दुनिया की 5 बड़ी खबरें: पाक में बच्चों के सामने महिला से क्रूर रेप पर मची खलबली और चीन ने अमेरिका के आरोप को नकारा

पाकिस्तान के पंजाब प्रांत में एक महिला के साथ उसके दो नाबालिग बच्चों के सामने सामूहिक दुष्कर्म की घटना पर लोगों का व्यापक रोष देखने को मिल रहा है। संयुक्त राष्ट्र महासभा में चीनी प्रतिनिधि ने अपने भाषण में चीन के खिलाफ अमेरिकी प्रतिनिधि के निराधार आरोप का खंडन किया।

प्रतीकात्मक तस्वीर
प्रतीकात्मक तस्वीर
user

नवजीवन डेस्क

पाकिस्तान में बच्चों के सामने महिला से क्रूर दुष्कर्म पर मची खलबली

पाकिस्तान के पंजाब प्रांत में एक महिला के साथ उसके दो नाबालिग बच्चों के सामने सामूहिक दुष्कर्म की घटना पर लोगों का व्यापक रोष देखने को मिल रहा है। महिलाओं ने पाकिस्तान में अपनी सुरक्षा के पर्याप्त उपायों की मांग की है और साथ ही देश में दोषियों की सार्वजनिक फांसी की मांग भी उठ रही है।

यह घटना बुधवार को गुज्जरपुर इलाके के पास घटित हुई। महिला की कार बंद हो गई थी और वह सड़क पर मदद का इंतजार कर रही थी। उसी वक्त वहां दो लोग पहुंचे और उन्होंने बंदूक की नोक पर महिला के के साथ दुष्कर्म किया। महिला ने लाहौर-सियालकोट मार्ग पर टोल प्लाजा को पार कर लिया था कि तभी ईंधन की कमी के कारण उनकी कार रुक गई।

पुलिस की रिपोर्ट के अनुसार, महिला ने गुजरांवाला में अपने रिश्तेदार को फोन किया था, जिसने उसे मदद के लिए पुलिस को फोन करने के लिए कहा और वह खुद भी उस तक पहुंचने के लिए घर से चल दिया था। हालांकि जब तक वह घटनास्थल पर पहुंचा तो उसने पाया कि महिला खून से लथपथ हालत में थी।

यूएन महासभा ने महामारी के खिलाफ संकल्प पारित किया


संयुक्त राष्ट्र महासभा ने 11 सितंबर को संकल्प पारित किया और सदस्य देशों से कोविड-19 महामारी के खिलाफ अंतर्राष्ट्रीय सहयोग और आपसी मदद मजबूत करने का आग्रह किया। संकल्प के अनुसार, अंतर्राष्ट्रीय सहयोग का विकास, बहुपक्षवाद का पालन, एकजुटता और आपसी मदद दुनिया में महामारी आदि विश्व संकटों का विरोध करने के लिये एकमात्र रास्ता है। उन्होंने अपील की कि सभी देशों को मानव-उन्मुख, लैंगिक समानता और मानवाधिकारों का सम्मान करने वाले कदम उठाने चाहिये।

यह संकल्प संयुक्त राष्ट्र महासचिव द्वारा प्रस्तावित विश्व युद्धविराम समझौते का समर्थन करता है, साथ ही सशस्त्र संघर्ष क्षेत्रों में महामारी के प्रभाव पर ध्यान देता है और संयुक्त राष्ट्र की शांति रक्षा कार्रवाई का आगे समर्थन करता है।

यूएन महासभा में चीन ने अमेरिका के आरोप का खंडन किया


संयुक्त राष्ट्र महासभा ने 11 सितंबर को कोविड-19 संबंधी एक संकल्प जारी किया। चीनी प्रतिनिधि ने अपने भाषण में चीन के खिलाफ अमेरिकी प्रतिनिधि के निराधार आरोप का खंडन किया। चीनी प्रतिनिधि ने कहा कि यूएन महासभा में अमेरिकी प्रतिनिधि ने फिर एक बार असमंजस्य आवाज देकर जिम्मेदारी को दूसरों पर थोपने और राजनीतिक वायरस का प्रसार करने की पूरी कोशिश की। चीन इसका ²ढ़ विरोध करता है और अस्वीकार करता है।

चीनी प्रतिनिधि ने कहा कि चीन ने अल्प समय में महामारी पर नियंत्रित किया और अमेरिका समेत विश्व के विभिन्न देशों को महामारी मुकाबला की सहायता भी दी। यह सब चीनी कम्युनिस्ट पार्टी और चीन सरकार के नेतृत्व में चीनी जनता के प्रयास के जरिए प्राप्त की गयी उपलब्धि है। किसी भी व्यक्ति या किसी भी शक्ति की चीनी कम्युनिस्ट पार्टी को बदनाम करने की चेष्टा अवश्य ही विफल होगी और चीनी जनता के लिए अस्वीकार्य है।

अंतर्राष्ट्रीय उड़ानों पर रोक लगाएगा इजरायल


इजरायल ने कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए अगले सप्ताह पूर्ण बंदी लगाने का फैसला किया है और इसके तहत इंटरनेशनल फ्लाइट ऑपरेशन भी बंद रहेगा। समाचार एजेंसी सिन्हुआ ने इजरायल के स्वास्थ्य मंत्रालय के एक सीनियर अधिकारी के हवाले से लिखा है कि बंदी का मतलब यह है कि इजरायल में आने और जाने का कोई जरिया नहीं होगा।

इजरायल एअरपोर्ट्स अथॉरिटी के प्रवक्ता ओफेर लेफलर ने कहा है कि उनके विभाग की अभी इस तरह की कोई तैयारी नहीं है लेकिन अगर सरकार की ओर से कोई निर्देश आता है तो फिर ऐसा करना होगा। उनके विभाग को सरकार के निर्देश का इंतजार है।

इजरायल ने 16 अगस्त से इंटरनेशनल फ्लाइट सेवा शुरू कर दी थी।

यूएन प्रमुख ने की पत्रकारों पर हुए हमलों की निंदा


संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंटोनियो गुटेरेस ने दुनिया भर में पत्रकारों पर हो रहे हमलों की बढ़ती संख्या की निंदा की है। यूएन प्रमुख के प्रवक्ता ने यह बात कही।

समाचार एजेंसी सिन्हुआ के अनुसार, शुक्रवार को गुटेरेस के प्रवक्ता स्टीफन दुजारिक ने एक बयान जारी किया। इसमें कहा गया है, "दुनिया भर में पत्रकारों और मीडियाकर्मियों पर हो रहे हमलों की बढ़ती संख्या को देख महासचिव चिंतित हैं। हाल ही में मैक्सिकन पत्रकार जूलियो वल्दिविया रोड्रिग्ज की हत्या हुई है। यह उन खतरनाक और मुश्किल स्थितियों का एक और उदाहरण है, जिनमें कई पत्रकार काम करते हैं।"

बयान में आगे कहा गया, "महासचिव ने पत्रकारों पर हुए हमलों की कड़ी निंदा की है। साथ ही उन्होंने अधिकारियों से यह सुनिश्चित करने के लिए कहा है कि वे इन मामलों की पूरी जांच करें और इनके लिए जिम्मेदार लोगों को पकड़ें।"

गुटेरेस ने शांति, न्याय, सतत विकास और मानव अधिकारों के लिए स्वतंत्र प्रेस की आवश्यकता को दोहराया।

आईएएनएस के इनपुट के साथ

लोकप्रिय
next