चुनावी रैलियों में बम धमाकों से दहला पाकिस्तान, 70 लोगों की मौत, 120 से ज्यादा लोग घायल

चुनावी रैलियों में बम धमाकों से दहला पाकिस्तान

पाकिस्तान में शुक्रवार को चुनावी रैली में दो अलग अलग जगहों पर बम विस्फोट से 70 लोगों की मौत हो गई, जबकि 120 से ज्यादा लोग घायल हो गए। धमाके में बलूचिस्तान अवामी पार्टी के उम्मीदवार सिराज रायसानी की भी जान चली गई।

पाकिस्तान के बलूचिस्तान प्रांत में एक चुनावी रैली को निशाना बनाकर शुक्रवार को किए गए एक आत्मघाती विस्फोट में कम से कम 70 लोगों की मौत हो गई। मृतकों में एक राजनेता भी शामिल है। 25 जुलाई को होने वाले आम चुनाव से पहले चुनावी उम्मीदवारों पर इस तरह का यह तीसरा हमला था। खबरों के मुताबिक, बलूचिस्तान अवामी पार्टी (बीएपी) के उम्मीदवार नवाबजादा सिराज रैसानी सहित 70 लोगों की उस समय मौत हो गई, जब मस्तंग जिले में आयोजित उनकी रैली को निशाना बनाकर विस्फोट किया गया। विस्फोट में 120 लोग घायल भी हुए हैं।

रैसानी बलूचिस्तान के पूर्व मुख्यमंत्री नवाज असलम रायसानी के छोटे भाई हैं। वह हाल ही में गठित बीएपी की तरफ से पीबी-35 निर्वाचन क्षेत्र से उम्मीदवार थे।

बलूचिस्तान के सुरक्षा बलों ने मीडिया को बताया कि सिराज पर उस समय हमला किया गया, जब वह एक नुक्कड़ सभा को संबोधित कर रहे थे। सिराज के भाई लश्करी रैसानी ने उनके निधन की पुष्टि की है। बलूचिस्तान के नागरिक सुरक्षा निदेशक असलम तरीन ने कहा कि हमले में 8-10 किलोग्राम विस्फोटक और बाल बेयरिंग का इस्तेमाल किया गया।

25 जुलाई के चुनाव से पहले राजनेताओं को निशाना बनाकर किए गए कई हमलों में मस्तंग का हमला सबसे अधिक घातक था। इससे पहले दिन में खबर पख्तूनख्वाह प्रांत के पूर्व मुख्यमंत्री अकरम खान दुर्रानी के काफिले को निशाना बनाकर विस्फोट किया गया। यह हमला बन्नू में किया गया। इस हमले में दुर्रानी तो सुरक्षित बच गए, लेकिन 4 लोगों की मौत हो गई और 32 लोग घायल हो गए।

डॉल ऑनलाइन के मुताबिक, पूर्व मुख्यमंत्री उत्तरी वजीरिस्तान के पास चुनावी रैली से लौट रहे थे, उसी दौरान रिमोट कंट्रोल से किए गए विस्फोट में वह बाल-बाल बच गए। दुर्रानी 25 जुलाई को होने वाले चुनाव में एनए-35(बन्नू) सीट से मुत्ताहिदा मजलिस-ए-अमल (एमएमए) के टिकट पर पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ (पीटीआई) के अध्यक्ष इमरान खान के खिलाफ चुनाव लड़ रहे हैं।

खुजदार में दो लोग गुरुवार रात बीएपी के चुनाव कार्यालय के पास एक विस्फोट में घायल हो गए। इस हफ्ते के शुरू में, पेशावर के यकतूत इलाके में अवामी नेशनल पार्टी (एएनपी) के नेता हारून बिलोर और 19 अन्य की आत्मघाती हमले में मौत हो गई थी।

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

सबसे लोकप्रिय

अखबार सब्सक्राइब करें