दुनिया की बड़ी खबरें: ब्राजील में भूस्खलन में 152 की मौत, कब्जे के बाद मारने के लिए यूक्रेनियन की सूची बना रहा रूस

स्विस बैंक से डेटा लीक में एक चौंकाने वाला खुलासा हुआ है, जिसमें आर्थिक संकट से जूझ रहे पाकिस्तान के करीब 1400 नागरिकों से जुड़े 600 खातों के बारे में पता चला है। इनमें कई राजनीतिक व्यक्ती हैं, जिन्होंने तब खाते खोले, जब वे सार्वजनिक कार्यालय में थे।

फोटोः IANS
फोटोः IANS
user

नवजीवन डेस्क

ब्राजील में भूस्खलन से मरने वालों की संख्या 152 तक पहुंची

ब्राजील के पेट्रोपोलिस में भूस्खलन से मरने वालों की संख्या बढ़कर 152 हो गई है, जबकि 165 लोग अब भी लापता हैं। समाचार एजेंसी सिन्हुआ की रिपोर्ट के अनुसार, 500 से अधिक अग्निशामक उस क्षेत्र में काम कर रहे हैं, जहां भूस्खलन हुआ था, लगभग 40 खोजी कुत्तों की सहायता से लापता लोगों की तलाश की जा रही है। स्थानीय निवासियों ने भी खोज के लिए मदद का हाथ बढ़ाया, विशेष रूप से मोरो दा ओफिसिना के क्षेत्र में, जहां कम से कम 80 घर नष्ट हो गए थे।

राज्य की राजधानी रियो डी जनेरियो से 68 किमी दूर स्थित शहर पेट्रोपोलिस में महापौर कार्यालय ने रविवार को क्षेत्र में एक बड़ा अभियान शुरू किया, जहां बाढ़ और भूस्खलन से सड़कें और इमारतें क्षतिग्रस्त हो गईं। मेयर रूबेन्स बोमटेम्पो ने कहा कि मैंने कभी इस तरह की कल्पना नहीं की थी और मैंने चार कार्यकाल पूरे किए हैं और बहुत बारिश देखी है। पेट्रोपोलिस में यह सबसे बड़ी त्रासदी है। मैं अपनी सारी ऊर्जा अभी लड़ने के लिए समर्पित करने जा रहा हूं। रियो डी जनेरियो राज्य के गवर्नर क्लाउडियो कास्त्रो के अनुसार 15 फरवरी को हुई बारिश की वजह से भूस्खलन की शुरूआत हुई। उन्होंने इसे 1932 के बाद से शहर में सबसे खराब बारिश करार दिया।

कब्जे के बाद मार दिए जाने वाले यूक्रेनियन की सूची बना रही है रूसी सेना

अमेरिका ने कहा है कि उसके पास विश्वसनीय जानकारी है जो यह संकेत देती है कि रूसी सेना सैन्य कब्जे के बाद मारे जाने वाले या शिविरों में भेजे जाने वाले यूक्रेनियन की पहचान कर रही है। जिनेवा में संयुक्त राष्ट्र के कार्यालय और अन्य अंतर्राष्ट्रीय संगठनों के अमेरिकी प्रतिनिधि बाथशेबा नेल क्रोकर ने कहा कि हमारे पास विश्वसनीय जानकारी है कि रूसी सेना शांतिपूर्ण विरोध को तितर-बितर करने के लिए घातक उपायों का इस्तेमाल करेगी या अन्यथा नागरिक आबादी के कथित प्रतिरोध के शांतिपूर्ण अभ्यास का मुकाबला करेगी।

क्रॉकर ने संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार प्रमुख मिशेल बाशलेट को लिखे एक पत्र में कहा, "जैसा कि अमेरिका रूस को डी-एस्केलेशन और कूटनीति की ओर धकेलने के हर अवसर की तलाश कर रहा है, विदेश मंत्री एंटनी ब्लिंकन ने 17 फरवरी, 2022 को सुरक्षा परिषद में इन चिंताओं को उठाया। विशेष रूप से, उन्होंने कहा कि अमेरिका के पास ऐसी जानकारी है जो इंगित करती है कि रूस यूक्रेनियन के विशिष्ट समूह लक्षित करेगा।" अमेरिका ने कहा कि वह गंभीर रूप से चिंतित है कि यूक्रेन पर एक और रूसी आक्रमण से व्यापक मानवीय पीड़ा पैदा होगी।

