पटना में ट्रैवेल और टूरिज्म फेयर 2023 शुरू, तेजस्वी ने बोले- बिहार में घूमे बिना देश को जानना संभव नहीं

तेजस्वी ने कहा कि कम संसाधन में भी हम बेहतर कर रहे हैं। अगर बिहार को विशेष पैकेज और विशेष राज्य का दर्जा मिल जाए तो बिहार देश के प्रमुख विकसित चार-पांच राज्यों की श्रेणी में होगा।

फोटो: IANS
फोटो: IANS
user

नवजीवन डेस्क

बिहार की राजधानी पटना में शनिवार से दो दिवसीय ट्रैवेल और टूरिज्म फेयर 2023 की शुरुआत हो गई। इसका उद्घाटन बिहार के उपमुख्यमंत्री सह पर्यटन मंत्री तेजस्वी प्रसाद, उद्योग मंत्री समीर कुमार महासेठ, पर्यटन विभाग के सचिव अभय कुमार सिंह, पर्यटन निगम के निदेशक नंदकिशोर ने संयुक्त रूप से दीप प्रज्वलित कर किया।

समारोह को संबोधित करते हुए उपमुख्यमंत्री ने कहा कि बिहार ने पर्यटन क्षेत्र में 2019 में पर्यटकों की संख्या 3.5 करोड़ से छलांग लगाकर 2023 में अब तक लगभग 5.75 करोड़ तक पहुंच गई है। जो पर्यटक यहां आते हैं उन्हें हम कैसे 4 से 5 दिनों तक बिहार में रोक सकें, ये हमारी चुनौती है।

उपमुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य सरकार का धार्मिक, रामायण, बुद्ध, जैन, सिख और अन्य सर्किट पर ध्यान है। उन्होंने भरोसा देते हुए कहा कि बिहार जल्द ही अपनी नई पर्यटन नीति लॉन्च करेगा। बिहार में जब तक आप घूमेंगे नहीं तब तक देश को जानना असंभव है। बिहार न केवल धार्मिक बल्कि आध्यात्मिक रूप से कई पर्यटकीय स्थलों का संगम है। कुछ लोग बिहार को बदनाम करने का काम कर रहे। बिहार की छोटी घटनाओं को भी बढ़ा कर पेश किया जाता है, जिससे बिहार की छवि धूमिल हो रही है।


तेजस्वी ने कहा कि कम संसाधन में भी हम बेहतर कर रहे हैं। अगर बिहार को विशेष पैकेज और विशेष राज्य का दर्जा मिल जाए तो बिहार देश के प्रमुख विकसित चार-पांच राज्यों की श्रेणी में होगा। उन्होंने कार्यक्रम की तरीफ करते हुए कहा कि ऐसे आयोजन हर साल होने चाहिए, इससे पर्यटन को बढ़ावा मिलेगा। राज्य के इतिहास के बारे में हम लोगों को अधिक से अधिक बता सकेंगे।

बिहार के उद्योग मंत्री समीर कुमार महासेठ ने कहा कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की सोच को उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव आगे बढ़ा रहे हैं। बिहार में पर्यटन के क्षेत्र में विकास हो रहा है। रामायण सर्किट, बुद्ध सर्किट पर विकास कार्य हो रहा है। आज लोग बिहार को बढ़ता बिहार के नाम से जानते हैं।

पर्यटन विभाग के सचिव अभय कुमार सिंह ने कहा कि बिहार पर्यटन क्षेत्र में बिजनेस टू बिजनेस जुड़ाव को बढ़ाना चाहता है। पारंपरिक संभावनाओं के अलावा, राज्य ने साहसिक खेलों और इको-टूरिज्म में नई प्रगति की है। धार्मिक पर्यटन को बढ़ावा देने के साथ ही दूसरे क्षेत्र में भी काम कर रहे हैं।


उन्होंने कहा कि पश्चिमी चंपारण में वाटर स्पोर्ट्स का विकास हो रहा है। राज्य में छह नई जगहों पर जल्द ही इसकी शुरूआत होगी। कैमूर और रोहतास की पहाड़ियों में एडवेंचर स्पोर्स्टस के विकास पर पर्यटन विभाग काम कर रहा है।

तेजस्वी यादव ने पर्यटन विभाग की पुस्तक रेडी रेकनर 2.0 और विपसना पर केंद्रित पोस्टर धम्म बिहार का विमोचन किया। इस कार्यक्रम में बिहार समेत 10 राज्यों के पर्यटन, आतिथ्य, ऑपरेटर और ट्रैवल क्षेत्र के प्रतिनिधि और टूर ऑपरेटर भाग ले रहे हैं। कार्यक्रम में तीन देशों नेपाल, श्रीलंका और बांग्लादेश के व्यापारिक प्रतिनिधि भी हिस्सा ले रहे हैं।

आईएएनएस के इनपुट के साथ

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


;