दुनिया की 5 बड़ी खबरें: अफगान में भूकंप से मरने वालों की संख्या 22 हुई और अमेरिका में आया शीतकालीन तूफान

अफगानिस्तान के पश्चिमी प्रांत बड़गीस में 5.6 तीव्रता के आए भूकंप से मरने वालों की संख्या बढ़कर 22 हो गई है। मध्य-अटलांटिक और उत्तर-पूर्व अमेरिका में शीतकालीन तूफान आने से व्यापक यात्रा बाधित हुई और 200,000 से ज्यादा घरों और व्यवसायों की बिजली गुल हो गई।

फोटो: IANS
फोटो: IANS
user

नवजीवन डेस्क

अफगान में भूकंप से मरने वालों की संख्या 22 हुई

अफगानिस्तान के पश्चिमी प्रांत बड़गीस में 5.6 तीव्रता के आए भूकंप से मरने वालों की संख्या बढ़कर 22 हो गई है। एक अधिकारी ने मंगलवार को इसकी पुष्टि की। बड़गीस प्रांत के सूचना और संस्कृति के निदेशक बाज मोहम्मद सरवरी ने समाचार एजेंसी सिन्हुआ को बताया, "हमारे स्थानीय स्रोतों के ताजा आंकड़ों से पता चलता है कि कादिस जिले में सोमवार को आए भूकंप में 22 लोगों की मौत हो गई और पांच अन्य घायल हो गए।"

अधिकारी के अनुसार, पड़ोसी मुकुर जिले के साथ-साथ प्रांतीय राजधानी काला-ए-नौ में कादिस में कम से कम 1,000 घर नष्ट हो गए। अधिकारी ने कहा, "स्थानीय अधिकारी बड़गीस में प्रभावित इलाकों का दौरा कर रहे हैं और स्थिति की निगरानी कर रहे हैं। वे प्रभावित लोगों को राहत सहायता पहुंचाने के काम में समन्वय स्थापित करने का प्रयास करेंगे।"

फिलिस्तीन ने पूर्वी यरुशलम से बेदखल करने पर इजरायल को दी चेतावनी

फोटो: IANS
फोटो: IANS

फिलस्तीन ने इजरायल को पूर्वी यरुशलम में फिलिस्तीनी परिवारों को उनके घरों से बेदखल करने के खिलाफ चेतावनी दी है। राष्ट्रपति महमूद अब्बास ने एक बयान में कहा, "इजरायली शेख जर्राह पड़ोस में साल्हिया परिवार को उनके घर से बेदखल करने का प्रयास जबरन विस्थापन के दायरे में आता है।"

समाचार एजेंसी सिन्हुआ की रिपोर्ट के अनुसार, बयान में कहा गया है कि इजरायल के बल प्रयोग और हजारों बंदोबस्त इकाइयों के निर्माण की मंजूरी से फिलिस्तीनी क्षेत्रों में तनाव बढ़ेगा।

बयान में कहा गया है कि निकासी "पूर्वी यरुशलम में अपने घरों से दर्जनों फिलिस्तीनी परिवारों के जबरन विस्थापन की प्रक्रिया की प्रस्तावना हो सकती है।" अब्बास ने फिलिस्तीनी लोगों की रक्षा के लिए अंतर्राष्ट्रीय समुदाय के तत्काल हस्तक्षेप का आह्वान किया और '(इजरायल) कब्जे की नीतियों को समाप्त कर दिया'।


अमेरिका में आया शीतकालीन तूफान

मध्य-अटलांटिक और उत्तर-पूर्व अमेरिका में शीतकालीन तूफान आने से व्यापक यात्रा बाधित हुई और 200,000 से ज्यादा घरों और व्यवसायों की बिजली गुल हो गई। समाचार एजेंसी सिन्हुआ ने द वॉल स्ट्रीट जर्नल के हवाले से कहा, "जॉर्जिया से लेकर कनाडा के कुछ हिस्सों तक, तूफान का प्रभाव महसूस किया गया, जिसे विंटर स्टॉर्म इजी कहते हैं।"

नेशनल वेदर सर्विस (एनएसडब्ल्यू) ने कहा कि सोमवार को ओहियो, पेनसिल्वेनिया, नॉर्थ कैरोलिना और साउथ कैरोलिना के कुछ हिस्सों में 20 इंच तक बर्फ गिरी थी, जिससे बर्फीली सड़कें खतरनाक ड्राइविंग की स्थिति पैदा कर रही हैं।

इसमें कहा गया कि भारी बारिश और तेज हवाओं ने अन्य क्षेत्रों को तबाह कर दिया, कुछ तटीय इलाकों में बाढ़ के साथ-साथ पेड़ और बिजली की लाइनें गिरने का खतरा है।

ओमिक्रोन कोरोना महामारी को खत्म कर देगा, यह कहना जल्दबाजी होगी: फौसी

फोटो: IANS
फोटो: IANS

अमेरिका के महामारी संक्रामक रोग विशेषज्ञ एंथनी फौसी ने कहा है कि ऐसा कहना बहुत जल्दबाजी होगी कि ओमिक्रोन से कोविड महामारी का अंत हो जाएगा क्योंकि टीकों को चकमा देने की क्षमता रखने वाले इसी तरह के अन्य वेरिएंट भी सामने आ सकते हैं।

श्री फौसी ने सोमवार को दावोस एजेंडा के एक वर्चुअल कार्यक्रम में कहा प्राकृतिक टीकाकरण, या पिछले संक्रमण के माध्यम से हासिल प्रतिरक्षा, उतना प्रभावी नहीं हो सकती है जितना कुछ लोग मानते हैं।

डेली मेल ने उनके हवाले से कहा कि ओमिक्रोन की तरह, भविष्य में नए वेरिएंट के उभरने की संभावना है जो कोरोना वैक्सीन या शरीर की प्रतिरक्षा प्रणाली को चकमा देने में सक्षम हो सकते हैं। पहले के अन्य प्रकारों की तुलना में ओमिक्रोन के दुष्प्रभाव कम सामने आ रहे हैं।

न्यूयार्क टाइम्स ने उनके हवाले से बताया


ज्वालामुखी विस्फोट के बाद टोंगा की राजधानी में 80 प्रतिशत बिजली बहाल

फोटो: IANS
फोटो: IANS

टोंगा की राजधानी नुकु आलोफा में लगभग 80 प्रतिशत बिजली बहाल कर दी गई है, लेकिन 14-15 जनवरी को हिंसक ज्वालामुखी विस्फोट के बाद से इंटरनेट कनेक्शन बाधित है। रेडियो न्यूजीलैंड ने सोमवार को बताया कि यह द्वीप राष्ट्र, हुंगा टोंगा-हंगा हाआपाई ज्वालामुखी के विस्फोट और सप्ताहांत में इसके कारण आई सुनामी से हुए नुकसान का आकलन करने के लिए बाहरी द्वीपों के लिए नौसेना की नावें भेज रहा है।

समाचार एजेंसी सिन्हुआ के हवाले से कहा गया कि टोंगा के मुख्य द्वीप तोंगाटापु में किसी के हताहत होने की सूचना नहीं है, जो राख से ढका हुआ है और कई घरों को नुकसान पहुंचा है जबकि टोंगाटापु के पश्चिमी तट पर कई रिसॉर्ट और राजधानी के तट सहित बहुत नुकसान हुआ है। इसमें कहा गया कि राजधानी को पानी के भंडारण के साथ-साथ भोजन और चिकित्सा आपूर्ति की जरूरत है।

आईएएनएस के इनपुट के साथ

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia