दुनिया की 5 बड़ी खबरें: कोरोना का पता लगाने WHO की टीम पहुंची वुहान और UAE में नौकरी चाहने वाले फर्जी एजेंट से रहें सावधान

WHO का विशेषज्ञ दल 14 जनवरी को चीन के वुहान शहर पहुंचा। WHO के अंतर्राष्ट्रीय विशेषज्ञ चीनी वैज्ञानिकों के साथ कोरोना वायरस के स्रोत का पता लगाने में वैज्ञानिक अनुसंधान करेंगे। यूएई में भारतीय राजनयिक मिशनों ने नौकरी चाहने वाले लोगों को फर्जी एजेंटों से सतर्क रहने को कहा है।

फोटो : IANS
फोटो : IANS
user

नवजीवन डेस्क

शी चिनफिंग ने स्टारबक्स के मानद बोर्ड अध्यक्ष को जवाबी पत्र भेजा


चीनी राष्ट्रपति शी चिनफिंग ने हाल ही में अमेरिकी स्टारबक्स कंपनी के मानद बोर्ड अध्यक्ष हॉवर्ड शुल्त्ज के नाम जवाबी पत्र भेजा और उन्हें तथा स्टारबक्स कंपनी द्वारा चीन-अमेरिका आर्थिक व्यापारिक सहयोग और द्विपक्षीय संबंधों को आगे बढ़ाने के लिए लगातार सक्रिय भूमिका अदा करने को प्रोत्साहित किया। शी चिनफिंग ने जवाबी पत्र में बल देते हुए कहा कि चीनी कम्युनिस्ट पार्टी के नेतृत्व में 1.4 अरब चीनी लोग व्यापक खुशहाल समाज के निर्माण, समाजवादी आधुनिकीकरण के निर्माण के लिए दीर्घकालिक और कठोर प्रयास कर रहे हैं। अब चीन ने व्यापक समाजवादी आधुनिक देश के निर्माण का नया अभियान शुरू किया है, स्टारबक्स समेत अमेरिकी निगमों तथा दूसरे वैश्विक उद्यमों को चीन में विकास के ज्यादा मौके मिलेंगे। आशा है कि स्टारबक्स कंपनी चीन और अमेरिका के बीच आर्थिक व्यापारिक सहयोग और द्विपक्षीय संबंधों के विकास को बढ़ावा देने के लिए सक्रिय कोशिश करती रहेगी।

वायरस के स्रोत का पता लगाना राजनीति के बजाय विज्ञान से संबंध


विश्व स्वास्थ्य संगठन का विशेषज्ञ दल 14 जनवरी को चीन के वुहान शहर पहुंचा। डब्लूयएचओ के अंतर्राष्ट्रीय विशेषज्ञ चीनी वैज्ञानिकों के साथ कोरोना वायरस के स्रोत का पता लगाने में वैज्ञानिक अनुसंधान करेंगे। बेशक, विशेषज्ञ दल का चीन आने का उद्देश्य वायरस के स्रोत का पता लगाना है, न कि आरोप लगाना। कोविड-19 महामारी फैलने के बाद चीन हमेशा सक्रिय और खुले रवैये से डब्ल्यूएचओ के साथ घनिष्ठ सहयोग करता है। पिछले साल फरवरी और जुलाई में चीन ने दो बार वायरस के स्रोत का पता लगाने के लिए डब्ल्यूएचओ के विशेषज्ञों को आमंत्रित किया। चीनी वैज्ञानिकों ने डब्ल्यूएचओ और अंतर्राष्ट्रीय विशेषज्ञों के साथ कई बार वीडियो के जरिए विचारों का आदान-प्रदान किया और चीन द्वारा हासिल उपलब्धियों का परिचय दिया। लेकिन कुछ पश्चिमी राजनीतिज्ञों और मीडिया संस्थाओं ने राजनीतिक उद्देश्य के साथ गैरजिम्मेदारी से इस वैज्ञानिक मुद्दे का राजनीतिकरण किया।

पाक में कोविड-19 मामलों में तेजी


पाकिस्तान में लगभग एक महीने के बाद कोरोना के मामले में तेजी देखी गई है। यहां अकेले सिंध प्रांत में ही पिछले 24 घंटों में कोरोना के 1,769 मामले सामने आए। जियो न्यूज की रिपोर्ट के अनुसार, नेशनल कमांड एंड ऑपरेशंस सेंटर (एनसीओसी) द्वारा जारी किए गए आंकड़ों से पता चला है कि गुरुवार को देशभर में 3,097 लोगों को कोरोना पॉजिटिव पाया गया। जिससे देश में कोरोना के कुल मामले बढ़कर 5,11,921 हो गए।

आखिरी बार पाकिस्तान में 18 दिसंबर 2020 को कोरोना के दैनिक मामले 3,000 के आंकड़े को पार कर गए थे।

बाइडन को शपथ ग्रहण समारोह के संबंध में सुरक्षा चिंताओं पर दी गई जानकारी


अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव जीतने वाले जो बाइडन को छह जनवरी को राजधानी में हुई हिंसा के मद्देनजर, 20 जनवरी को उनके शपथ ग्रहण समारोह से संबंधित सुरक्षा चिंताओं पर संघीय अधिकारियों ने जानकारी दी है। बाइडन की ट्रांसिशन टीम ने यह जानकारी दी। बुधवार को जारी एक बयान में बाइडन की टीम ने कहा, "राष्ट्रपति के लिए चुने गए बाइडन को संघीय जांच ब्यूरो (एफबीआई), यूएस सीक्रेट सर्विस के वरिष्ठ अधिकारियों और उनकी राष्ट्रीय सुरक्षा टीम के प्रमुख सदस्यों की ओर से एक ब्रीफिंग दी गई है।"

बयान में कहा गया है, "टीम खतरे की तस्वीर और संभावित हिंसक व्यवधानों या हमलों के खिलाफ बचाव करने के लिए तैयार की जा रही सूचनाओं पर और अधिक से अधिक जानकारी हासिल करने के लिए वर्तमान प्रशासन के साथ लगी हुई है।"

यूएई में भारतीय मिशन ने कहा, नौकरी चाहने वाले फर्जी एजेंट से सावधान रहें

संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) में भारतीय राजनयिक मिशनों ने नौकरी चाहने वाले लोगों को फर्जी एजेंटों से सतर्क रहने को कहा है। गुरुवार को एक मीडिया रिपोर्ट से यह जानकारी मिली। गल्फ न्यूज की रिपोर्ट के अनुसार, यह चेतावनी एक शीर्ष भारतीय अधिकारी ने भर्ती एजेंटों द्वारा विदेश में भारतीय के जीवन को खतरे में डालने के मद्देनजर जारी की है।

इस सप्ताह की शुरुआत में, विदेश मंत्रालय में भारत सरकार के सचिव, संजय भट्टाचार्य ने कहा था, "चिंता की बात है कि कुछ बेईमान एजेंट हमारे नागरिकों का शोषण कर रहे हैं और उन्हें विदेश में जोखिम में डाल रहे हैं। भर्ती एजेंटों को जिम्मेदारी से काम करना चाहिए या फिर उन्हें जवाबदेह ठहराया जाएगा।"

आईएएनएस के इनपुट के साथ

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


लोकप्रिय
next