मदरसे को लेकर योगी सरकार का एक और फरमान, दूसरे धर्मों के त्योहारों पर मदरसों को बंद रखने का आदेश

योगी सरकार ने मदरसों को लेकर एक और नया फरमान दिया है। 2 जनवरी को यूपी सरकार ने दूसरे धर्मों के त्योहारों पर मदरसों को बंद रखने का आदेश दिया है और मदरसों के लिए छुट्टियों का नया कैलेंडर जारी किया है।

फोटो: सोशल मीडिया 
फोटो: सोशल मीडिया

नवजीवन डेस्क

योगी सरकार ने मदरसों को लेकर एक और नया फरमान जारी किया है। 2 जनवरी को योगी सरकार ने दूसरे धर्मों के त्योहारों पर मदरसों को बंद रखने का आदेश दिया है। योगी सरकार ने मदरसों के लिए छुट्टियों का कैलेंडर जारी किया है। इसमें मदरसों की पुरानी छुट्टियों में कटौती की गई है और कई नई छुट्टियों को जोड़ा गया है।

यूपी के मदरसों में अब दिवाली, दशहरा, बुद्ध पूर्णिमा और महावीर जयंती की छुट्टी रहेगी। अभी तक मदरसों में सिर्फ होली और अंबेडकर जयंती की छुट्टियां होती थीं। योगी सरकार ने 7 नई छुट्टियों को मदरसों के कैलेंडर में जोड़ा है। मदरसों को ईद और मुहर्रम के लिए मिलने वाली 10 विशेष छुट्टियों को घटाकर 4 कर दिया गया है यानी कोई भी मदरसा अब इन मौकों पर 4 दिन से ज्यादा छुट्टी नहीं दे सकता। मदरसों के अवकाश में कटौती कर इसे 92 के बजाय 86 दिन कर दिया गया है।

फोटो: सोशल मीडिया 
फोटो: सोशल मीडिया 
मदरसों के लिए छुट्टियों कैलेंडर 

इसके अलावा यूपी के सभी 16,461 मदरसों में कक्षाओं का समय भी तय किया गया है। सभी मदरसों में अब एक ही समय में कक्षाएं होंगी।

योगी सरकार का कहना है कि ये कैलेंडर दूसरे सभी सरकारी स्कूलों के अनुसार किया जा रहा है ताकि कहीं कोई भेदभाव न दिखाई दे।

मदरसों से जुड़े एक अधिकारी ने बताया कि वह इस प्रस्ताव से नाखुश हैं। इस्लामिक मदरसा मॉर्डनाइसेसन टीचर्स एसोसिएशन के अध्यक्ष एजाज अहमद ने बताया कि मदरसा धार्मिक संस्था है। उन्हें अल्पसंख्यकों के त्योहारों पर कई छुट्टियां चाहिए होती हैं। अगर दूसरे धर्म के त्योहारों पर छुट्टियों को जोड़ा जाता है तो उन्हें इससे कोई आपत्ति नहीं है, लेकिन उनकी त्योहारों के छुट्टियों में कटौती करना सही नहीं है।

इससे पहले योगी सरकार ने मदरसों को लेकर कई और फरमान भी जारी कर चुके है। योगी सरकार ने मदरसो में राष्ट्रगान को अनिवार्य कर दिया था। साथ ही स्वतंत्रता दिवस के दिन पूरे कार्यक्रम की वीडियो रिकॉर्डिंग करवाने का भी आदेश दिया था।

लोकप्रिय