दुनिया

अमेरिका के वर्जीनिया की सरकारी बिल्डिंग में अंधाधुंध फायरिंग, अब तक 12 की मौत, 6 लोग घायल

अमेरिका के वर्जीनिया बीच में एक नगर पालिका कर्मचारी ने सरकारी बिल्डिंग के भीतर घुसकर मास शूटिंग की। इसमें 12 लोगों की मौत हो गई, जबकि 5 लोग घायल हुए हैं। बताया जा रहा है कि मरने वालों की संख्या बढ़ सकती है।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया

नवजीवन डेस्क

अमेरिकी राज्य वर्जीनिया के एक सरकारी इमारत में एक सामूहिक गोलीबारी में मरने वालों की संख्या 12 पहुंच गई है। जबकि इस हमले में 6 लोग घायल हुए हैं। पुलिस ने कहा कि संदिग्ध, वर्जीनिया बीच सिटी म्युनिसिपल सेंटर का कर्मचारी हैं जिसने इमारत में अंधाधुंध गोलीबारी की। बंदूकधारी की पहचान सार्वजनिक नहीं की गई है, पुलिस ने जवाबी कार्रवाई की तो वह मारा गया। बीबीसी के मुताबिक, यह घटना शुक्रवार को स्थानीय समयानुसार शाम चार बजे के बाद हुई।

अमेरिका के वर्जीनिया की सरकारी बिल्डिंग में अंधाधुंध फायरिंग, अब तक 12 की मौत, 6 लोग घायल

पुलिस प्रमुख जेम्स सेरवेरा ने कहा कि बंदूकधारी ने पुलिस अधिकारियों पर गोली चला दी जिसके बाद जवाबी कार्रवाई में वह मारा गया।

पुलिस के अनुसार गोलीबारी वर्जीनिया बीच की एक सरकारी इमारत में की गई। वारदात को अंजाम देने वाला संदिग्ध वर्जीनिया बीच के म्यूनिसिपल सेंटर का कर्मचारी है। एक कर्मचारी ने कहा कि जब वह गोली चला रहा था तो लोग अपने डेस्क पर बैठे थे और काम कर रहे थे। राज्य के गवर्नर राल्फ नॉर्थम ने कहा कि उनकी टीम हालात पर नजर बनाई हुई है।

अमेरिका के वर्जीनिया की सरकारी बिल्डिंग में अंधाधुंध फायरिंग, अब तक 12 की मौत, 6 लोग घायल

सेरवेरा ने पत्रकारों को बताया कि एक छह घायलों में एक पुलिस अधिकारी भी शामिल है। पुलिस ने कहा कि उनका मानना है कि बंदूकधारी ने अकेले ही इस घटना को अंजाम दिया लेकिन फिलहाल गोलीबारी का मकसद नहीं पता चल पाया है।

अमेरिका के वर्जीनिया की सरकारी बिल्डिंग में अंधाधुंध फायरिंग, अब तक 12 की मौत, 6 लोग घायल

बता दें कि अमेरिका में फायरिंग की घटनाएं थमने का नाम नहीं ले रही हैं। अभी हाल ही में डेंवर के एक स्कूल में फायरिंग में 1 बच्ची की मौत और 7 घायल हो गए थे। वहीं इससे पहले लॉस एंजेलिस में फायरिंग की एक घटना हुई थी, जिसमें एक रैपर की मौत हो गई थी।

अमेरिकी वेबसाइट ‘गन वायलेंस आर्काइव’ के मुताबिक, अमेरिका में इस साल सामूहिक गोलीबारी की यह 150वीं घटना है।

(आईएएनएस के इनपुट के साथ)

Published: 1 Jun 2019, 9:29 AM
लोकप्रिय