दुनिया की 5 बड़ी खबरें: अमेरिका में राजनीतिक वायरस फैला रहा चीन और जानें कौन है तालिबान का नया चेहरा मुल्ला याकूब?

अमेरिकी प्रतिनिधि ने भाषण देते हुए चीन पर विश्व में महामारी फैलाने की जिम्मेदारी लेने का आरोप लगाया। कौन है मोहम्मद याकूब उर्फ मौलवी याकूब? कुछ साल पहले तक किसी ने इसका नाम नहीं सुना था।

फोटो : IANS
फोटो : IANS
user

रवि प्रकाश

चीन ने अमेरिका के राजनीतिक वायरस फैलाने के आरोप का खंडन किया


संयुक्त राष्ट्र संघ स्थित चीनी स्थाई उप प्रतिनिधि कंग श्वांग ने 9 सितंबर को संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद द्वारा आयोजित कोविड-19 महामारी के मुकाबले से जुड़ी वीडियो बैठक में गंभीर रूप से अमेरिका द्वारा चीन पर लगाये गये राजनीतिक बदनामी औ दुर्भावनापूर्ण आरोप का खंडन किया। उन्होंने बल देते हुए कहा कि अमेरिकी सरकार को समय और शक्ति अपनी जनता के शारीरिक स्वास्थ्य और जान की सुरक्षा को सुनिश्चित करने पर डालनी चाहिये।

उसी दिन संयुक्त राष्ट्र संघ ने वीडियो बैठक आयोजित कर कोविड-19 से जुड़े नंबर 2532 प्रस्ताव को लागू करने की स्थिति पर चर्चा की। अमेरिकी प्रतिनिधि ने भाषण देते हुए चीन पर विश्व में महामारी फैलाने की जिम्मेदारी लेने का आरोप लगाया। कंग श्वांग ने जल्द ही भाषण देकर इसका खंडन किया।

जोरदार धमाके के महीनेभर बाद, बेरूत पोर्ट पर लगी भीषण आग


लेबनान के बेरूत बंदरगाह में गुरुवार को भीषण आग लगने की घटना सामने आई है। इससे लगभग एक माह पहले बंदरगाह और इसके आस-पास का क्षेत्र जोरदार धमाके से दहल गया था। अल जजीरा की रिपोर्ट के अनुसार, आग लगने के कारणों का पता नहीं चल पाया है। आग की वजह से आसमान में काला धुंआ छा गया।

यहां 4 अगस्त को हुए विस्फोट में 191 लोगों की मौत हो गई थी और सैकड़ों लोग घायल हो गए थे। दरअसल बंदरगाह के वेयरहाउस में करीब सात साल से 2750 टन अमोनियम नाइट्रेट रखा हुआ था, जिसमें धमाका हो गया था।

दिवंगत अंतरिक्ष यात्री कल्पना चावला पर रखा गया आईएसएस बाउंड स्पेसक्राफ्ट का नाम


अमेरिकी एयरोस्पेस और रक्षा प्रौद्योगिकी कंपनी नॉथ्रेप ग्रुमैन ने दिवंगत अंतरिक्ष यात्री कल्पना चावला के नाम पर एक स्पेसक्राफ्ट का नाम रखा है। कल्पना चावला अंतरिक्ष में जाने वाली पहली भारतीय मूल की महिला थीं। स्पेसक्राफ्ट का नाम एस.एस. कल्पना चावला रखा जाएगा, यह इंटरनेशनल स्पेस स्टेशन (आईएसएस) तक कार्गो ले जाएगा।

कंपनी ने कहा, "पूर्व अंतरिक्ष यात्री कल्पना चावला के नाम पर एनजी -14 सिग्नस स्पेसक्राफ्ट का नाम रखने को लेकर नॉथ्र्राॅप ग्रुमैन को गर्व है।"

सिग्नस स्पेसक्राफ्ट 'एस.एस. कल्पना चावला' को ले जाने वाले एंटेरास रॉकेट का प्रक्षेपण 29 सितंबर को वर्जीनिया के वॉलॉप्स द्वीप से होने वाला है।

क्या बदल रहा है तालिबान का चेहरा- कौन है मुल्ला याकूब?

कौन है मोहम्मद याकूब उर्फ मौलवी याकूब? कुछ साल पहले तक किसी ने इसका नाम नहीं सुना था। 2015 में तालिबान ने अपने सुप्रीम कमांडर अमीर मुल्ला मोहम्मद उमर की मौत का ऐलान किया था। उसमें कहा गया था कि मुल्ला उमर पाकिस्तान के पेशावर में 2013 से ही बीमार थे। क्या बीमारी थी, कब से बीमार थे, कब मरे, इसका इसका कोई खुलासा नहीं हुआ।

उसी समय पहली बार तालिबान के एक आंख वाले अमीर, मुल्ला उमर का बेटा मोहम्मद याकूब सामने आया था। उसने लोगों को भरोसा दिलाया कि उसके पिता की मौत के पीछे कोई साजिश नहीं थी। उसने अपने पिता का हवाला देते हुए तमाम तालिबानी नेताओं से एकता बनाए रखने की गुजारिश की थी। उसके बाद कुछ सालों तक वह गायब रहा। लोगों की निगाहों से दूर जरूर था लेकिन याकूब का रुतबा तालिबान के अंदरुनी खेमे में बढ़ता जा रहा था।

वैक्सीन सुरक्षा पर सरकारी विशेषज्ञों ने अमेरिकियों को किया आश्वस्त

एक वॉलेंटियर द्वारा बीमारी की शिकायत किए जाने के बाद एस्ट्राजेनेका ने अपनी संभावित कोविड-19 वैक्सीन के अंतिम परीक्षण को स्थगित कर दिया है। इसके कुछ ही घंटे बाद व्हाइट हाउस के कोरोनावायरस टास्क फोर्स में शामिल अमेरिका के शीर्ष चिकित्सा विशेषज्ञों ने वादा किया कि वे तभी वैक्सीन की घोषणा करेंगे, जब वह पूरी तरह से सुरक्षित होगी।

नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ हेल्थ के निदेशक फ्रांसिस कोलिन्स ने वैक्सीन की सुरक्षा पर सीनेट की सुनवाई में कहा, "जैसे ही वे कहेंगे कि यह प्रभावी है, मैं काम करने के लिए पूरी तरह तैयार रहूंगा। अमेरिका के सर्जन जनरल जेरोम एडम्स ने कहा कि साथ भी पूरी तरह से जनता के बीच पहला प्रहार सहने के लिए भी तैयार हैं।"

एनआईएच प्रमुख और अमेरिकी सर्जन जनरल ने अमेरिकियों को आश्वस्त करने की मांग की कि शॉट्स को विकसित करने में सुरक्षा को लेकर 'कोई समझौता नहीं' किया जाएगा।

आईएएनएस के इनपुट के साथ

लोकप्रिय
next