दुनिया की 5 बड़ी खबरें: नेपाल ने लिपुलेख की जमीन फिर जताया हक और 72 लाख के पार पहुंचा कोरोना का वैश्विक आंकड़ा

नेपाल के प्रधानमंत्री केपी शर्मा ओली ने एक बयान में कहा कि 'लिम्पियाधुरा, लिपुलेख और कालापानी विवादित भूमि है, जिसका पूरा भूगोल ही भारत के कब्जे में है। कालापानी में भारतीय सेना रख कर वहां से लिपुलेख और लिम्पियाधुरा पर भारत ने कब्जा कर लिया है।'

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

नेपाल के प्रधानमंत्री बोले- लिपुलेख की जमीन हमारी, इसे लौटाए भारत सरकार

नेपाल के प्रधानमंत्री केपी शर्मा ओली ने एक बयान में कहा कि 'लिम्पियाधुरा, लिपुलेख और कालापानी विवादित भूमि है, जिसका पूरा भूगोल ही भारत के कब्जे में है। कालापानी में भारतीय सेना रख कर वहां से लिपुलेख और लिम्पियाधुरा पर भारत ने कब्जा कर लिया है।'

नेपाल के प्रधानमंत्री ओली ने कहा, सेना रख कर हमसे हमारी जमीन छीनी गई है। जब तक वहां भारतीय सेना की मौजूदगी नहीं थी, तब तक वह जमीन हमारे पास ही थी। सेना रखने के कारण हम उधर नहीं जा सकते हैं. एक प्रकार से कहा जाए तो यह कब्जा है। इस कारण हम बार-बार अपने मित्रराष्ट्र भारत से कह रहे हैं कि वह जमीन हमारी है। हमें हमारी जमीन वापस चाहिए। प्रमाण के आधार पर, ऐतिहासिक तथ्यों के आधार पर हमारी जमीन वापस करनी होगी।

नेपाल में टिप्पर ट्रक नदी में गिरा, 30 लोग लापता

नेपाल में बुधवार सुबह एक टिप्पर ट्रक (डम्पर) कर्णाली नदी में जा गिरा, जिससे ट्रक में सवार कम से कम 30 लोग लापता हो गए। टिप्पर ट्रक में 50 लोग भारत से नेपाल के कालीकोट जिले के रसकोट नगरपालिका के क्वारंटीन केद्र के लिए जा रहे थे।

हिमालयन टाइम्स ने एक स्थानीय निवासी, दिल बहादुर शाही के हवाले से कहा कि टिप्पर ट्रक लालघाट सड़क पर फिसल गया, जिससे ट्रक अनियंत्रित होकर कर्णाली नदी में जा गिरा।

घटना के तुरंत बाद, मौके पर पुलिस पहुंच गई, जिसके बाद खोज और बचाव कार्य शुरू कर दिया गया। पुलिस ने कहा कि इस दुर्घटना की वजह ओवरलोडिंग हो सकती है।


अफगानिस्तान में कोयला खदान में विस्फोट, 16 लोगों की मौत

अफगानिस्तान के उत्तरी समांगन प्रांत के दारा-ए-सूफ बाला जिले में एक कोयला खदान में हुए विस्फोट से कम से कम 16 लोगों की मौत हो गई। इसकी जानकारी पुलिस ने बुधवार को दी। प्रांतीय पुलिस प्रमुख सफीउल्लाह ने सिन्हुआ को बताया, "यह दुखद घटना मंगलवार दोपहर को हुई। जिसमें से अब तक छह लोगों के शव बरामद कर लिए गए हैं और शेष 10 लोगों के शव को निकालने के लिए अभियान चलाया जा रहा है।"

इस बीच, स्थानीय लोगों ने कहा कि विस्फोट के दौरान वहां 30 से अधिक मजदूर मौजूद थे।

हालांकि, उप प्रांतीय गवर्नर सिफातुल्ला समंगानी ने कोयला खदानों के अंदर होने वाली दुखद घटनाओं के लिए मजदूरों को अवैध खुदाई, सुरक्षा उपायों और आवश्यक संसाधनों में कमी को जिम्मेदार ठहराया।

कोविड-19 का वैश्विक आंकड़ा पहुंचा 72 लाख : जेएचयू

जॉन्स हॉपकिन्स विश्वविद्यालय के अनुसार, कोविड -19 के वैश्विक मामलों की संख्या 72 लाख हो गई है, जबकि इससे होने वाली मौतों की संख्या 411,000 से अधिक है। बुधवार की सुबह तक कुल मामलों की संख्या 7,244,108 थी, जबकि मृत्यु का आंकड़ा बढ़कर 411,260 हो गया था। यह खुलासा यूनिवर्सिटी सेंटर फॉर सिस्टम साइंस एंड इंजीनियरिंग (सीएएई) के नए अपडेट से हुआ।

सीएसएसई के अनुसार, अमेरिका 1,979,411 मामलों और 111,989 मौतों के साथ शीर्ष पर बना हुआ है। वहीं मामलों के मद्देनजर ब्राजिल 739503 आंकड़ों के साथ दूसरे नंबर पर है।

सीएसएसई आंकड़ों के अनुसार, इनके बाद रूस (484,630), ब्रिटेन (290,581), भारत (276,583), स्पेन (241,966), इटली (235,561), पेरू (199,696), फ्रांस (191,523), जर्मनी (186,506), ईरान (175,927), तुर्की (172,114) , चिली (142,759), मैक्सिको (124,301), सऊदी अरब (108,571), और पाकिस्तान (108,317) है।


पुतिन और मर्केल ने लीबिया और यूक्रेन के मामलों पर फोन पर चर्चा की

रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन और जर्मन चांसलर एंजेला मर्केल ने लीबिया में शत्रुता बढ़ने के मामले पर चिंता व्यक्त की और इस बारे में फोन पर बात की। क्रेमलिन ने यह बात कही। समाचार एजेंसी सिन्हुआ की रिपोर्ट में एक बयान के हवाले से कहा गया, "नेताओं ने लीबिया में शत्रुता बढ़ने पर चिंता व्यक्त की। संयुक्त राष्ट्र के तत्वावधान में एक प्रारंभिक युद्ध विराम की अनिवार्यता और लीबिया के अंदर वार्ता की शुरूआत पर जोर दिया गया।"

इसमें आगे कहा गया कि रूसी पक्ष ने लीबिया संकट को शांतिपूर्वक निपटाने में मिश्र के मध्यस्थता प्रयासों का सकारात्मक मूल्यांकन किया, जो कि 19 जनवरी को बर्लिन में आयोजित हुए लीबिया पर अंतर्राष्ट्रीय सम्मेलन में निर्णय लिया गया था। पुतिन और मर्केल ने यूक्रेनियनों के संघर्ष समझौते पर भी विचारों का आदान-प्रदान किया।

आईएएनएक के इनपुट के साथ

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


;