दुनिया की बड़ी खबरें: ब्राजील में भूस्खलन में 152 की मौत, कब्जे के बाद मारने के लिए यूक्रेनियन की सूची बना रहा रूस

स्विस बैंक डेटा लीक में पाकिस्तान के 1400 लोगों से जुड़े 600 खातों का खुलासा

स्विस बैंक से हुए डेटा लीक में एक चौंकाने वाला खुलासा हुआ है, जिसमें करीब 1400 पाकिस्तानी नागरिकों से जुड़े 600 खातों के बारे में पता चला है। द न्यूज की रिपोर्ट के अनुसार, क्रेडिट सुइस में खोले गए 600 खातों से पाकिस्तान के करीब 1,400 व्यक्तियों का जुड़ाव सामने आया है। डेटा में उन खातों की जानकारी भी है, जो अब बंद हो चुके हैं, लेकिन अतीत में चालू रहे हैं।

रिपोर्ट के अनुसार, कई राजनीतिक व्यक्तियों ने ऐसे समय में अपने खाते खोले, जब वे सार्वजनिक कार्यालय की जिम्मेदारी संभाल रहे थे। पाकिस्तान के चुनाव आयोग को प्रस्तुत अपनी संपत्ति की घोषणा में कई राजनीतिक रूप से पहचाने जाने वाले व्यक्तियों ने इन खातों के बारे में कभी खुलासा नहीं किया, जो उन्होंने उस समय खोले थे जब वे सार्वजनिक पद पर थे। एक पाकिस्तानी द्वारा बैंक में रखे गए सबसे अमीर खातों में से एक का स्वामित्व भी एक राजनीतिक व्यक्ति के पास था।

डेटा में वर्तमान में पाकिस्तान में जांच के तहत कुछ मामलों के विवरण भी शामिल हैं, जहां जांचकर्ताओं को जांच के तहत संपत्ति के बारे में गलत जानकारी दी गई थी। पाकिस्तानियों के खातों में औसत अधिकतम बकाया 4.42 मिलियन स्विस फ्रैंक (स्विट्जरलैंड की मुद्रा) था।
रिपोर्ट में कहा गया है कि पाकिस्तानियों द्वारा उपयोग में लाए गए खातों में औसत अधिकतम शेष राशि 4.42 मिलियन स्विस फ्रैंक (841 मिलियन रुपये) थी, जो लीक हुए डेटा के समग्र औसत की तुलना में 7.5 मिलियन स्विस फ्रैंक (1.42 अरब रुपये) थी।

दुनिया की बड़ी खबरें: ब्राजील में भूस्खलन में 152 की मौत, कब्जे के बाद मारने के लिए यूक्रेनियन की सूची बना रहा रूस

आनुवांशिक जांच से दिल की बीमारियों का पता चल सकेगा

अमेरिकी शोधकर्ताओं ने डीएनए की संरचना के आधार पर महिलाओं और पुरूषों में भविष्य में होने वाली दिल की बीमारियों का पता लगाने के लिए एक चिकित्सकीय जांच कार्यक्रम शुरू किया है। अगर ये चिकित्सकीय परीक्षण प्रभावी साबित होते हैं तो इस आनुवांशिक जांच परीक्षण को विश्व में एक पैमाने के तौर पर अपना लिया जाएगा जिससे लोगों की मौत के लिए सबसे अधिक जिम्मेदार हॉर्ट अटैक से बचाव करने में मदद मिल सकती है।

एरिजोना में कॉर्डियोवॉस्कुलर जीनोमिक्स फॉर डिग्निटी हेल्थ हास्पिटल के मेडिकल डायरेक्टर रॉबर्ट रॉबर्ट्स ने बताया कि इसके परिणाम बेहतर होने पर दिल की बीमारियां इस सदी की अंतिम बीमारियां होंगी। इस चिकित्सकीय जांच में शोधकर्ता 40 से 60 वर्ष के लगभग दो हजार पुरूषों तथा महिलाओं के डीएनए नमूने एकत्र करेंगे जिन्हें इससे पहले दिल की कोई बीमारियां नहीं थी। फिर डीएनए नमूनों का विश्लेषण यह निर्धारित करने के लिए किया जाएगा कि क्या इन लोगों में कोई आनुवंशिक मार्कर हैं जिन्हें हृदय रोगों का कारण माना जाता है।

डीएनए जीनोटाइपिंग पूरी हो जाने के बाद, डिग्निटी की टीम प्रत्येक प्रतिभागी के आनुवंशिक मार्करों का मूल्यांकन करेगी कि उनमें हृदय रोग विकसित होने की कितनी आशंका है। इस चिकित्सकीय जांच में प्रतिभागियों के हृदय रोगों के जोखिम का निर्धारण करते समय अन्य स्वास्थ्य मानकों और जीवन शैली कारकों पर भी विचार किया जाएगा। इनमें उच्च रक्तचाप, मधुमेह, उच्च कोलेस्ट्रॉल शामिल हैं। इसमें यह भी पता लगाया जाएगा कि क्या प्रतिभागी धूम्रपान करता है और कसरत करते हैं या निष्क्रिय जीवन शैली बिताते हैं।

उन्होंने कहा मुझे उम्मीद है कि इस अध्ययन के आनुवंशिक परीक्षण परिणामों के माध्यम से हम नियमित जांच कर कोरोनरी धमनी रोग की प्रारंभिक रोकथाम से भविष्य में लोगों का जीवन बचाने में सक्षम होंगे। यह दिल की बीमारियों की रोकथाम में एक बदलावकारी कदम साबित हो सकेगा।

दुनिया की बड़ी खबरें: ब्राजील में भूस्खलन में 152 की मौत, कब्जे के बाद मारने के लिए यूक्रेनियन की सूची बना रहा रूस

पाक पीएम के सलाहकार ने कहा- भारत के साथ व्यापार समय की मांग

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री के वाणिज्य, कपड़ा, उद्योग और उत्पादन और निवेश के सलाहकार अब्दुल रजाक दाऊद ने कहा है कि भारत के साथ व्यापार समय की जरूरत है और दोनों देशों के लिए फायदेमंद है। पाकिस्तान के व्यापार विकास प्राधिकरण द्वारा आयोजित इंजीनियरिंग और स्वास्थ्य सेवा पर एक प्रदर्शनी में दाऊद ने रविवार को मीडिया से बातचीत में कहा, "जहां तक वाणिज्य मंत्रालय का सवाल है, उसकी स्थिति भारत के साथ व्यापार करने की है। और मेरा रुख है कि हमें भारत के साथ व्यापार करना चाहिए और इसे अभी खोला जाना चाहिए।"

दुनिया की बड़ी खबरें: ब्राजील में भूस्खलन में 152 की मौत, कब्जे के बाद मारने के लिए यूक्रेनियन की सूची बना रहा रूस

उन्होंने कहा, "भारत के साथ व्यापार सभी के लिए फायदेमंद है, खासकर पाकिस्तान के लिए, और मैं इसका समर्थन करता हूं।" अफगानिस्तान को निर्यात के बारे में, सलाहकार ने कहा कि उनके मंत्रालय ने अफगानिस्तान को निर्यात करने वाली वस्तुओं की संख्या (पाकिस्तानी रुपये में) बढ़ाकर 17 कर दी है। उन्होंने दावा किया, "अभी भी विभिन्न व्यवसायी मुझसे संपर्क कर रहे हैं और इस सूची में अपने लेख/वस्तुओं को शामिल करने के लिए संपर्क कर रहे हैं क्योंकि वे भी अपने माल को पाकिस्तानी रुपये में अफगानिस्तान में निर्यात करना चाहते हैं।"

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia