"अरविंद केजरीवाल ने सत्ता के लिए अलगाववाद और खालिस्तान से जुड़े लोगों का लिया था साथ?" युवा कांग्रेस का प्रदर्शन

कवि कुमार विश्वास के अरविंद केजरीवाल पर लगाए गए आरोप पर सियासी घमासान मचा हुआ है। कांग्रेस इस मुद्दे को लगातार पकड़ी हुई है। इसी बीच भारतीय युवा कांग्रेस ने आज दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के खिलाफ सड़कों पर उतर प्रदर्शन किया।

फोटो: विपिन
फोटो: विपिन
user

नवजीवन डेस्क

कवि कुमार विश्वास के अरविंद केजरीवाल पर लगाए गए आरोप पर सियासी घमासान मचा हुआ है। कांग्रेस इस मुद्दे को लगातार पकड़ी हुई है। इसी बीच भारतीय युवा कांग्रेस ने आज दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के खिलाफ सड़कों पर उतर प्रदर्शन किया।

हालांकि इस प्रदर्शन के दौरान युवा कांग्रेस के कार्यकर्ताओं ने हाथों में मुख्यमंत्री के पोस्टर लेकर नारेबाजी करते नजर आए। भारतीय युवा कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्रीनिवास बी वी ने कहा कि, मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को 'आप' के संस्थापक सदस्य कुमार विश्वास ने बेनकाब कर दिया है। बीते दिन कुमार विश्वास ने दिल दहलाने वाला, सनसनीखेज, देश की सुरक्षा के साथ जुड़े तथ्य देश के सामने रखे हैं।


फोटो: विपिन
फोटो: विपिन
फोटो: विपिन
फोटो: विपिन

केजरीवाल अलगाववादियों के साथ मिलकर, देश के टुकड़े करने वाली ताकतों के साथ मिल कर, किसी भी हालत में पंजाब को अलग करके प्रधानमंत्री बनना चाहते थे। क्या अरविंद केजरीवाल खुद पंजाब का मुख्यमंत्री बनना चाहते थे? क्या अरविंद केजरीवाल ने सत्ता प्राप्ति के लिए अलगाववाद और खालिस्तान से जुड़े लोगों का साथ लिया था? क्या अरविंद केजरीवाल का ऐसे अलगाववादी संगठनों और समूहों के साथ कोई जुड़ाव है?

दरअसल आम आदमी पार्टी के पूर्व नेता और कवि कुमार विश्वास ने आप के प्रमुख अरविंद केजरीवाल पर बड़ा आरोप लगाते हुए कहा कि, एक दिन, केजरीवाल ने मुझसे कहा था कि, वह या तो (पंजाब के) मुख्यमंत्री बनेंगे या एक स्वतंत्र राष्ट्र (खालिस्तान) के पहले पीएम होंगे।

आईएएनएस के इनपुट के साथ

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


;