दुनिया की 5 बड़ी खबरें: इथियोपिया में हिरासत में UN का एक और कर्मचारी और तुर्की में इन देशों के नागरिकों के लिए नो एंट्री!

संयुक्त राष्ट्र के एक अन्य कर्मचारी को इथियोपिया की सरकार ने हिरासत में लिया है, जबकि विश्व निकाय ने नौ कर्मचारियों की रिहाई की मांग की है, जो पहले से ही हिरासत में हैं और तुर्की ने इराक, सीरिया और यमन के नागरिकों को तुर्की से बेलारूस के लिए उड़ान भरने की अनुमति नहीं दी।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

इथियोपिया में हिरासत में लिया गया संयुक्त राष्ट्र का एक और कर्मचारी

संयुक्त राष्ट्र के एक अन्य कर्मचारी को इथियोपिया की सरकार ने हिरासत में लिया है, जबकि विश्व निकाय ने नौ कर्मचारियों की रिहाई की मांग की है, जो पहले से ही हिरासत में हैं। संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंटोनियो गुटेरेस के उप प्रवक्ता फरहान हक ने कहा, "एक 10वें व्यक्ति को भी अब हिरासत में लिया गया है, इसलिए इनकी संख्या बढ़कर 10 हो गई है।" "70 से अधिक उप-ठेकेदार ड्राइवरों की संख्या में भी कोई बदलाव नहीं हुआ है।" ड्राइवर संयुक्त राष्ट्र और अंतरराष्ट्रीय गैर-सरकारी संगठनों के साथ अनुबंध के तहत उत्तरी संघर्ष-प्रभावित टाइग्रे क्षेत्र में मानवीय सहायता प्रदान करने के लिए थे। एक साल के विद्रोह की साइट जो बाद में अफार और अमहारा के पड़ोसी क्षेत्रों में फैल गई है। इस सप्ताह की शुरुआत में उन सभी लोगों को हिरासत में लिया गया था, जिन्हें सरकार द्वारा क्षेत्र के बाहर टाइग्रे समुदाय के सदस्यों को गिरफ्तार करने की प्रकाशित रिपोर्ट के बीच हिरासत में लिया गया था। संयुक्त राष्ट्र के कर्मचारियों को इथियोपिया की राजधानी अदीस अबाबा में रखा जा रहा है। संयुक्त राष्ट्र के अधिकारियों ने कहा कि टाइग्रे को राहत माल ढोने के दौरान ड्राइवरों को हिरासत में लिया गया था और उन्हें अफार क्षेत्र में रखा जा रहा था।

तुर्की ने इराक, सीरिया, यमन के नागरिकों के बेलारूस जाने पर लगाया प्रतिबंध

तुर्की नागरिक उड्डयन प्राधिकरण ने घोषणा की है कि इराक, सीरिया और यमन के नागरिकों को तुर्की से बेलारूस के लिए उड़ान भरने की अनुमति नहीं होगी। समाचार एजेंसी सिन्हुआ की रिपोर्ट के अनुसार, यूरोपीय संघ (ईयू)-बेलारूस सीमा पर वर्तमान में विकसित हो रहे प्रवासी संकट के बीच यह घोषणा की गई। विमान प्राधिकरण ने कहा, "यूरोपीय संघ और बेलारूस के बीच अवैध सीमा पार की समस्या के कारण, यह निर्णय लिया गया है कि इराक, सीरिया और यमन के नागरिक, जो तुर्की के हवाई अड्डों से बेलारूस की यात्रा करना चाहते हैं, उन्हें टिकट खरीदने या बोडिर्ंग करने की अनुमति नहीं दी जाएगी। पोलैंड और फिर जर्मनी में शरण लेने के लिए हजारों शरणार्थी सीमा के बेलारूसी हिस्से में जमा हो रहे हैं। बेलारूस पर पोलिश सीमा पार करने के लिए दुनिया के विभिन्न युद्ध क्षेत्रों से भागने वाले लोगों को प्रोत्साहित करने का आरोप लगाते हुए, यूरोपीय संघ ने कहा कि यह बेलारूस के खिलाफ नए प्रतिबंध लगा सकता है, जो देश में शरण चाहने वालों को परिवहन करने वाली एयरलाइन कंपनियों को भी कवर करेगा।

अफगानिस्तान तक जल्द बड़ी मदद पहुंचा सकता है भारत!

