एक हफ्ते में दूसरी बार दुर्घटना का शिकार हुई ‘वन्दे भारत एक्सप्रेस’, विंडस्क्रीन और खिड़कियां टूटीं

वन्दे भारत एक्सप्रेस के बगल वाली पटरी से दूसरी ट्रेन के गुजरते समय ट्रेनों की पटरियों के बीच दूरी कम होने के कारण हवा का दबाव बढ़ गया और पटरियों पर पड़े कुछ कंकड़ तेज़ी के साथ ट्रेन से जा टकराए। जिसके बाद ट्रेन की खिड़कियों और विंडस्क्रीन को काफी नुकसान हुआ।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

लगभग एक हफ्ते पहले शुरू की गयी देश की पहली सेमी हाई स्पीड ट्रेन वन्दे भारत एक्सप्रेस एक बार फिर से दुर्घटना का शिकार हो गयी। घटना शनिवार शाम की है जब यह ट्रेन उत्तर प्रदेश के औरैया जिले के अछल्दा स्टेशन से होकर गुज़र रही थी। दरअसल तेज़ रफ्तार के कारण पटरियों पर पड़े हुए कुछ पत्थर इतनी तेज़ी से ट्रेन के विंड स्क्रीन से टकराए कि उसमें दरारें आ गईं। इसके अलावा ट्रेन की खिड़कियों को भी काफी नुकसान हुआ।

जानकारी के मुताबिक़ वन्दे भारत एक्सप्रेस के बगल वाली पटरी से डिब्रूगढ़ राजधानी के गुज़रते समय दोनों पटरियों के बीच की दूरी कम होने की वजह से हवा का दबाव बढ़ गया और पटरियों पर पड़े कुछ छोटे पत्थर हवा के तेज़ झोंखे के साथ वन्दे एक्सप्रेस से जा टकराए। जिसके बाद उसकी खिड़कियां टूट गयी और विंड स्क्रीन को काफी नुकसान हुआ।

हालांकि हादसे के बाद ट्रेन की जांच में पाया गया कि उसमें कोई भी अंदरूनी या तकनीकी खराबी नहीं आई है। इसके बाद ट्रेन को धीमी गति से चलाकर रात लगभग 11 बजे दिल्ली स्टेशन तक पहुंचाया गया। फिलहाल ट्रेन की टूट-फूट की मरम्मत की जा रही है ताकि यात्रियों को किसी भी तरह की परेशानी दिए बिना ट्रेन को अपने सही समय पर चलाया जा सके।

बता दें कि यह कोई पहला मामला नहीं है जब वन्दे एक्सप्रेस हादसे का शिकार हुई है। उद्घाटन के बाद यह दूसरा मौका है जब इस तरह की घटना सामने आई है। इससे पहले 20 फरवरी को प्रयागराज स्टेशन के पास मोटर साईकिल पर सवार एक युवक ट्रेन से टकरा गया था, जिसमें उसकी मोटर साईकिल पूरी तरह से तहस-नहस हो गयी थी और ट्रेन को भी हल्का-फुल्का नुक्सान हुआ था हालांकि इसमें बाइक सवार को कोई नुक्सान नहीं हुआ था।

लोकप्रिय
next