Getting Latest Election Result...

ऑडियो लीक मामला: पाक पीएम हाउस में जांच समिति ने ली तलाशी, कर्मचारी और अधिकारियों के मोबाइल फोन ले जाने पर बैन

पाकिस्तान में प्रधानमंत्री आवास से अनौपचारिक बातचीत के लीक होने की जांच के लिए गठित उच्चाधिकार प्राप्त समिति ने पूरे परिसर की तलाशी ली।

फोटो: IANS
फोटो: IANS
user

नवजीवन डेस्क

पाकिस्तान में प्रधानमंत्री आवास से अनौपचारिक बातचीत के लीक होने की जांच के लिए गठित उच्चाधिकार प्राप्त समिति ने पूरे परिसर की तलाशी ली। इसकी जानकारी सूत्रों ने दी। सूत्रों ने डॉन न्यूज को बताया, उन्होंने इमारत का गहन निरीक्षण किया है। टीम प्रधानमंत्री आवास और कार्यालय के कर्मचारियों और अधिकारियों के मोबाइल फोन डाटा और लैपटॉप की भी निगरानी कर रही है।

पिछले हफ्ते ऑडियो लीक की घटना के बाद, एक नई मानक संचालन प्रक्रिया (एसओपी) लागू की गई है, जिसके तहत किसी भी कर्मचारी और अधिकारी को अपना मोबाइल फोन बिल्डिंग के अंदर ले जाने की अनुमति नहीं है।

आपको बता दें कि ऑडियो में प्रधानमंत्री शहबाज शरीफ, पीएमएल-एन नेता मरियम नवाज और पूर्व पीएम इमरान खान की आवाज होने का दावा किया जा रहा है। सूत्र ने डॉन न्यूज को बताया, फोन प्रवेश द्वार पर एकत्र किए जाते हैं और कार्यालय समय के बाद वापस कर दिए जाते हैं।


इस बीच, कानून मंत्री आजम नजीर तरार ने गुरुवार को एक संवाददाता सम्मेलन में कहा कि राज्य के संस्थानों ने पीएमओ की सुरक्षा को सुरक्षित करने के लिए प्रधानमंत्री आवास की सुरक्षा के कुछ एसओपी को बदल दिया है।

उन्होंने कहा कि आधुनिक तकनीक, खासकर साइबर सुरक्षा के संदर्भ में नियमों में बदलाव समय की जरूरत है। उन्होंने टिप्पणी की, कई संवेदनशील मामलों पर महत्वपूर्ण स्थानों पर चर्चा की जाती है, जहां माहौल ऐसा होना चाहिए कि हर कोई राष्ट्रीय निर्णय लेने से 100 प्रतिशत संतुष्ट हो।


मंत्री ने आगे कहा कि सरकार भविष्य में उठाए जाने वाले कदमों पर विचार कर रही थी। तरार ने कहा कि संवेदनशील इमारतों के लिए बुनियादी एसओपी पहले से ही मौजूद थी और सुरक्षा उपायों को प्रभावी बनाने और भविष्य में इस तरह के उल्लंघन को रोकने के लिए आगे के आदेश दिए गए हैं।

आईएएनएस के इनपुट के साथ

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia