दुनिया की 5 बड़ी खबरें: कोरोना नियमों में दुनियाभर में बढ़ रही सख्ती और बेलारूस के खिलाफ नए प्रतिबंध लगाएगा यूरोपीय संघ

यूरोपीय संघ (ईयू) के विदेश मंत्रियों ने प्रवासी संकट को लेकर बेलारूस के खिलाफ नए प्रतिबंधों पर सहमति जताई है। कोरोना महामारी अब भी दुनिया भर में जारी है। इसे देखते हुए विभिन्न देश सतर्कता भी बरत रहे हैं।

फोटो: IANS
फोटो: IANS
user

नवजीवन डेस्क

चीन के स्कूलों में भी सावधानी, कोरोना के खिलाफ पूरी तरह सतर्क

फोटो: IANS
फोटो: IANS

कोरोना महामारी अब भी दुनिया भर में जारी है। इसे देखते हुए विभिन्न देश सतर्कता भी बरत रहे हैं। चीन की बात करें तो यहां शुरू से ही वायरस को बड़ी गंभीरता से लिया गया। इसके लिए सरकार से लेकर आम लोगों ने एकजुटता दिखाई और बहुत हद तक वायरस के खिलाफ सफलता पाई। हालांकि पिछले कुछ दिनों से चीन में संक्रमण के मामले सामने आ रहे हैं, इस वजह से चीन की विभिन्न एजेंसियां फिर से सावधान हो गयी हैं। इस दौरान वैक्सीन लगाने का काम चल रहा है, अब तक एक अरब से अधिक नागरिकों को टीके की दोनों खुराकें लगा दी गयी हैं। जबकि 5 से 12 साल की उम्र के बच्चों को भी टीके लगाने का अभियान जारी है। इस दौरान स्कूलों में कोरोना पर पूरी तरह नियंत्रण हो, इसके लिए व्यापक प्रयास किए जा रहे हैं। चीनी शिक्षा मंत्रालय के एक अधिकारी के मुताबिक चीन ने अभी तक वायरस के खिलाफ अच्छी तरह से लड़ाई लड़ी है। लेकिन खतरा अब भी पूरी तरह टला नहीं है। इसे देखते हुए देश भर के स्कूलों में जागरुकता के साथ-साथ सतर्कता बरती जा रही है। क्योंकि बच्चों के स्वास्थ्य की सुरक्षा भी बेहद जरूरी है। आजकल मौसम में बदलाव हो रहा है, विशेषकर उत्तरी चीन में शीतलहर चल रही है, जिसके चलते बच्चों को खांसी, जुकाम या बुखार होना आम है। मौसम संबंधी परेशानियों और कोरोना वायरस को एक-साथ जोड़कर नहीं देखा सकता। लेकिन इस बारे में ध्यान देने की आवश्यकता है।

महामारी के दौरान अमेरिकी विश्वविद्यालयों में विदेशी छात्रों की संख्या में गिरावट : सर्वेक्षण

फोटो: IANS
फोटो: IANS

सोमवार को जारी एक सर्वेक्षण से पता चला है कि कोरोना महामारी के कारण, अमेरिकी उच्च शिक्षा संस्थानों में पढ़ने वाले विदेशी छात्रों की संख्या में इस साल तेजी से गिरावट आई है। ये जानकारी एक अमेरिकी ब्राडकॉस्टर ने दी है।

द वॉयस ऑफ अमेरिका की रिपोर्ट के अनुसार, न्यूयॉर्क मुख्यालय वाले इंस्टीट्यूट ऑफ इंटरनेशनल एजुकेशन द्वारा किए गए शोध में अमेरिका में उच्च शिक्षा के लगभग 3,000 संस्थानों का सर्वेक्षण किया गया। समाचार एजेंसी सिन्हुआ की रिपोर्ट के अनुसार, इससे पता चलता है कि नए छात्रों के लिए नामांकन की संख्या में 45.6 प्रतिशत और अंतर्राष्ट्रीय छात्रों के लिए 15 प्रतिशत की कमी आई है।


