मिस्र के कॉप्टिक चर्च में आग लगने से 41 की मौत, 14 लोग घायल, सुबह की जन सेवा के दौरान हुआ हादसा

इस घटना पर मिस्र के गृह मंत्रालय ने कहा कि चर्च की इमारत में एक एयर कंडीशनर में इलेक्ट्रिक शॉट सर्किट के कारण आग लग गई। मंत्रालय ने एक बयान में कहा कि बाद में आग पर काबू पा लिया गया। इस घटना में पांच नागरिक सुरक्षा कर्मी भी घायल हो गए।

फोटोः IANS
फोटोः IANS
user

नवजीवन डेस्क

मिस्र के कॉप्टिक ऑर्थोडॉक्स चर्च ने रविवार को घोषणा की कि काहिरा के पास गीजा में एक कॉप्टिक चर्च में आग लगने से कम से कम 41 लोगों की मौत हो गई है। स्वास्थ्य मंत्रालय के एक सूत्र ने डीपीए समाचार एजेंसी को मौतों की संख्या की पुष्टि की।

सूत्र ने नाम न छापने की शर्त पर कहा, "आग में घायल हुए कई लोगों के मारे जाने के बाद मृतकों की संख्या बढ़ गई है। समाचार एजेंसी ने बताया, कॉप्टिक चर्च ने कहा कि काहिरा के दक्षिणी किनारे पर गीजा शहर के अबो सेफीन चर्च में सुबह की जन सेवा के दौरान आग लग गई, जिसमें कम से कम 41 लोग मारे गए और 14 घायल हो गए।


इस घटना पर मिस्र के गृह मंत्रालय ने कहा कि चर्च की इमारत में एक एयर कंडीशनर में इलेक्ट्रिक शॉट सर्किट के कारण आग लग गई। मंत्रालय ने एक बयान में कहा कि बाद में आग पर काबू पा लिया गया। इस घटना में पांच नागरिक सुरक्षा कर्मी भी घायल हो गए।

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


;