दुनिया की 5 बड़ी खबरें: पाक में नवाज की अपील पर 18 दिसंबर को सुनवाई, ईरान में विरोध प्रदर्शनों में 7000 लोग गिरफ्तार

इस्लामाबाद हाईकोर्ट ने शनिवार को पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ की अल-अजीजिया मामले में सजा के खिलाफ अपील सुनने के लिए 18 दिसंबर की तारीख तय की। ईरान में मध्य नवंबर से लेकर अब तक विरोध प्रदर्शनों में भाग लेने की वजह से 7,000 से अधिक लोगों को हिरासत में लिया गया है।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

अमेरिकी राजनयिकों पर चीन ने उठाया जवाबी कदम

अमेरिका द्वारा चीनी राजनयिकों पर लगाए गए प्रतिबंध के मद्देनजर चीन ने जवाबी कदम उठाते हुए अमेरिकी राजनयिकों पर प्रतिबंध का जवाबी कदम उठाया। चीनी विदेश मंत्रालय की प्रवक्ता ह्वा छूनइंग ने कहा कि इस वर्ष अक्टूबर में अमेरिकी राज्य परिषद ने अमेरिका स्थित चीनी राजनयिक कर्मियों पर प्रतिबंध लगाया। इसके जवाब में चीन ने 4 दिसंबर को चीन स्थित अमेरिकी दूतावास को नोट जारी किया कि उसी दिन से चीन ने अमेरिका के खिलाफ समान व्यवहार करना शुरू किया।

अल-अजीजिया मामले में नवाज की अपील पर सुनवाई 18 दिसंबर को

इस्लामाबाद हाईकोर्ट ने शनिवार को पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ की अल-अजीजिया मामले में सजा के खिलाफ अपील सुनने के लिए 18 दिसंबर की तारीख तय की। द एक्सप्रेस ट्रिब्यून की रिपोर्ट के अनुसार, रजिस्ट्रार कार्यालय ने बताया कि न्यायमूर्ति अमीर फारूक और न्यायमूर्ति मोहसिन अख्तर कियानी की एक डिवीजनल बेंच पाकिस्तान मुस्लिम लीग-नवाज (पीएमएल-एन) सुप्रीमो द्वारा दायर याचिका पर सुनवाई करेगी। अल-अजीजिया मामले में राष्ट्रीय जवाबदेही ब्यूरो (एनएबी) की अपील भी उसी दिन सुनी जाएगी।

ईरान में विरोध प्रदर्शनों में 7000 से ज्यादा गिरफ्तार : संयुक्त राष्ट्र

ईरान में मध्य नवंबर से लेकर अब तक विरोध प्रदर्शनों में भाग लेने की वजह से 7,000 से अधिक लोगों को हिरासत में लिया गया है। संयुक्त राष्ट्र ने यह बात कही। समाचार एजेंसी एफे के मुताबिक, संयुक्त राष्ट्र के मानवाधिकार कार्यालय के एक प्रवक्ता ने शुक्रवार जेनेवा में एक संवाददाता सम्मलेन में कहा कि भारी संख्या में प्रदर्शनकारियों को हिरासत में लेने के बावजूद देशभर में गिरफ्तारी जारी है।

पाकिस्तान : मानवाधिकार मंत्री ने डॉन के खिलाफ प्रदर्शन की निंदा की

पाकिस्तान की मानवाधिकार मंत्री शिरीन मजारी ने हाल के दिनों में इस्लामाबाद में समाचार पत्र डॉन के कार्यालयों के बाहर हुए हिंसक विरोध प्रदर्शनों की शनिवार को कड़ी निंदा की। डॉन न्यूज की रिपोर्ट के अनुसार, मजारी ने ट्वीट किया, "शांतिपूर्ण विरोध सभी का अधिकार है, लेकिन दूसरों को धमकियां देना स्वीकार्य नहीं हो सकता। मैं अक्सर डॉन की लाइन से असहमत होती हूं, लेकिन मैं डॉन के कार्यालयों के बाहर प्रदर्शनकारियों द्वारा हिंसा और धमकियों की कड़ी निंदा करती हूं।"

अमेरिका में शहीद सिख पुलिसकर्मी के नाम पर पोस्ट ऑफिस का नामकरण

अमेरिकी कांग्रेस में एक डेमोक्रेटिक महिला सदस्य ने प्रतिनिधिसभा में ह्यूस्टन स्थित एक पोस्ट ऑफिस का नाम टेक्सास के हेरिस काउंटी के पहले सिख डिप्टी संदीप सिंह धालीवाल के नाम पर रखने को लेकर एक बिल पेश किया है। संदीप सिंह धालीवाल की सितंबर में ड्यूटी के दौरान गोली मारकर हत्या कर दी गई थी। अमेरिकन बाजार की रिपोर्ट के अनुसार, इस बिल को टेक्सास से कांग्रेस सदस्य लिज्जी फ्लेचर ने गुरुवार को पेश किया। उन्होंने कहा कि 315 एड्डिक्स हॉवेल रोड पर स्थित पोस्ट ऑफिस का नाम 'डिप्टी संदीप सिंह धालीवाल पोस्ट ऑफिस' रखा जाएगा।

लोकप्रिय
next