अफगानिस्तान में मानवीय मदद भेजने को तैयार भारत के रास्ते में पाकिस्तान लगातार अड़ंगा लगाए हुआ था, लेकिन अब पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने कहा है कि, वो भारत के मदद को लेकर 'अनुकूल' विचार करेंगे। जिसके बाद संभावना जताई जा रही है कि, भारतीय मदद को लेकर पाकिस्तान ने अब तक जो अड़ंगा लगा रखा था, उसे हटा सकता है। पाकिस्तानी अखबार 'डॉन' ने पाकिस्तानी अखबार इमरान खान के हवाले से लिखा है कि, तालिबान की तरफ से पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान से अनुरोध किया गया था कि, वो अफगानिस्तान तक भारतीय सहायता पहुंचने दें, जिसके बाद प्रधानमंत्री कार्याकल की तरफ से 'सकारात्मक' संकेत दिए गये हैं। भारतीय मदद को लेकर तालिबान के कार्यवाहक विदेश मंत्री आमिर खान मुत्ताकी के नेतृत्व में एक प्रतिनिधिमंडल ने इमरान खान से मुलाकात की थी, जिसमें इमरान खान ने कहा कि, ''पाकिस्तान तालिबान शासन के अनुरोध पर भारत द्वारा मानवीय उद्देश्यों के लिए "असाधारण आधार" 'अनुकूल' विचार करेगा''।

पाकिस्तान ने भारत के 3,000 सिख तीर्थयात्रियों को जारी किया वीजा

पाकिस्तान उच्चायोग ने भारतीय सिख तीर्थयात्रियों को लगभग 3,000 वीजा जारी किए हैं, ताकि वे 17-26 नवंबर तक पाकिस्तान में गुरु नानक की 552वीं जयंती समारोह में भाग ले सकें। पाकिस्तान के प्रमुख अखबार डॉन की रिपोर्ट में यह जानकारी दी गई है। उच्चायोग द्वारा जारी एक बयान के अनुसार, सिख तीर्थयात्री पाकिस्तान में अपनी यात्रा के दौरान ननकाना साहिब में गुरुद्वारा जन्म स्थान और करतारपुर में गुरुद्वारा दरबार साहिब सहित विभिन्न गुरुद्वारों का दौरा करेंगे। रिपोर्ट में कहा गया है कि सिख तीर्थयात्रियों को वीजा 1974 के धार्मिक स्थलों की यात्रा पर पाकिस्तान-भारत प्रोटोकॉल के तहत जारी किया गया है, जिसमें सिख धर्म के संस्थापक की जयंती समारोह के लिए भारत से 3,000 सिख तीर्थयात्रियों की यात्रा का प्रावधान है। भारत के अलावा अन्य देशों में रहने वाले हजारों सिख तीर्थयात्री भी इस कार्यक्रम में शामिल होने के लिए पाकिस्तान जाएंगे। भारत में पाकिस्तान उच्चायोग ने सिख धर्म के संस्थापक की 552वीं जयंती पर सिख समुदाय को बधाई दी। रिपोर्ट में कहा गया है कि उच्चायोग ने इस अवसर पर पाकिस्तान आने वाले तीर्थयात्रियों के लिए आध्यात्मिक रूप से महत्वपूर्ण मानी जाने वाली मंगलमय यात्रा की भी कामना की।

बाइडेन ने गूगल स्वास्थ्य कार्यकारी को एफडीए प्रमुख के रूप में चुना

अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन ने गूगल के वरिष्ठ स्वास्थ्य सलाहकार डॉ रॉबर्ट कैलिफ को खाद्य एवं औषधि एडमिनिस्ट्रेशेन(एफडीए) का अगला प्रमुख चुना है। वर्तमान में, कैलिफ ड्यूक यूनिवर्सिटी स्कूल ऑफ मेडिसिन में मेडिसिन के प्रोफेसर हैं, जहां उन्होंने पहले कुलपति के रूप में काम किया और ड्यूक क्लिनिकल रिसर्च इंस्टीट्यूट की स्थापना की और मूल कंपनी अल्फाबेट के दो डिवीजनों वेरीली लाइफ साइंसेज और गूगल हेल्थ के वरिष्ठ सलाहकार के रूप में काम किया। उन्होंने कई ऐतिहासिक क्लीनिकल ट्रायल्स का नेतृत्व किया है और जैव चिकित्सा विज्ञान के लेखकों में से एक हैं। बाइडेन ने शुक्रवार को एक बयान में कहा, "चूंकि एफडीए वैक्सीन मंजूर और अन्य कई परिणामी निर्णयों पर विचार करते हैं, इसलिए यह मिशन महत्वपूर्ण है कि एफडीए का मार्गदर्शन करने के लिए हमारे पास एक स्थिर, स्वतंत्र हाथ है।" उन्होंने कहा, "मुझे विश्वास है कि डॉ कैलिफ यह सुनिश्चित करेंगे कि एफडीए अपने विज्ञान और डेटा ड्राइव निर्णय लेने को जारी रखे।"

(आईएएनएस के इनपुट के साथ)

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia