मध्य प्रदेश में राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के हत्यारे का महिमा मंडन, ग्वालियर में नाथूराम गोडसे की ज्ञानशाला शुरू

राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के हत्यारे नाथूराम गोडसे को महिमा मंडित करने का दौर ग्वालियर में जारी है। पहले प्रतिमा स्थापित की गई और अब अखिल भारतीय हिंदू महासभा ने 'गोडसे ज्ञानशाला' की शुरुआत की है।

महात्मा गांधी का पार्थिव शरीर/ फोटो: Getty Images
महात्मा गांधी का पार्थिव शरीर/ फोटो: Getty Images
user

आईएएनएस

राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के हत्यारे नाथूराम गोडसे को महिमा मंडित करने का दौर ग्वालियर में जारी है। पहले प्रतिमा स्थापित की गई और अब अखिल भारतीय हिंदू महासभा ने 'गोडसे ज्ञानशाला' की शुरुआत की है। इस पर पर विपक्षी कांग्रेस ने तंज कसा है। ग्वालियर में दौलतगंज क्षेत्र में अखिल भारतीय हिंदू महासभा का कार्यालय है। इस कार्यालय में महासभा के पदाधिकारियों ने ज्ञानशाला की शुरुआत की। इस स्थल पर वीर सावरकर, राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ की स्थापना करने वाले डॉ. हेगडेवार और श्यामा प्रसाद मुखर्जी के चित्र वाले पोस्टर लगाए गए थे।

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता के.के. मिश्रा ने ट्वीट कर कहा, "आज ग्वालियर में राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के हत्यारे नाथूराम गोडसे की विधिवत पूजा-अर्चना और आरती के बाद उसकी ज्ञानशाला की शुरुआत हुई, कार्यक्रम स्थल पर बाकायदा श्यामाप्रसाद मुखर्जी, डॉ.केशव बलिराम हेडगेवार की भी तस्वीरें लगी थीं! प्रदेश सरकार, संघ कबीले और भाजपा की यह नूरा-कुश्ती क्या है?"

बताया गया है कि इस ज्ञानशाला में गोडसे से जुड़े साहित्य और अन्य 'क्रांतिकारियों' से संबंधित ग्रंथ रखे गए हैं। ज्ञात हो कि इससे पहले भी हिंदू महासभा ने गोडसे की प्रतिमा स्थापित की थी, उसको लेकर काफी हंगामा हुआ था, तब बाद में प्रतिमा को हटा दिया गया था।

भोपाल की सांसद प्रज्ञा सिंह ठाकुर सड़क से लेकर संसद तक में गोडसे को 'राष्ट्रभक्त' बता चुकी हैं और हंगामा होने पर बयान वापस ले चुकी हैं।

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


लोकप्रिय