अमेरिका ने आतंक के ठिकाने और एयरस्ट्राक का नाम लेते हुए दी बड़ी चेतावनी, पाकिस्तान में मची खलबली!

अमेरिका का कहना है कि अल कायदा जैसे कई आतंकी संगठन इस समय पाकिस्‍तान में हैं और यह बात चिंता का विषय है। पेंटागन की तरफ से कहा गया है कि पाकिस्तान आतंकियों का सुरक्षित अड्डा है और जो आशंकाएं बहुत साल पहले जताई गई थीं वह आज तक सच साबित होती आ रही हैं।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

अमेरिका ने आतंकी गतिविधियों को लेकर पाकिस्तान को बड़ी चेतावनी दी है। अमेरिका ने कहा कि पाकिस्‍तान आतंकियों के सुरक्षित पनाहगार बना हुआ है। अमेरिकी राष्‍ट्रपति जो बाइडेन मुताबिक, पाकिस्‍तान अभी तक आतंकी संगठनों का न सिर्फ जगह मुहैया कराता है, बल्कि उनके पनपने की कारण भी बना हुआ है।

अमेरिका का कहना है कि अल कायदा जैसे कई आतंकी संगठन इस समय पाकिस्‍तान में हैं और यह बात चिंता का विषय है। पेंटागन की तरफ से कहा गया है कि पाकिस्तान आतंकियों का सुरक्षित अड्डा है और जो आशंकाएं बहुत साल पहले जताई गई थीं वह आज तक सच साबित होती आ रही हैं।


एक रूटीन मीडिया ब्रीफिंग में पेंटागन के प्रेस सेक्रेटरी जॉन किर्बी ने यह साफ कर दिया कि पाकिस्‍तान को यह बात हरगिज नहीं भूलनी चाहिए कि वह आज तक दुनिया के दूसरे हिस्‍सों में फैले आतंकवाद के लिए जिम्‍मेदार है। किर्बी ने कहाकि अमेरिका के पास आज भी यह अधिकार सुरक्षित है कि वह अफगानिस्‍तान में एयर स्‍ट्राइक कर आतंकवाद के खतरे को कम कर सके। किर्बी ने कहा कि भले ही अमेरिका की जमीनी सेनाएं 20 साल तक चले जंग के बाद यहां से चली गई हों, लेकिन आतंकियों पर हमला करने का अधिकार उसके पास अभी भी बरकरार है।

पेंटागन के प्रेस सेक्रेटरी जॉन किर्बी ने कहा, “हम पाकिस्‍तान से जुड़ी अपनी चिंताओं को लेकर हमेशा से ईमानदार रहे हैं। यह बात सच है कि उनकी तरफ के बॉर्डर पर आज तक आतंकियों के सुरक्षित अड्डे मौजूद हैं। आज तक हमारी चिंताएं सच बनी हुई हैं। अमेरिकी नेताओं ने पाकिस्‍तानी समकक्षों के साथ हर बार वार्ता में इस मुद्दे को उठाया है कि अफगानिस्‍तान के पड़ोस में पाकिस्‍तान हमेशा अपनी जिम्‍मेदारी तय करे।”

कहा जा रहा है कि अमेरिका के इस बयान के बाद पाकिस्तान में खलबली मच गई है। जल्द ही अमेरिका के इस बयान पर पाकिस्तान प्रतिक्रिया दे सकता है।

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


Published: 01 Oct 2021, 10:41 AM