छात्रों के साथ मारपीट: यूथ कांग्रेस ने मानवाधिकार आयोग में दर्ज कराई शिकायत, दोषी पुलिसकर्मियों पर तत्काल कार्रवाई की मांग

कांग्रेस की युवा शाखा ने गुरुवार को राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग को पत्र लिखकर आरआरबी एनटीपीसी परीक्षा के उम्मीदवारों की पिटाई करने वाले पुलिसकर्मियों पर कार्रवाई करने की मांग की है।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

कांग्रेस की युवा शाखा ने गुरुवार को राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग को पत्र लिखकर आरआरबी एनटीपीसी परीक्षा के उम्मीदवारों की पिटाई करने वाले पुलिसकर्मियों पर कार्रवाई करने की मांग की है। बता दें कि मंगलवार, 25 जनवरी को प्रयागराज और पटना में रेलवे एनटीपीसी एग्जाम के रद्द किए जाने के विरोध में छात्रों द्वारा विरोध प्रदर्शन किया जा रहा था। इसके बाद पुलिस द्वारा छात्रों के साथ की गई बर्बरता का एक वीडियो सोशल मीडिया पर खूब वायरल हुआ, जिसमें देखा जा सकता है कि पुलिसकर्मी लॉज में घुसकर दरवाजा तोड़ते हुए छात्रों को पकड़ रहे हैं और मार रहे हैं।

इस घटना के बाद बल के गलत उपयोग के लिए भारतीय युवा कांग्रेस के राष्ट्रीय सचिव अमरीश रंजन पांडे और दूसरे नेता अंबुज दीक्षित की तरफ से मानवाधिकार आयोग में शिकायत दर्ज कराई है।


भारतीय युवा कांग्रेस आईवाईसी की शिकायत में कहा गया है कि आरआरबी एनटीपीसी परीक्षा के उम्मीदवार केंद्र सरकार द्वारा अपनाई गई भर्ती प्रक्रिया का विरोध कर रहे हैं। इसके विरोध में छात्रों द्वारा धरना-प्रदर्शन किया गया। इस दौरान प्रदर्शनकारी छात्रों पर जमकर लाठी बरसाई गई और उनकी पिटाई की गई। इस घटना के कई वीडियो सोशल मीडिया और समाचार चैनल में चल रहे हैं। शिकायत में कहा गया है कि भारत के नागरिक होने के नाते शांतिपूर्ण विरोध छात्रों का संवैधानिक अधिकार है। लेकिन इसके बावजूद प्रायगराज में जबरन हॉस्टल में घुसकर छात्रों की पिटाई की गई।

छात्रों के साथ खड़ी भारतीय युवा कांग्रेस ने पुलिस पर शक्ति का दुरुपयोग करने के आरोप लगाए हैं। बिहार और उत्तर प्रदेश दोनों जगह की घटनाओं का जिक्र करते हुए यूवा कांग्रेस ने सवाल किया है कि क्या हमारा देश पुलिस राज्य बन गया है? आईवाईसी ने इसे छात्रों के मानवाधिकारों का घोर उल्लंघन बताते हुए राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग से इस घटना में शामिल लोगों पर तत्काल कार्रवाई की मांग की है।

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia