उज्बेकिस्तान में बच्चों की मौत के बाद WHO ने दो भारतीय कफ सिरप को लेकर जारी किया अलर्ट, जानें क्या कहा

WHO मेडिकल प्रोडक्ट अलर्ट में कहा गया है कि मैरियन बायोटेक द्वारा बनाए गए 'निम्नस्तरीय चिकित्सा उत्पाद' वे 'उत्पाद हैं, जो गुणवत्ता मानकों को पूरा करने में विफल रहे हैं और इसलिए इन्हें प्रयोग नहीं किया जाना चाहिए।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

उज्बेकिस्तान में बच्चों की मौत के बाद WHO (विश्व स्वास्थ्य संगठन) ने दो भारतीय कफ सिरप को लेकर अलर्ट जारी किया है। WHO की ओर से जारी अलर्ट में कहा गया है कि उज्बेकिस्तान में बच्चों के लिए नोएडा स्थित कंपनी मैरियन बायोटेक द्वारा बनाए गए दो कफ सिरप इस्तेमाल नहीं किए जाने चाहिए।

WHO मेडिकल प्रोडक्ट अलर्ट में कहा गया है कि मैरियन बायोटेक द्वारा बनाए गए 'निम्नस्तरीय चिकित्सा उत्पाद' वे 'उत्पाद हैं, जो गुणवत्ता मानकों को पूरा करने में विफल रहे हैं और इसलिए इन्हें प्रयोग नहीं किया जाना चाहिए।

अपनी वेबसाइट पर जारी अलर्ट में WHO ने कहा, “यह WHO मेडिकल प्रोडक्ट अलर्ट दो निम्नस्तरीय (दूषित) उत्पादों के संदर्भ में है, जिनका निम्नस्तरीय होना उज्बेकिस्तान में देखा गया, और 22 दिसंबर, 2022 को WHO को बताया गया। निम्नस्तरीय चिकित्सा उत्पाद वे उत्पाद हैं, जो गुणवत्ता मानकों को पूरा करने में विफल रहे हैं और इसलिए इन्हें इस्तेमाल नहीं किया जाना चाहिए।”

WHO के अलर्ट में कहा गया है कि यह दो उत्पाद AMBRONOL सिरप और DOK-1 मैक्स सिरप हैं। इन दोनों उत्पादों के बताए गए निर्माता मैरियन बायोटेक प्राइवेट लिमिटेड (उत्तर प्रदेश, भारत) हैं। इस निर्माता ने इन उत्पादों की सुरक्षा और स्तर को लेकर आज तक WHO को गारंटी नहीं दी है।


WHO द्वारा जारी अलर्ट में यह भी कहा गया है इन दोनों उत्पादों के पास इस क्षेत्र के अन्य देशों में विपणन अधिकार हो सकते हैं। उन्हें अनौपचारिक बाजारों के जरिए अन्य देशों या क्षेत्रों में भी वितरित किया जा सकता है।

WHO के अनुसार, उज्बेकिस्तान गणराज्य के स्वास्थ्य मंत्रालय की राष्ट्रीय गुणवत्ता नियंत्रण प्रयोगशालाओं द्वारा कफ सिरप के नमूनों के विश्लेषण में यह बात सामने आई है कि दोनों उत्पादों में दूषित पदार्थों के रूप में डायथिलीन ग्लाइकॉल और / या एथिलीन ग्लाइकॉल की अस्वीकार्य मात्रा शामिल है।

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


;