दुनिया की 5 बड़ी खबरें: ऑनलाइन बेची जा रही नकली कोरोना वैक्सीन और जापान में बाहरी लोगों की एंट्री बंद

स्विट्जरलैंड के स्वास्थ्य नियामक स्विसमेडिक ने ऑनलाइन टीके खरीदने के खतरे की चेतावनी देते हुए कहा है कि फर्जी कोरोना वायरस वैक्सीन पहले से ही इंटरनेट पर बेचे जा रहे हैं। जापान ने कोरोनावायरस प्रसार के मद्देनजर बाहरी देश के लोगों के प्रवेश पर पाबंदी लगा दी है।

फोटो: IANS
फोटो: IANS
user

नवजीवन डेस्क

जापान में बाहरी देश के लोगों को नहीं मिलेगा प्रवेश की अनुमति


जापान के प्रधानमंत्री योशिहिदे सुगा ने बुधवार को कहा कि देश में कोरोनावायरस प्रसार के मद्देनजर किसी भी बाहरी देश के लोगों को यहां प्रवेश की अनुमति नहीं होगी। समाचार एजेंसी सिन्हुआ के रिपोर्ट अनुसार, अधिकांश प्रवेश को दिसंबर में निलंबित कर दिया गया था, हालांकि व्यापार पर आने वाले यात्रियों और कुछ देशों के कुछ छात्र कार्यक्रमों से जुड़े लोगों को कड़े प्रतिबंधों से छूट दी गई थी।

जापान नेता ने प्रेस वार्ता में कहा, "सभी अनिवासी विदेशी नागरिकों के लिए जापान की सीमाओं को 7 फरवरी तक बंद रखा जाएगा, क्योंकि ग्रेटर टोक्यो और अन्य क्षेत्रों में आपातकाल घोषित है।"

श्रीलंका में नए कोरोना वैरिएंट का पहला मामला सामने आया


श्रीलंका में कोविड -19 वायरस के नए वैरिएंट का पता चला है। यहां हाल ही में ब्रिटेन से आने वाले ब्रिटिश नागरिक को कोरोना के नए वैरिएंट से संक्रमित पाया गया है। स्वास्थ्य मंत्रालय की महामारी विज्ञान इकाई के प्रमुख महामारी विशेषज्ञ सुदथ समरवीरा ने बुधवार को यह जानकारी दी।

समाचार एजेंसी सिन्हुआ ने बताया कि द्वीपीय देश में नए वैरिएंट का यह पहला मामला है।समरवीरा ने कहा कि संक्रमित मरीज एक या दो सप्ताह पहले देश में आया था और आगे की जांच चल रही है।

दुबई में सड़क हादसा, 27 घायलों में कई भारतीय मजदूर भी


संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) के दुबई स्थित जेबेल अली औद्योगिक क्षेत्र में एक बस और ट्रक की टक्कर हो गई, जिसमें 27 मजदूर घायल हो गए, जिनमें कई भारतीय मूल के मजदूर शामिल हैं। पुलिस ने बुधवार को यह जानकारी दी। हालांकि अभी तक किसी के भी हताहत होने की सूचना नहीं है।

गल्फ न्यूज की रिपोर्ट के अनुसार, पुलिस ने बताया कि दुर्घटना सुबह लगभग 8.30 बजे हुई, जब बस एक इत्र कारखाने के श्रमिकों को उनके कार्यस्थल पर पहुंचा रही थी। घायलों को दुबई के नजदीकी निजी अस्पताल में ले जाया गया है। अस्पताल के सूत्रों का कहना है कि सभी घायल स्थिर हालत में हैं।

चीनी और मलेशियाई कंपनियों के बीच वैक्सीन समझौते पर हुए हस्ताक्षर


मलेशिया की सरकारी स्वामित्व वाली दवा कंपनी फरामनीगा ने 12 जनवरी को चीन की साइनोवैक कंपनी के साथ कोरोना वैक्सीन सहयोग समझौते पर हस्ताक्षर किये। समझौते के अनुसार साइनोवैक कंपनी मलेशिया के लिए अर्ध-तैयार वैक्सीन के 1.4 करोड़ डोज प्रदान करेगी और फरामनीगा कंपनी के साथ सहयोग कर मलेशिया में वैक्सीन के उत्पादन को पूरा करेगी। दोनों कंपनियों ने ऑनलाइन हस्ताक्षर किये। मलेशिया के रक्षा मंत्री इस्माइल साबरी याकूब, स्वास्थ्य मंत्री अधम बाबा, विज्ञान, शिल्प व नवाचार मंत्री खैरी जमालुद्दीन कुआलालंपुर में हस्ताक्षर समारोह में शामिल हुए।

ऑनलाइन बेची जा रही नकली वैक्सीन, स्विस नियामक ने दी चेतावनी


स्विट्जरलैंड के स्वास्थ्य नियामक स्विसमेडिक ने ऑनलाइन टीके खरीदने के खतरे की चेतावनी देते हुए कहा है कि फर्जी कोरोनावायरस वैक्सीन पहले से ही इंटरनेट पर बेचे जा रहे हैं। समाचार एजेंसी सिन्हुआ की रिपोर्ट के अनुसार, स्विसडेमिक ने मंगलवार को एक बयान में कहा कि कोरोनोवायरस के टीके की मांग बढ़ रही है, आपराधिक व्यक्ति और संगठन इंटरनेट पर नकली टीके देकर लोगों के डर का फायदा उठा रहे हैं।

बयान में कहा गया, "अवैध दवाओं और टीकों और विशेष रूप से कोविड-19 टीकों से जुड़े अपराध स्वास्थ्य और आबादी के जीवन के लिए एक गंभीर खतरा पैदा कर सकते हैं।"

उन्होंने कहा, "बहुत बार, वे जो उत्पाद पेश कर रहे हैं, वे नकली हैं जिनमें या तो कोई सक्रिय तत्व नहीं है या फिर ऐसे खतरनाक पदार्थ हैं जो लोगों के स्वास्थ्य को खतरे में डाल सकते हैं। कई मामलों में, अग्रिम भुगतान किया जाता है।"

आईएएनएस के इनपुट के साथ

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


लोकप्रिय
next