दुनिया की 5 बड़ी खबरें: अमेरिका में कोरोना का कहर 9/11 से भी घातक और स्पेन में कोविड-19 के एक दिन में 9,222 नए मामले

कोरोनावायरस से अमेरिका में होने वाली मौतों की संख्या 9/11 के आतंकी हमले में हुई मौतों की संख्या को पार कर गई है। स्पेन में मंगलवार को 9,222 नए मामले आए जो कि रविवार और सोमवार को आए नए मामलों 6,549 और 6,394 की तुलना में काफी ज्यादा हैं

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

स्पेन में कोविड-19 के एक दिन में 9,222 नए मामले

स्पेन के स्वास्थ्य अधिकारियों ने पुष्टि की है कि देश में कोरोनोवायरस के मामलों की कुल संख्या 94,417 हो गई है। मंगलवार को यहां 9,222 नए मामले आए जो कि रविवार और सोमवार को आए नए मामलों 6,549 और 6,394 की तुलना में काफी ज्यादा हैं। इतना ही नहीं, स्पेन ने पिछले 24 घंटों में 849 नई मौतें भी देखीं। यह आंकड़ा भी रविवार को हुई 838 मौतों से अधिक रहा। अब तक यहां कोरोनावायरस के कारण 8,189 मरीजों की मत्यू हो चुकी है।

समाचार एजेंसी सिन्हुआ की रिपोर्ट के अनुसार, मैड्रिड, अभी भी देश में सबसे ज्यादा प्रभावित शहर है, जिसमें मंगलवार तक 27,509 कोविड-19 मामले दर्ज किए गए और 3,603 मौतें हुईं।

विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) के आंकड़ों से पता चला है कि कोविड -19 संक्रमण की मंगलवार तक वैश्विक स्तर पर संख्या 33,193 मौतों के साथ 719,700 पॉजिटिव मामलों की हो गई है।

अमेरिका में कोरोना का कहर 9/11 से भी घातक, अबतक 4055 मौतें

कोरोनावायरस से अमेरिका में होने वाली मौतों की संख्या 9/11 के आतंकी हमले में हुई मौतों की संख्या को पार कर गई है। इसके बाद अमेरिकियों के मन में इस बीमारी के कारण होने वाली मौतों की संख्या पर सवाल उठ रहा है। अनुमान है कि अमेरिका में इस महामारी से मरने वालों की संख्या 100,000 से अधिक हो सकती है। इस संकट से निपटने में जुटे शीर्ष डॉक्टरों द्वारा महामारी के को लेकर अपने आंकड़े पेश करने के बाद मंगलवार को राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने अपनी ब्रीफिंग में कहा, "यह बहुत दर्दनाक है, दो सप्ताह बहुत दर्दनाक रहे।"

अमेरिका में कोविड-19 संक्रमण के कारण मरने वालों की संख्या 4,055 हो गई है, जबकि अबतक 188,578 लोग संक्रमित पाए गए हैं। कोरोना के कारण हुई मौतों की संख्या, अमेरिका पर हुए आतंकवादी हमले में हुई 2,977 मौतों से अधिक हो गई है। द्वितीय विश्वयुद्ध के बाद अमेरिका में यह सामूहिक मौतों की सबसे बड़ी संख्या है।

वांग यी और जयशंकर ने एक दूसरे को भेजा बधाई संदेश

चीन और भारत के बीच राजनयिक संबंध स्थापना की 70वीं वर्षगांठ के अवसर पर 1 अप्रैल को चीनी विदेश मंत्री वांग यी और भारतीय विदेश मंत्री एस. जयशंकर ने एक दूसरे को बधाई संदेश भेजा।

बधाई संदेश में वांग यी ने कहा कि भारत सबसे पहले नए चीन के साथ राजनयिक संबंध स्थापित करने वाले देशों में से एक है। गत पचास के दशक में चीन और भारत ने समान रूप से शांतिपूर्ण सह-अस्तित्व के पांच सिद्धांतों की वकालत की, जिससे नए तरह के अंतर्राष्ट्रीय संबंधों की स्थापना को बढ़ावा देने के लिए ऐतिहासिक योगदान किया गया। इधर के वर्षों में दोनों देशों के नेताओं के समान मार्गदर्शन में चीन भारत संबंधों का निरंतर विकास हो रहा है, जिसने क्षेत्रीय और अंतर्राष्ट्रीय मामलों में रचनात्मक भूमिका निभाई है। चीन भारत के साथ मिलकर रणनीतिक विश्वास, व्यवहारिक सहयोग को आगे बढ़ाना चाहता है, ताकि नए युग में दोनों देशों के बीच रणनीतिक साझेदार संबंधों को आगे बढ़ाया जा सके।

महामारी की रोकथाम और सामाजिक विकास कार्य बढ़ाना चाहिए : शी चिनफिंग

चीनी राष्ट्रपति शी चिनफिंग ने 1 अप्रैल को सुबह चच्यांग प्रांत की कार्य रिपोर्ट सुनी और प्रशंसा की। उन्होंने कहा कि कठिन प्रयास के बाद चीन में महामारी की रोकथाम और नियंत्रण की स्थिति लगातार अच्छी दिशा में बढ़ रही है। अब चीन में विदेशों से मामले आने का खतरा बढ़ा है। हमें फिर भी सतर्कता कायम रखनी चाहिए। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि अब सामाजिक विकास कार्य बढ़ाना चाहिए।

शी चिनफिंग ने 29 मार्च से 1 अप्रैल तक दक्षिण-पूर्वी चीन के चच्यांग प्रांत के निंगपो, हूचो और हांगचो शहर जाकर बंदरगाह, उद्यम, गांव और पारिस्थितिकी आद्र्रभूमि आदि क्षेत्रों में कोविड-19 की रोकथाम की स्थिति में आर्थिक और सामाजिक विकास के काम का निरीक्षण किया।

चीन में लॉकडाउन ने 7 लाख लोगों को संक्रमित होने से बचाया

कोरोनावायरस महामारी के पहले 50 दिनों के दौरान चीन द्वारा उठाए गए कदमों से देशभर में सात लाख से अधिक लोग संक्रमित होने से बच गए। शोधकर्ताओं का दावा है कि चीन द्वारा वायरस को नियंत्रित करने के उपायों से संक्रमण के वुहान से बाहर अन्य शहरों में पहुंचने में काफी समय लगा और देश भर में आवाजाही प्रतिबंधित करने से सात लाख से अधिक संक्रमणों को रोका जा सका।

साइंस जर्नल में प्रकाशित अध्ययन उन देशों के लिए उपयोगी हो सकता है, जो अभी भी कोविड-19 महामारी के शुरुआती चरणों में हैं।

ब्रिटेन में ऑक्सफोर्ड विश्वविद्यालय के शोधकर्ता क्रिस्टोफर डाई ने कहा, महामारी के 50 दिन (19 फरवरी) तक चीन में पुष्टि हुए मामलों की संख्या लगभग 30,000 थी। हमारे विश्लेषण से पता चलता है कि वुहान यात्रा प्रतिबंध और राष्ट्रीय आपातकालीन प्रतिक्रिया के बिना उस तारीख तक वुहान में 700,000 से अधिक कोविड-19 मामलों की पुष्टि होती।

आईएएनएस के इनपुट के साथ

लोकप्रिय