अयोध्या में मस्जिद निर्माण के लिए ट्रस्ट खोलेगा बैंक खाते, अस्पताल, सामुदायिक रसोईघर और पुस्तकालय भी बनेगा

अयोध्या में मस्जिद के निर्माण के लिए सुन्नी वक्फ बोर्ड द्वारा गठित ट्रस्ट इंडो-इस्लामिक कल्चरल फाउंडेशन (आईआईसीएफ) अब दान लेने के मकसद से दो बैंक खाते खोलेगा। ट्रस्ट एक ऐसी वेबसाइट भी बनाएगा, जिसमें ऑनलाइन डोनेशन लेने के लिए एक इनबिल्ट गेटवे भी होगा।

फोटो: IANS
फोटो: IANS
user

आईएएनएस

अयोध्या में मस्जिद के निर्माण के लिए सुन्नी वक्फ बोर्ड द्वारा गठित ट्रस्ट इंडो-इस्लामिक कल्चरल फाउंडेशन (आईआईसीएफ) अब दान लेने के मकसद से दो बैंक खाते खोलेगा। ट्रस्ट एक ऐसी वेबसाइट भी बनाएगा, जिसमें ऑनलाइन डोनेशन लेने के लिए एक इनबिल्ट गेटवे भी होगा।

ट्रस्ट के सचिव अतहर हुसैन ने कहा, "ट्रस्ट ने दान प्राप्त करने के लिए निजी क्षेत्र के दो बैंकों में खाते खोलने का फैसला किया है। दोनों ही चालू खाते होंगे। सुप्रीम कोर्ट के फैसले का अनुपालन करते हुए ट्रस्ट अयोध्या जिले के धनीपुर गांव में वक्फ बोर्ड को अलॉट की गई 5 एकड़ जमीन में एक मस्जिद, एक अस्पताल, सामुदायिक रसोईघर और एक पुस्तकालय का निर्माण करेगा।"

उन्होंने कहा कि एक वित्तीय अधिकारी को भी ऑडिट के लिए नियुक्त किया गया है और प्राप्त धनराशि का रिकॉर्ड रखा जाएगा। उन्होंने आगे कहा, "यहां तक कि हम गैर-मुसलमानों का भी दान देने के लिए स्वागत करते हैं। प्रस्तावित मस्जिद और अन्य सार्वजनिक सुविधाओं के लिए दान करने के इच्छुक लोगों के कॉल हमारे पास पहले से ही आ रहे हैं।" बता दें कि इस ट्रस्ट का गठन नौ सदस्यों के साथ किया गया था और अब जल्द ही इसमें छह और सदस्यों को जोड़ा जाएगा।

Published: 12 Aug 2020, 2:00 PM
लोकप्रिय
next