुद्दे को कानूनी रूप से उठाएगी और शुक्रवार शाम को पूरे राज्य में कांग्रेस पार्टी भारतीय संविधान का समर्थन करने का संकल्प लेगी।

सुप्रीम कोर्ट के पूर्व न्यायाधीश और संवैधानिक विशेषज्ञ के.टी. थॉमस ने इसे एक गंभीर मुद्दा बताया और कहा कि अगर कोई मामला दर्ज किया जाता है, तो मंत्री पर आरोप तय किया जाएगा।

थॉमस ने कहा, "यह मुख्यमंत्री को तय करना है कि उन्हें मंत्री रखना है या नहीं। मंत्री को देश से माफी मांगनी चाहिए। भारतीय संविधान भारतीयों द्वारा लिखा गया था।"


पार्टी सचिवालय के वरिष्ठ सदस्य और मंत्री एम.वी.गोविंदन ने बुधवार को सचिवालय में हुई बैठक के बाद कहा कि सचिवालय की पूर्ण बैठक कल होगी। इस बीच, एक खबर आई कि पार्टी एक प्रेस बयान जारी करेगी, लेकिन उसने ऐसा नहीं किया।

आईएएनएस के इनपुट के साथ

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


;