गाजा में 24 घंटे के अंदर 160 शव बरामद, अब तक 15,000 से फिलिस्तीनियों की मौत

7 अक्टूबर को युद्ध शुरू होने के बाद से, गाजा में 15,000 से अधिक फिलिस्तीनी मारे गए हैं, जिनमें लगभग 6,150 बच्चे और 4,000 महिलाएं शामिल हैं।

फोटो: IANS
फोटो: IANS
user

आईएएनएस

हमास द्वारा संचालित सरकारी मीडिया कार्यालय (जीएमओ) ने कहा कि बुधवार को बीते 24 घंटों में गाजा पट्टी में बचाव टीमों ने इजरायली हमलों में मारे गए फिलिस्तीनियों के कम से कम 160 शव बरामद किए हैं। समाचार एजेंसी शिन्हुआ की रिपोर्ट के अनुसार, जीएमओ ने कहा कि मैनुअल और प्राथमिक उपकरणों का उपयोग करविभिन्न स्थानों से शव बरामद किए गए।

24 नवंबर को जारी युद्ध विराम लागू होने के बाद से गाजा में हवाई हमले, गोलाबारी और जमीनी झड़पें काफी हद तक बंद हो गई हैं। कार्यालय ने यह भी कहा कि, 7 अक्टूबर को युद्ध शुरू होने के बाद से, गाजा में 15,000 से अधिक फिलिस्तीनी मारे गए हैं, जिनमें लगभग 6,150 बच्चे और 4,000 महिलाएं शामिल हैं।

जीएमओ हताहतों की संख्या की रिपोर्ट कर रहा है। गाजा में स्वास्थ्य मंत्रालय ने उत्तर में अस्पतालों में सेवाओं और संचार के पतन के बाद 11 नवंबर को काम करना बंद कर दिया था।

जैसा कि कथित तौर पर इजरायल और हमास द्वारा सहमति व्यक्त की गई थी, शुरुआती चार दिवसीय युद्ध विराम को मंगलवार से अतिरिक्त 48 घंटों के लिए बढ़ा दिया गया है।


मंगलवार को गाजा में बंधक बनाए गए 10 इजरायली और दो विदेशी नागरिकों और इजरायली जेलों में बंद 30 फिलिस्तीनी बंदियों को रिहा कर दिया गया। मुक्त कराए गए बंधकों में नौ महिलाएं और एक लड़की शामिल है। फिलिस्तीनी बंदियों में 15 महिलाएं और 15 लड़के थे।

विराम की शुरुआत के बाद से, 180 फिलिस्तीनियों, 61 इजरायलियों और 20 विदेशी नागरिकों को रिहा किया गया है। इजरायल ने कहा कि हमास के हमले में करीब 1200 लोग मारे गए जबकि 200 से ज्यादा लोगों को बंधक बना लिया गया।

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


;