यूरोपीय संघ के विदेश मंत्री बेलारूस के खिलाफ नए प्रतिबंधों पर सहमत हुए

फोटो: IANS
फोटो: IANS

यूरोपीय संघ (ईयू) के विदेश मंत्रियों ने प्रवासी संकट को लेकर बेलारूस के खिलाफ नए प्रतिबंधों पर सहमति जताई है। सोमवार को मंत्रियों की बैठक के बाद एक संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि प्रतिबंधों के नए सेट को राजनीतिक रूप से अपनाया गया है और आने वाले दिनों में अंतिम रूप दिया जाएगा। उन्होंने आगे कहा कि यह प्रतिबंध व्यक्तियों और संस्थाओं की काफी महत्वपूर्ण संख्या को प्रभावित करेंगे।

समाचार एजेंसी सिन्हुआ की रिपोर्ट के मुताबिक, ब्लॉक की बाहरी कार्रवाई सेवा के अनुसार, बेलारूस पर यूरोपीय संघ के प्रतिबंधों के तहत अब तक 166 व्यक्तियों और 15 संस्थाओं को नामित किया गया है।

अमेरिकी राजधानी वाशिंगटन डीसी में इंडोर मास्क जनादेश हटाया जाएगा

फोटो: IANS
फोटो: IANS

अमेरिकी राजधानी वाशिंगटन डीसी के लिए 22 नवंबर से घर के अंदर मास्क लगाने का आदेश हटा लिया जाएगा। समाचार एजेंसी सिन्हुआ की रिपोर्ट के मुताबिक, मेयर म्यूरियल बोसेर के कार्यालय की घोषणा के अनुसार, नागरिक अपने लिए फैसला ले सकते हैं कि इनडोर सेटिंग्स में मास्क पहनना है या नहीं, निजी व्यवसायों में अभी मास्क की आवश्यकता है, सार्वजनिक परिवहन स्कूलों और नसिर्ंग होम और सुधार सुविधाओं के साथ-साथ डीसी सरकारी सुविधाओं जैसे मोटर विभाग में आवश्यकता है।

उन्होंने आगे कहा, "इस जनादेश का पालन करने के बजाय, लोगों, पर्याटकों और श्रमिकों को डीसी हेल्थ से जोखिम-आधारित मार्गदर्शन का पालन करने की सलाह दी जाएगी जो वर्तमान स्वास्थ्य मेट्रिक्स और एक व्यक्ति के टीकाकरण की स्थिति के लिए जिम्मेदार है।"


इटली ने सार्वजनिक परिवहन पर कोरोना नियमों को किया सख्त

फोटो: IANS
फोटो: IANS

इटली में सार्वजनिक परिवहन और टैक्सियों में कोरोना वायरस को फैलने से रोकने के लिए नए उपाय मंगलवार से लागू हो गए हैं। अधिकारियों ने कोरोना संक्रमण की चौथी लहर को फैलने से रोकने के लिए यह कदम उठाया है। समाचार एजेंसी सिन्हुआ की रिपोर्ट के अनुसार, नए नियमों के तहत, जिन्हें सोमवार को स्वास्थ्य और परिवहन मंत्रियों द्वारा जारी एक डिक्री में हस्ताक्षरित किया गया। उसके अनुसार सभी यात्रियों को लंबी दूरी की और अंतर-क्षेत्रीय ट्रेनों में सवार होने से पहले अपना 'ग्रीन पास' दिखाना होगा।

ग्रीन पास एक प्रमाण पत्र है जो दर्शाता है कि एक व्यक्ति या तो पूरी तरह से प्रतिरक्षित है या उसने कोरोना वायरस वैक्सीन की कम से कम एक खुराक प्राप्त की है और बीमारी से उबर चुका है या बीते 48 घंटे में निगेटिव परीक्षण किया है। यह नए उपाय रोम, मिलान और फ्लोरेंस सहित देश के सभी प्रमुख ट्रेन स्टेशनों और उन सभी स्टेशनों से संबंधित हैं जहां स्थानीय परिस्थितियों के अनुसार जांच संभव है।

आईएएनएस के इनपुट के साथ

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia