ये बॉलीवुड सितारे ‘भक्तों’ को सिखा रहे सबक, सोशल मीडिया के जरिए दे रहे करारा जवाब!

नागरिकता संशोधन कानून, जामिया में हुए बवाल और दिल्ली के जवाहर लाल विश्वविद्यालय (जेएनयू) के कैंपस में छात्रों पर हुए हमले के खिलाफ बॉलीवुड के कई सितारों ने भी अपना गुस्सा जाहिर किया है। जेएनयू छात्रों के समर्थन में दीपिका ने तो कैंपस का दौरा भी किया।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

नागरिकता संशोधन कानून, जामिया में हुए बवाल और दिल्ली के जवाहर लाल विश्वविद्यालय (जेएनयू) के कैंपस में छात्रों पर हुए हमले के खिलाफ बॉलीवुड के कई सितारों ने भी अपना गुस्सा जाहिर किया है। जेएनयू छात्रों के समर्थन में दीपिका ने तो कैंपस का दौरा भी किया। जिसके बाद से ही वो बीजेपी नेताओं और कार्यकर्ताओं के निशाने पर हैं। वहीं अनुराग कश्यप, स्वरा भास्कर, सोनाक्षी सिन्हा और अनुभव सिन्हा समते कई मशहूर हस्तियां दीपिका के समर्थन में आए हैं।अनुभव सिन्हा ने तो पत्रकारों पर भी निशाना साधा है।

इतना ही नहीं 'आर्टिकल 15' के डायरेक्टर ने तो अपने फॉलोअर्स से उन्हें अनफॉलो करने की अपील भी की है। अनुभव ने ट्वीट किया कि वे भ्रष्ट पत्रकारों के खिलाफ कड़ी भाषा का उपयोग करने जा रहे हैं। गौरतलब है कि निर्देशक नागरिकता संशोधन कानून के समय से ही लगातार सोशल मीडिया पर अपना विरोध जता रहे हैं।

बीते रविवार को छात्रों पर हुए हमलों का निर्देशक जमकर विरोध कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि, वे भ्रष्ट पत्रकारों को अपशब्द कहना और गालियां देना शुरु कर रहे हैं, किसी को भी उनकी भाषा से आपत्ति है तो अनफॉलो कर दें। इससे पहले भी सीएए को लेकर अपना विरोध दर्ज करा चुके हैं।

सोशल मीडिया पर बॉलीवुड सेलेब्स की चुप्पी पर भी उन्होंने नेताओं पर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि बजाए शाहरुख खान, सलमान खान और आमिर खान को छोड़ें, इस मामले पर जाकर राजनाथ सिंह जी, आडवाणी जी और जोशी जी से सवाल करें।

वहीं दीपिका का सपोर्ट करते हुए डायरेक्टर अनुराग कश्यप ने लिखा, 'किसी भी प्रजाति में महिला हमेशा से ही ताकतवर थी, है और रहेगी। छपाक का पहला दिन सारे शो। अनुराग ने अपने दूसरे ट्वीट में लिखा 'ये नहीं भूलना चाहिए कि दीपिका इस फिल्म की प्रोड्यूसर्स में से एक है। ऐसा कर के उन्होंने ज्यादा रिस्क उठाया है। मेरे दिल में दीपिका के लिए बहुत इज्जत है'।

दबंग की हिरोइन सोनाक्ष सिन्हा ने भी दीपिका का समर्थन किया है। उन्होंने कहा कि इससे कोई फर्क नहीं पड़ता कि आप किस पार्टी का समर्थन करते हैं, लेकिन क्या आप हिंसा का समर्थन करते हैं? सोनाक्षी ने कहा कि क्या छात्रों और शिक्षकों के खून बहने के दृश्य आपको हिला नहीं देते हैं। उन्होंने कहा कि यह समय चुप बैठने की नहीं है। दीपिका और जो भी आज बोल रहे हैं उन्हें बधाई।

बता दें कि जेएनयू में फीस बढ़ोतरी के खिलाफ प्रदर्शन के दौरान रविवार रात हिंसा हुई थी। नकाबपोशों ने छात्र-शिक्षकों को डंडे और लोहे की रॉड से बुरी तरह पीटा। वे ढाई घंटे तक कैंपस में कोहराम मचाते रहे। हमले में छात्र संघ अध्यक्ष आइशी घोष समेत कई घायल हो गए। आइशी ने एबीवीपी पर हमले का आरोप लगाया और कहा कि नकाबपोश गुंडों ने मुझे बुरी तरह पीटा। करीब 35 लोग जख्मी हो गए। अब तक 23 घायलों को एम्स से छुट्टी मिल चुकी है।

लोकप्रिय