‘123456’ का अभी तक ‘पासवर्ड’ बनाने वाले हो जाएं सावधान, जानें कितना सुरक्षित है आपका अकाउंट

दुनिया भर के सबसे खराब और कमजोर पासवर्ड में 123456 पासवर्ड हैं। ये पासवर्ड इतने आसान और ईज़ी टु गेस होते हैं कि कोई भी इन्हें हैक कर सकता है।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

यदि आप डिवाइस में अभी भी पास कोड के रूप में ‘पासवर्ड’ और ‘123456’ का उपयोग कर रहे हैं, तो दुनिया की कुछ सबसे लोकप्रिय वेबसाइट्स पर दी गई असंगत और भ्रामक सलाह के रूप में अपने आप को दोष न दें।

नई रिसर्च के अनुसार, वास्तव में दुनिया की सबसे लोकप्रिय वेबसाइट्स अच्छा करने से अधिक नुकसान कर सकती हैं। अक्सर साइबर अपराधियों द्वारा उत्पन्न खतरों के खिलाफ यूजर्स के व्यक्तिगत डेटा को सुरक्षित रखने में मदद करने के लिए पासवर्ड अपराधियों को उपलब्ध कराया जाता है।

इंग्लैंड की प्लेमाउथ विश्वविद्यालय के एक अध्ययन ने यह बात सामने आई है कि 16 अंकों के पासवर्ड रखने वालों के आम लोगों के मुकाबले इस प्रकार के एनकाउंटर में पड़ने की अधिक संभानवा है। कंप्यूटर फ्रॉड एंड सिक्योरिटी में प्रकाशित शोध में कहा गया है कि विभिन्न वेबसाइटों में दी जाने वाली सलाह में भिन्नता है।


अध्ययन में कई मीटरों के द्वारा 16 पासवर्ड का परीक्षण किया गया, जिनमें से 10 को दुनिया के सबसे अधिक इस्तेमाल किए जाने वाले पासवर्ड (‘पासवर्ड’ और ’123456’ सहित) में स्थान दिया गया है।

सूचना सुरक्षा के प्रोफेसर स्टीव फर्नेल ने यह सुझाव दिया है कि “लोगो को बहुत कम उम्मीद करनी चाहिए कि उनका डेटा सुरक्षित रहेगा और, पासवर्ड के लिए प्रतिस्थापन की अनुपस्थिति में, उन्हें निरंतर और सूचित मार्गदर्शन प्रदान करना बेहतर सुरक्षा की तलाश में महत्वपूर्ण है।

हाल ही के दिनों में ब्रिटेन की नेशनल साइबर सिक्योरिटी सेंटर ने एक सर्वे किया था। इस ताजा सर्वे के मुताबिक लाखों करोड़ों यूजर्स अभी भी अपने अकाउंट के पासवर्ड के तौर पर 123456 यूज करते हैं। लगभग 23.2 मिलियन यूजर्स के पासवर्ड 123456 हैं, जबकि 7.7 मिलियन यूजर्स 123456789 रखते हैं। ये आंकड़े इस एजेंसी द्वारा जारी किए गए हैं।

(आईएएनएस के इनपुट के साथ)

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


Published: 21 Dec 2019, 5:19 PM