गुजरात में कोरोना अस्पतालों का बुरा हाल, बदहाली देख मरीज बोला- मुझे निकालो, वरना मर जाऊंगा

कोरोना काल में गुजरात मॉडल का भी पर्दाफाश हो गया है! यहां के अस्पताल में भर्ती कोरोना के मरीजों का हाल बुरा है। अस्पतालों की बदहाली का पोल मरीज खुद खोल रहे हैं। राज्य के करीब हर शहर के अस्पतालों का यही हाल है।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

कोरोना काल में गुजरात मॉडल का भी पर्दाफाश हो गया है! यहां के अस्पताल में भर्ती कोरोना के मरीजों का हाल बुरा है। अस्पतालों की बदहाली का पोल मरीज खुद खोल रहे हैं। राज्य के करीब हर शहर के अस्पतालों का हाल यही है। गुजरात सरकार और सूरत प्रशासन द्वारा शहर के कोविड-19 अस्पतालों किए गए इंतजामों की बदहाली यहां इलाज के लिए दाखिल होने वाले मरीज खुद खोल चुके हैं और जो मीडिया की सुर्खियां भी बने हैं।

ताजा मामला सूरत की है। यहां सूरत महानगर पालिका संचालित स्मीमेर अस्पताल के एक मरीज ने वीडियो वायर कर गुजरात के सरकारी अस्पतालों की सच्चाई उजागर की है। आजतक की खबर के मुताबिक कोरोना पॉजिटिव के चलते इलाज करवा रहे हंसमुख वाघमसी ऑक्सीजन पर हैं जिन्होंने एक वीडियो वायरल कर अस्पताल की बदहाली की पोल खोली है। मरीज ने वीडियो में कहा, "उन्हें यहां से बाहर निकाल लो, नहीं तो वे मर मर जाएंगे।" कोरोना मरीज का यह वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है।


मरीज ने रोते हुए कहा, "मैं स्मीमेर अस्पताल में हूं। यहां किसी प्रकार की सुविधा नहीं मिल रही है। अस्पताल को जानकारी देने पर वो अच्छे फोटो और वीडियो निकाल कर चले जाते हैं और अच्छे प्रलोभन दिए जाते हैं। मेरा तीन-चार दिन से लगातार खराब कंडीशन में इलाज चल रहा है। मेरी कोई देखभाल नहीं कर रहा है। आश्वासन दे-दे कर चले जाते हैं। जल्दी से जल्दी मुझे यहां से निकालो, वरना मैं मर जाऊंगा। मेरी दोनों हाथ जोड़ कर विनती है।"

वहीं हमेशा की तरह इससे जुड़े अधिकारी यह कह कर अपना पला छाड़ने में लगे हैं कि यहां मरीजों की अच्छे से इलाज किया जा रहा है। कुछ ऐसा ही बयान सूरत महानगर पालिका के कमिश्नर बंछानिधी पानी ने दिया है। उनसे जब इस बारे में सवाल पूछा गया तो उन्होंने कहा कि उनकी टीम अस्पताल में अच्छी तरह मरीज़ों की देखभाल कर रही है और कोई शिकायत ना आए इसका ध्यान रखा जा रहा है।

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


;