यूपी: मथुरा के बरसाना में योगी आदित्यनाथ की होगी होली, किसान की फसल काटकर बनाया गया सीएम के लिए हेलीपैड

बरसाना में सीएम योगी के कार्यक्रम को सफल बनाने के लिए मंत्री और आलाधिकारी इस कदर उतावले हैं कि उन्होंने किसान नरेंद्र कुमार भारद्वाज की जीविका की परवाह तक नहीं की।

फोटो: सोशल मीडिया 
फोटो: सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ अपने मंत्रियों के साथ दो दिन के लिए मथुरा के बरसाने की लट्ठमार होली और ब्रज संस्कृति का आनंद उठाने के लिए आ रहे हैं। इसके लिए तैयारी जोर-शोर पर चल रही हैं। बरसाना में सीएम योगी के कार्यक्रम को सफल बनाने के लिए मंत्री और आलाधिकारी इस कदर उतावले हैं कि उन्होंने किसान नरेंद्र कुमार भारद्वाज की जीविका की परवाह तक नहीं की। उन्हें अपनी बगैर तैयार फसल को काटने के लिए मजबूर किया गया, ताकि सीएम योगी आदित्यनाथ के उड़नखटोले के लिए हेलीपैड बनाया जा सके। मामले को बढ़ता देख कैबिनेट मंत्री और छाता क्षेत्र से विधायक लक्ष्मीनारायण चौधरी ने मुआवजा देने की बात कही है।

किसान नरेंद्र कुमार भारद्वाज ने जीतोड़ मेहनत कर जिस फसल को उगाया था, योगी आदित्यानाथ के आने की वजह अपनी खड़ी फसल पकने से पहले ही काटनी पड़ी। अपनी मेहनत की कमाई के यूं बर्बाद होने से उन पर मुसीबतों का पहाड़ टूट पड़ा है। किसान नरेंद्र कुमार भारद्वाज ने कहा, “मेरी फसल इसलिए काटी गई, ताकि उस खेत में सीएम योगी आदित्यनाथ का उड़नखटोला उतर सके। मैंने 60 हजार रुपये में मैंने 5 एकड़ जमीन लीज पर ली है।”

अप्रैल, 2018 में उनकी बेटी की शादी है और उनके पास आय का कोई दूसरा जरिया नहीं है।

उन्हें मुआवजे के लिए कई बार प्रशासनिक अधिकारियों के चक्कर लगाने पड़े।

सीएम योगी 24 फरवरी को बरसाना स्थित श्रीराधा बिहारी इंटर कालेज के मैदान में सभा को सम्बोधित करेंगे। हेलीपैड बनाने के लिए कॉलेज ग्राउंड के बराबर वाला खेत तैयार किया गया है जिसमें किसान नरेंद्र कुमार भारद्वाज ने फसल तैयार की थी।

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


;