दुनिया की 5 बड़ी खबरें: फेसबुक ने 22 लाख संदिग्ध विज्ञापन हटाए और पाक ने ट्रेवल ब्लैकलिस्ट से 5,807 नाम हटाए

फेसबुक और इंस्टाग्राम पर 22 लाख से अधिक विज्ञापनों और 120,000 पोस्ट को कंपनी ने हटा लिया है। पाकिस्तान ने संबंधित एजेंसियों और विभागों से संपर्क करने के बाद अपने ट्रेवल ब्लैकलिस्ट से 5,807 लोगों के नाम हटा दिए हैं।

फोटो : IANS
फोटो : IANS
user

नवजीवन डेस्क

फेसबुक ने अमेरिकी चुनाव से पहले 22 लाख संदिग्ध विज्ञापन हटाए


सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म फेसबुक और इंस्टाग्राम पर 22 लाख से अधिक विज्ञापनों और 120,000 पोस्ट को कंपनी ने हटा लिया है, जिनमें 3 नवंबर को होने वाले अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव में बाधा डालने का प्रयास किया गया था। फेसबुक के प्रमुख निक क्लेग ने रविवार को यह खुलासा किया।

फ्रांसीसी मीडिया आउटलेट जर्नल डु डिमांचे को दिए एक साक्षात्कार में, क्लेग ने बताया कि कंपनी ने तीसरे पक्ष स्वतंत्र मीडिया द्वारा सत्यापित 15 करोड़ फर्जी खबरों पर चेतावनी पोस्ट की। उन्होंने साक्षात्कार में कहा, "हम फुलप्रूफ नहीं हैं, और हम सभी गलत जानकारी या घृणित सामग्री को कभी भी नहीं हटाएंगे या पहचान नहीं करेंगे। लेकिन हमारी चुनावी रणनीति, हमारी टीम और हमारी तकनीकें लगातार सुधार कर रही हैं।" क्लेग ने कहा, "हमने इस चुनाव के लिए जो कुछ किया है वह अभूतपूर्व है। फेसबुक 2016 की तुलना में आज बेहतर तरीके तैयार है।"

न्यूयॉर्क में 25 फीसदी की क्षमता के साथ खुल रहे सिनेमाघर : कुओमो

न्यूयॉर्क सिटी को छोड़कर राज्य में सिनेमाघरों को 23 अक्टूबर से खोलने की इजाजत दे दी गई है। ये थिएटर्स 25 प्रतिशत क्षमता के साथ खोले जाएंगे यानी इस दौरान केवल 50 लोगों को ही एक साथ फिल्म देखने की इजाजत होगी। राज्य के गवर्नर एंड्रयू क्यूमो ने यह बात कही। शनिवार को क्यूमो के हवाले से सिन्हुआ समाचार एजेंसी ने अपनी रिपोर्ट में कहा, इस दौरान केवल उन्हीं काउंटियों में ही सिनेमाघरों को खोलने की अनुमति दी जाएगी, जहां औसतन पिछले 14 दिनों में कोविड-19 की सकारात्मकता दर 2 फीसदी से नीचे रही है और जिन जगहों में कोई कंटेनमेंट जोन नहीं है।

पाकिस्तान ने ट्रेवल ब्लैकलिस्ट से 5,807 नाम हटाए


पाकिस्तान ने संबंधित एजेंसियों और विभागों से संपर्क करने के बाद अपने ट्रेवल ब्लैकलिस्ट से 5,807 लोगों के नाम हटा दिए हैं। पाकिस्तानी गृह मंत्रालय ने यह घोषणा की। डॉन की रिपोर्ट के अनुसार, गृहमंत्री सेवानिवृत्त ब्रिगेडियर एजाज अहमद शाह ने उन नागरिकों की समस्या को संज्ञान में लिया, जिनका नाम लंबे समय से ब्लैकलिस्ट में शामिल था, जिसके बाद शनिवार को यह निर्णय लिया गया।

उसके बाद उन्होंने इमीग्रेशन एंड पासपोर्ट्स महानिदेशक से तत्काल समीक्षा समिति की बैठक बुलाने और मेरिट के आधार पर मामले को देखने और नाम हटाने के आदेश दिए। उसके बाद, समिति ने ब्लैकलिस्ट के वर्ग बी में शामिल नागरिकों के नामों की समीक्षा की और 42,725 लोगों की सूची में से 5807 लोगों के नामों को हटाने की सिफारिश की। इन नामों को संबंधित अधिकारी की ओर से हटा दिया जाएगा।

गुटरेस ने गरीबी में फंसे लोगों के साथ खड़े होने का किया आह्वान


17 अक्टूबर को गरीबी उन्मूलन अंतर्राष्ट्रीय दिवस था। संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंटोनियो गुटरेस ने भाषण देते हुए अंतर्राष्ट्रीय समुदाय से महामारी के दौरान और बाद में गरीबी में फंसे लोगों के साथ खड़े होने और आवश्यक सहायता प्रदान करने का आह्वान किया। गुटरेस ने कहा: दुनिया के सबसे गरीब लोगों के लिए कोविड-19 महामारी एक दोहरा संकट है। सबसे पहले, गरीबों का वायरस से संक्रमित होने का उच्चतम जोखिम होता है और अच्छी गुणवत्ता वाली देखभाल पाने का कम से कम मौका होता है। दूसरा, ताजा अनुमान है कि इस वर्ष महामारी के कारण 11.5 करोड़ लोग गरीबी में फंसेंगे, जो हाल के दशकों में दुनिया में गरीब लोगों की संख्या में पहली वृद्धि है। महिलाओं के नौकरी खोने की अधिक संभावना है और सामाजिक गारंटी प्राप्त करने की कम संभावना है। इसलिए उनके सामने जोखिम और अधिक है।

शरीफ राजकीय संस्थानों में फूट डालने की कोशिश कर रहे : इमरान

पाकिस्तान डेमोक्रेटिक मूवमेंट (पीडीएम) के नाम से 11 विपक्षी राजनीतिक दलों के सरकार-विरोधी गठबंधन द्वारा अभियान शुरू किए जाने के बाद प्रधानमंत्री इमरान खान ने पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ के एजेंडे के खिलाफ सख्त रवैया अपना लिया है। उन्होंने कहा, "पूर्व प्रधानमंत्री सेना, न्यायपालिका और सरकार में फूट डालना चाहते हैं।"

पीडीएम की गुजरांवाला में शुक्रवार को आयोजित पहली रैली के मद्देनजर आक्रामक प्रतिक्रिया देते हुए खान ने पूर्व प्रधानमंत्री पर वित्तीय भ्रष्टाचार के लिए जवाबदेही से बचने के प्रयास में दुश्मन के एजेंडे पर चलने का आरोप लगाया। साफ तौर पर गुस्से में नजर आए खान ने शरीफ को गीदड़ की उपाधि देते हुए उनका मजाक उड़ाया और कहा कि वह अपना दुम दबाकर लंदन भाग गए।

आईएएनएस के इनपुट के साथ

लोकप्रिय
next