दिल्ली में जिन्हें कूड़े के पहाड़ को हटाने की जिम्मेदारी दी गई, वो खुद कूड़ा निकले: अनिल कुमार

अनिल कुमार ने कहा कि दिल्ली नगर निगम के इतिहास में इस प्रकार की घटना कभी नहीं हुई थी। दिल्ली शर्मिंदा है, उन्होंने कहा कि जिन्हें कुड़े के पहाड़ को हटाने की जिम्मेदारी दी, वो खुद कूड़ा निकले।

फोटो: IANS
फोटो: IANS
user

नवजीवन डेस्क

दिल्ली प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष अनिल कुमार ने दिल्ली नगर निगम में मेयर, डिप्टी मेयर, स्थाई समिति के सदस्यों के चुनाव तथा चुनाव पूर्व बीजेपी तथा आम आदमी पार्टी के पार्षदों द्वारा शपथ ग्रहण के दौरान सदन के अंदर जो हाथापाई की स्थिति पैदा की गई, उस पर गहरा असंतोष जताते हुए, कहा कि सदन में जिस प्रकार का दृश्य देखने को मिला वह बेहद शर्मनाक था।

आगे अनिल कुमार ने कहा कि दिल्ली नगर निगम के इतिहास में इस प्रकार की घटना कभी नहीं हुई थी। दिल्ली शर्मिंदा है, उन्होंने कहा कि जिन्हें कुड़े के पहाड़ को हटाने की जिम्मेदारी दी, वो खुद कूड़ा निकले। उन्होंने कहा कि नव निर्वाचित पार्षदों को बीजेपी, आम आदमी पार्टी ने एक स्क्रिप्ट के तहत भेजा था। जो सदन में नजर आया।


अनिल कुमार ने कांग्रेस पार्षदों द्वारा मेयर चुनाव में हिस्सा नहीं लेने के फैसले के बारे में कहा कि दिल्ली में कांग्रेस ही एक मात्र विपक्ष है। बांकी की दो पार्टियां अलग-अलग स्तर पर सत्ता में हैं। जिस तरह से लोकतांत्रिक प्रक्रियाओं की अवहेलना कर मेयर चुनाव की प्रक्रिया अपनाई जा रही है। हम उसका विरोध करते हैं।

अंत में अनिल कुमार ने कहा कि आम आदमी पार्टी तथा बीजेपी दोनों संघ की विचारधारा वाली पार्टियां हैं। ऐसे में कांग्रेस किसी भी कीमत पर संघी शक्तियों का समर्थन नहीं कर सकती।

आईएएनएस के इनपुट के साथ

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


;