दुनिया की 5 बड़ी खबरें: कोविड रोगी को मौत का कितना खतरा, इस टेस्ट से चल सकता है पता और आधे ऑस्ट्रेलिया में फिर से लॉकडाउन

अस्पताल में भर्ती कोविड संक्रमित मरीजों के दिल से जुड़ी समस्याओं को लेकर टेस्ट के जरिये इसका पता चल सकता है कि उनकी मौत को लेकर खतरा कितना गंभीर है। ऑस्ट्रेलिया की लगभग आधी आबादी कोविड के प्रकोप से निपटने के लिए नए सिरे से लॉकडाउन झेल रही है।

फोटो: IANS
फोटो: IANS
user

नवजीवन डेस्क

दिल से संबंधित टेस्ट से मिल सकता है कोविड रोगियों में मौत के जोखिम का संकेत : शोध

अस्पताल में भर्ती कोविड संक्रमित मरीजों के दिल से जुड़ी समस्याओं को लेकर टेस्ट के जरिये इसका पता चल सकता है कि उनकी मौत को लेकर खतरा कितना गंभीर है। हालांकि सार्स-सीओवी-2, कोविड-19 का कारण बनने वाला वायरस, मुख्य रूप से श्वसा नली को प्रभावित करता है, यह गंभीर अतालता, तीव्र कोरोनरी सिंड्रोम, मायोकार्डिटिस और फुफ्फुसीय अन्त: शल्यता सहित हृदय संबंधी जटिलताओं को भी जन्म देता है।

इटली में सालेर्नो विश्वविद्यालय के शोधकतार्ओं की एक टीम ने 1,401 रोगियों की जांच की, जिनमें कोविड की पुष्टि के बाद इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया था। लगभग 226 (16.1 प्रतिशत) ने प्रवेश के 48 घंटों के भीतर ट्रान्सथोरासिक इकोकार्डियोग्राफी करवाई। इनमें 68 रोगियों (30.1 प्रतिशत) में अस्पताल में मौत हुई।

सोमालिया में 40 से अधिक यात्रियों के साथ विमान हुआ दुर्घटनाग्रस्त

फोटो: IANS
फोटो: IANS

सोमालिया के गेडो क्षेत्र में 40 से अधिक यात्रियों को लेकर जा रहा एक विमान बुधवार को एक सैन्य अड्डे पर दुर्घटनाग्रस्त हो गया। अधिकारियों ने यह जानकारी दी। समाचार एजेंसी सिन्हुआ की रिपोर्ट के अनुसार, अधिकारियों ने कहा कि सोमालिया-केन्या सीमा से लगभग 15 किलोमीटर दूर सोमालिया के एलवाक, गेडो क्षेत्र के बुराहाचे सैन्य शिविर में नैरोबी से स्काईवर्ड उड़ान के दुर्घटनाग्रस्त होने के बाद यात्रियों को सुरक्षित निकाल लिया गया।

एक स्थानीय अधिकारी ने कहा, "इस घटना में किसी को चोट नहीं आई है।" विमान केन्या की राजधानी नैरोबी के विल्सन हवाईअड्डे से रवाना हुआ था और बुधवार सुबह पूर्वोत्तर केन्या के मंडेरा के लिए रवाना हुआ था, जब यह घटना हुई।


यूके, फ्रांस ने इंग्लिश चैनल क्रॉसिंग समझौते पर सहमति जताई

फोटो: IANS
फोटो: IANS

मीडिया ने अधिकारियों के हवाले से बताया कि फ्रांस ब्रिटेन के साथ एक समझौते के तहत अपने समुद्र तटों पर गश्त करने वाली पुलिस की संख्या को दोगुना कर देगा, ताकि अंग्रेजी चैनल को पार करने वाले प्रवासियों की संख्या को रोका जा सके। बीबीसी ने बुधवार को बताया कि मंत्रियों के बीच हुए समझौते के तहत ब्रिटेन 54 मिलियन पाउंड से अधिक का भुगतान करेगा।

गृह कार्यालय ने कहा कि दोनों देश खुफिया जानकारी साझा करने में भी सुधार करेंगे और क्रॉसिंग को व्यवस्थित करने वालों को लक्षित करने के लिए बेहतर तकनीक का उपयोग करेंगे।
इस साल चैनल पार करने वालों की संख्या अब पिछले साल से आगे निकल गई है। प्रवासियों के एक समूह को बुधवार की सुबह डोवर पहुंचते देखा गया, जिससे इस साल कुल संख्या 8,461 से अधिक हो गई, जिन्होंने 2020 में क्रॉसिंग की थी।

कोविड मामले बढ़ने के कारण आधे ऑस्ट्रेलिया में फिर से लॉकडाउन

फोटो: IANS
फोटो: IANS

ऑस्ट्रेलिया की लगभग आधी आबादी कोविड के प्रकोप से निपटने के लिए नए सिरे से लॉकडाउन झेल रही है। इससे देश में गुस्सा बढ़ रहा है। बहुत से लोगों ने महामारी में 18 महीने के अत्यधिक पुलिस नियंत्रण वाले लॉकडाउन में वापस आने पर निराशा व्यक्त की है। बीबीसी की रिपोर्ट के अनुसार, एक तिहाई राज्य, दक्षिण ऑस्ट्रेलिया, विक्टोरिया और न्यू साउथ वेल्स के कुछ हिस्सों में मंगलवार को लॉकडाउन लग गया। ऑस्ट्रेलिया में 14 प्रतिशत से भी कम लोगों को टीका लगाया गया है। यह ओईसीडी देशों में सबसे खराब रेटिंग है।

ऑस्ट्रेलिया के दो सबसे बड़े शहर, सिडनी और मेलबर्न को अनिश्चितता का सामना करना पड़ रहा है कि उनको कब दोबारा खोला जाए। यूके और यूएस में फिर से खुलने से संघीय सरकार पर दबाव बढ़ गया है।


टेस्ला इस साल अपने सुपरचार्जर को अन्य इलेक्ट्रिक वाहनों के लिए खोलेगा: एलन मस्क

फोटो: IANS
फोटो: IANS

टेस्ला के सीईओ एलन मस्क के मुताबिक उनकी कंपनी इस साल के अंत में अपने सुपरचार्जर नेटवर्क को अन्य इलेक्ट्रिक वाहनों के लिए खोल रही है। मस्क के अनुसार, टेस्ला ने अपना कनेक्टर बनाया है, क्योंकि तब कोई मानक नहीं था और टेस्ला लंबी दूरी की इलेक्ट्रिक कारों का एकमात्र निर्माता था।

मस्क ने आपने ट्विटर पर लिखा है , यह लो और हाई पावर चाजिर्ंग दोनों के लिए काफी स्लिम कनेक्टर है। उन्होंने कहा कि, हम इस साल के अंत में अपने सुपरचार्जर नेटवर्क को अन्य ईवी के लिए खोल रहे हैं।

आईएएनएस के इनपुट के साथ

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia