दुनिया की 5 बड़ी खबरें: कोरोना को लेकर बड़ा खुलासा, जानें कहां से आया ये वायरस और इराक में हवाई हमले में 4 IS आतंकी ढेर

नए अध्ययनों से पता चला है कि कोविड-19 स्वाभाविक रूप से विकसित हुआ है और पहले की अपेक्षा यह कहीं अधिक व्यापक है। प्रांतीय पुलिस सूत्र ने कहा कि चरमपंथी इस्लामिक स्टेट (आईएस) समूह के चार आतंकवादी बुधवार को इराक के पूर्वी प्रांत दीयाला में हवाई हमले में मारे गए।

फोटो: IANS
फोटो: IANS
user

नवजीवन डेस्क

अमेरिका में कोरोना टीकाकरण ने रफ्तार पकड़ी

अमेरिका में कोविड-19 की तीसरी वैक्सीन का आपात स्थिति में उपयोग की मंजूरी मिलने के साथ राज्यों में कोरोनावायरस के फैलाव पर जल्द काबू पाने के लिए टीकाकरण में तेजी लाई जा रही है। समाचार एजेंसी सिन्हुआ ने बुधवार को बताया कि अमेरिकी खाद्य एवं औषधि प्रशासन (एफडीए) ने शनिवार को आपातकालीन उपयोग के लिए जॉनसन एंड जॉनसन के कोरोना वैक्सीन को अधिकृत किया है।

एक दिन बाद, यूएस सेंटर फॉर डिजीज कंट्रोल एंड प्रिवेंशन (सीडीसी) ने वैक्सीन को 18 साल और उससे अधिक उम्र के अमेरिकियों के लिए प्रशासित करने की सिफारिश की।

प्रारंभिक शिपमेंट राज्यों और टीकाकरण स्थलों तक पहुंचने के बाद जॉनसन एंड जॉनसन के कोरोना वैक्सीन की पहली खुराक मंगलवार को प्रशासित की गई।

कोविड-19 स्वाभाविक रूप से विकसित हुआ है : रिपोर्ट

नए अध्ययनों से पता चला है कि कोविड-19 स्वाभाविक रूप से विकसित हुआ है और पहले की अपेक्षा यह कहीं अधिक व्यापक है। यह बात एक मीडिया रिपोर्ट में सामने आई है। द वॉल स्ट्रीट जनरल ने सोमवार को कहा, "कम से कम हालिया चार अध्ययनों ने दक्षिण पूर्व एशिया और जापान में चमगादड़ और पैंगोलिन में महामारी के स्ट्रेन से संबंधित कोरोनावायरस की पहचान की है, यह संकेत है कि ये रोगजनकों पहले से ज्ञात के मुकाबले अधिक व्यापक और तेजी से फैलने वाले हैं और वायरस के विकसित होने का पर्याप्त अवसर है।"

समाचार पत्र के मुताबिक, एक अन्य अध्ययन में पाया गया है कि एक एमिनो एसिड में परिवर्तन - प्रोटीन बनाने के लिए एक ऑर्गेनिक यौगिक - वायरस के स्पाइक प्रोटीन पर वायरस को मानव कोशिकाओं को संक्रमित करने दे सकता है।

इसने कहा, "शोध के इन नवीनतम पीस से यह सबूत मिलता है कि वायरस, जिसे सार्स-कोव-2 कहा जाता है, संभवत: चमगादड़ों में उत्पन्न हुआ और फिर स्वाभाविक रूप से मनुष्यों को संक्रमित करने के लिए विकसित हुआ, संभवत: एक मध्यस्थ जानवर के माध्यम से।"


पाकिस्तान में 3 महीने बाद 1 दिन में कोरोना से 75 मौतें

पाकिस्तान में इस वर्ष कोरोनावायरस से एक दिन में सबसे अधिक मौतें दर्ज की गई हैं। देश में इस बीमारी से अब तक 13,000 से ज्यादा लोग जान गंवा चुके हैं। डॉन न्यूज ने 'नेशनल कमांड एंड ऑपरेशन सेंटर' (एनसीओसी) के हवाले से बताया कि एक ही दिन में 75 मरीजों ने वायरस से दम तोड़ दिया, इससे पहले एक दिन में सबसे ज्यादा 78 मौतें 21 दिसंबर, 2020 को हुई थी।

हालांकि, अस्पताल में भर्ती मरीजों की संख्या पिछले साल के नवंबर के स्तर तक गिर गई है, क्योंकि देश में 2,000 से कम संक्रमितों का इलाज हो रहा है। इसके अलावा, सक्रिय मामलों की संख्या, जो दिसंबर में 50,000 से अधिक थी, 3 मार्च तक गिरकर 16,648 हो गई।

मंगोलिया 1 मई से हवाई सीमा को फिर से खोलने की तैयारी में

कोरोनावायरस के कारण लगाए गए प्रतिबंधों के बाद मंगोलिया 1 मई से अपनी हवाई सीमा को फिर से खोलने की योजना बना रहा है, ताकि अंतर्राष्ट्रीय उड़ानें शुरू हो सकें। देश के प्रेस ऑफिस ने गुरुवार को एक बयान जारी कर कहा, "प्रधानमंत्री लुवासनमस्राइ ओयुन-एर्डेन द्वारा दिए गए निर्देश के अनुसार, 1 मई से बायंट-उखा अंतर्राष्ट्रीय हवाईअड्डे को फिर से शुरू करने की योजना है, ताकि अंतर्राष्ट्रीय हवाई यात्राएं फिर से शुरू हो सकें।"

बयान में आगे कहा गया है कि कोविड-19 संक्रमण को रोकने के लिए बॉर्डर कंट्रोल स्टॉफ का टीकाकरण और ग्लास बैरियर लगाने जैसे तमाम इंतजाम किए जा रहे हैं। बता दें कि मंगोलिया में फरवरी 2020 के दूसरे हफ्ते यात्री उड़ानों को निलंबित कर दिया गया था।


इराक में हवाई हमले में 4 आईएस आतंकी ढेर

प्रांतीय पुलिस सूत्र ने कहा कि चरमपंथी इस्लामिक स्टेट (आईएस) समूह के चार आतंकवादी बुधवार को इराक के पूर्वी प्रांत दीयाला में हवाई हमले में मारे गए। प्रांतीय समाचार एजेंसी अल-अल-सादी ने सिन्हुआ को बताया, "खुफिया रिपोर्टों के आधार पर, इराकी सेना के हेलीकॉप्टर गनशिप ने जलाला शहर के पास आईएस के ठिकाने पर बमबारी की, जो बगदाद से लगभग 135 किलोमीटर उत्तर-पूर्व में है, इस हवाई हमले में चार आईएस आतंकवादी मारे गए।"

दीयाला में बार-बार सैन्य अभियानों के बावजूद, आईएस आतंकवादियों के अवशेष अभी भी ईरान के साथ सीमा के पास कुछ बीहड़ क्षेत्रों में छिपे हुए हैं।

आईएएनएस के इनपुट के साथ

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia