नए यूजर्स को एक्‍स देगा झटका! एलन मस्क ने किया बड़ा ऐलान

मस्क ने पोस्ट किया, मुफ्त में पढ़ें, लेकिन लिखने के लिए एक डॉलर/वर्ष। यह वास्तविक यूजरों को अवरुद्ध किए बिना बॉट्स से लड़ने का एकमात्र तरीका है। उन्होंने कहा कि यह बॉट्स को पूरी तरह से नहीं रोकेगा, लेकिन प्लेटफॉर्म में हेरफेर करना एक हजार गुना कठिन होगा।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

अपने नए यूजर्स को सोशल मीडिया प्लेटफार्म झटका देने की तैयारी में हैं। सोशल मीडिया प्‍लेटफॉर्म एक्‍स के मालिक एलन मस्क ने बुधवार को कहा कि बॉट्स से निपटने के लिए नए यूजरों को पोस्‍ट करने के लिए प्रति वर्ष एक डॉलर का भुगतान करना होगा, हालांकि वे दूसरों के पोस्ट मुफ्त में पढ़ सकते हैं।

वैश्विक स्तर पर इस बदलाव को लॉन्‍च करने से पहले कंपनी इस न्यूजीलैंड और फिलीपींस में इसका परीक्षण कर रही है। दोनों देशों में नए यूजरों को खाते बनाने के लिए एक डॉलर का भुगतान करना होगा।

मस्क ने पोस्ट कर कहा कि मुफ्त में पढ़ें, लेकिन लिखने के लिए एक डॉलर/वर्ष। यह वास्तविक यूजरों को अवरुद्ध किए बिना बॉट्स से लड़ने का एकमात्र तरीका है। उन्होंने कहा कि यह बॉट्स को पूरी तरह से नहीं रोकेगा, लेकिन प्लेटफॉर्म में हेरफेर करना एक हजार गुना कठिन होगा।

एक्स के अनुसार, यह बॉट्स से लड़ने के लिए किया गया है। एक्स ने कहा कि नया कदम, तथाकथित "नॉट ए बॉट" कार्यक्रम का हिस्सा है, जिसे "स्पैम, हमारे प्लेटफ़ॉर्म में हेरफेर और बॉट गतिविधि को कम करने के हमारे पहले से ही महत्वपूर्ण प्रयासों को बढ़ावा देने" के लिए डिज़ाइन किया गया है।


यह नया प्रोग्राम एक्‍स के मेन सब्‍सक्रिप्‍शन के अतिरिक्त है जिसकी कीमत प्रति माह आठ डॉलर है। एक्स (पूर्व में ट्विटर) भी कथित तौर पर अधिक पैसा कमाने और 2024 तक मुनाफे में आने के लिए अपनी प्रीमियम पेड मेंबरशिप सेवा को तीन सदस्यता स्तरों में विभाजित करने की योजना बना रहा है।

रिपोर्टों के अनुसार, एक्स मौजूदा आठ डॉलर प्रीमियम मेंबरशिप को विभिन्न मूल्य बिंदुओं पर तीन अलग-अलग योजनाओं: बेसिक, स्टैंडर्ड और प्लस में विभाजित करेगा।

एंट्री-लेवल बेसिक प्लान यूजरों द्वारा प्लेटफ़ॉर्म पर देखे जाने वाले विज्ञापनों की संख्या को कम नहीं करेगा। स्टैंडर्ड टियर आधे विज्ञापन दिखाएगा और शीर्ष प्लस प्रीमियम पेशकश पूरी तरह से विज्ञापन हटा देगी और इसकी लागत प्रति माह आठ डॉलर से अधिक हो सकती है।

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


;