दुनिया की 5 बड़ी खबरें: शहबाज शरीफ ने 'आतंकवादी के सहयोगी' को बनाया मंत्री और अमेरिका की मदद से यूक्रेन ने मारे रूसी जनरल!

पीटीआई नेता ने राणा सनाउल्लाह को गृह मंत्री नियुक्त करने के शहबाज शरीफ सरकार के फैसले की अलाोचना की है। अमेरिका ने यूक्रेन में खुफिया जानकारी साझा कर रूसी जनरलों की हत्या करने में कीव की सेना की मदद की है।

फोटो: IANS
फोटो: IANS
user

नवजीवन डेस्क

अमेरिका ने रूस के जनरलों को मारने के लिए यूक्रेन की खुफिया मदद की : रिपोर्ट

अमेरिका ने यूक्रेन में खुफिया जानकारी साझा कर रूसी जनरलों की हत्या करने में कीव की सेना की मदद की है। एक मीडिया रिपोर्ट में वरिष्ठ अमेरिकी अधिकारियों के हवाले से यह जानकारी दी गई है। द न्यूयॉर्क टाइम्स की रिपोर्ट में कहा गया है कि अमेरिका ने कथित तौर पर कीव को रूस के मोबाइल सैन्य मुख्यालय के बारे में जानकारी प्रदान की, जिसके बारे में कहा जाता है कि वे अक्सर संघर्ष क्षेत्र में स्थानांतरित हो जाते हैं।

आरटी ने रिपोर्ट के हवाले से बताया कि कीव ने तोपखाने के हमलों या अन्य हमलों को अंजाम देने के लिए इस डेटा को अपनी खुफिया जानकारी के साथ जोड़ दिया, जिससे कमांडिंग अधिकारियों (जनरल) की मौत हो गई। हालांकि, अमेरिकी अधिकारियों ने यह निर्दिष्ट करने से इनकार कर दिया कि वास्तव में अमेरिका की मदद से कितने रूसी जनरल मारे गए हैं

विदेशों में अमेरिकी जैविक प्रयोगशाला का रहस्य 

फोटो: IANS
फोटो: IANS

खतरनाक जैविक प्रयोग और जैविक सैन्य गतिविधि रोकने के लिए अंतर्राष्ट्रीय समुदाय ने विशेष रूप से जैविक हथियार संधि बनाई। सत्यापन व्यवस्था की वार्ता वर्ष 1995 में शुरू हुई। अमेरिका ने जुलाई 2001 में न सिर्फ जैविक हथियारों के सत्यापन से इनकार किया, बल्कि संधि से पीछे हटा। वार्ता में विभिन्न देशों ने जैविक हथियार का खतरा कम करने पर ध्यान दिया, जबकि अमेरिकी प्रतिरक्षा मंत्रालय के वरिष्ठ अध्ययन ब्यूरो ने जैविक हथियार के महत्व को समझा। फिर अमेरिका ने वर्ष 2001 से विदेशों में जीव विज्ञान प्रयोगशाला का निर्माण करने की योजना बनाई।


शहबाज शरीफ ने 'आतंकवादी समूहों के सहयोगी' को मंत्री बनाया, विपक्ष ने किया दावा

फोटो: IANS
फोटो: IANS

पीटीआई नेता और पाकिस्तान की पूर्व मंत्री शिरीन मजारी ने संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार उच्चायुक्त मिशेल बाचेलेट को लिखे एक पत्र में राणा सनाउल्लाह को गृह मंत्री नियुक्त करने के शहबाज शरीफ सरकार के फैसले की अलाोचना की है। मीडिया रिपोर्ट से यह जानकारी सामने आई है। द न्यूज की रिपोर्ट के अनुसार, मजारी, (जो इमरान खान सरकार में मानवाधिकार मंत्री थे) ने दावा किया है कि शहबाज शरीफ के नेतृत्व वाली सरकार ने 'आतंकवादी समूहों के सहयोगी' और एक कथित हत्यारे को आंतरिक मंत्री नियुक्त किया है।

पीटीआई नेता ने यह भी दावा किया है कि सनाउल्लाह, जो मॉडल टाउन मामले में 'आरोपी' हैं, अपने राजनीतिक प्रतिद्वंद्वियों के खिलाफ 'धर्म कार्ड' का उपयोग कर रहे हैं।

कोरोना संक्रमण के कारण दुनियाभर में करीब डेढ़ करोड़ लोगों की मौत: डब्ल्यूएचओ

विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) की गुरुवार को जारी रिपोर्ट के मुताबिक कोरोना संक्रमण की चपेट में आकर 2020 और 2021 में दुनियाभर में करीब 1.49 करोड़ लोगों की मौत हो गई।

डब्ल्यूएचओ का कहना है कि 'एक्सेस डेथ' यानी सभी कारणों की वजह से हुई मौत के दर्ज मामलों और पिछले रूझान के आधार पर अनुमानित मौतों की संख्या के बीच के अंतर के आधार पर कोरोना संक्रमण के कारण होने वाली मौत की संख्या निर्धारित की गई है।

डब्ल्यूएचओ के अनुसार, दुनिया के बस दस देशों में 'एक्सेस डेथ' के 68 प्रतिशत मामले हैं। दक्षिण पूर्व एशिया, यूरोप और अमेरिका में कुल मिलाकर 'एक्सेस डेथ' के 84 प्रतिशत मामले हैं।


कांगो में इबोला के नये मामले की डब्ल्यूएचओ ने की पुष्टि

फोटो: IANS
फोटो: IANS

विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) ने डेमोक्रेटिक रिपब्लिक ऑफ कांगो में इबोला के नये मामले की पुष्टि की है। चीन की संवाद समिति ने कहा कि कांगो के स्वास्थ्य मंत्रालय ने बुधवार को बानडाका में इबोला के तीसरे मामले की पुष्टि की थी। बानडाका में ही पहला मामला भी मिला था। इससे पहले के दोनों इबोला संक्रमितों की मौत हो गई है। वे दोनों रिश्तेदार थे।

डब्ल्यूएचओ के क्षेत्रीय कार्यालय ने गुरुवार को इसकी पुष्टि करते हुये कहा कि इबोला संक्रमण के पहले मामले के साथ यह व्यक्ति संपर्क में आया था। डब्ल्यूएचओ ने बताया कि अब तक 444 संपर्क मामलों को चिह्न्ति किया गया है।

आईएएनएस के इनपुट के साथ

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia