दुनिया की 5 बड़ी खबरें: पाक सैनिक अफगान सीमा पर गोलीबारी में मारा गया, दुनियाभर में कोरोना के मामले 1.66 करोड़ के पार

खैबर पख्तूनख्वा प्रांत में बुधवार को अफगानिस्तान की ओर से सीमा पार से की गई गोलीबारी में एक पाकिस्तानी सैनिक मारा गया। जॉन्स हॉपकिंस विश्वविद्यालय के अनुसार, दुनियाभर में कोरोनोवायरस के मामलों की कुल संख्या 1.66 करोड़ की संख्या पार कर गई है।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

जरदारी, अन्य के खिलाफ इस्लामाबाद की अदालत में सुनवाई 7 अगस्त तक स्थगित

पाकिस्तान की राजधानी इस्लामाबाद की एक जवाबदेही अदालत ने पूर्व राष्ट्रपति आसिफ अली जरदारी और अन्य के खिलाफ दर्ज फर्जी खातों और धनशोधन (मनी लॉन्ड्रिंग) मामले की सुनवाई सात अगस्त तक स्थगित कर दी है। जियो न्यूज ने बुधवार को यह जानकारी दी। पिछले सप्ताह जवाबदेही अदालत ने मेगा मनी लॉन्ड्रिंग मामले में आसिफ अली जरदारी और उनकी बहन फरयाल तालपुर के अभियोग को टाल दिया था।

इस संबंध में शुक्रवार को अदालती सुनवाई नहीं हो सकी, क्योंकि न्यायाधीश आजम खान सुनवाई के लिए उपलब्ध नहीं थे। द न्यूज इंटरनेशनल की रिपोर्ट के अनुसार, अक्टूबर 2015 में कराची में संघीय जांच एजेंसी (एफआईए) की भ्रष्टाचार रोधी शाखा को सम्मिट बैंक, सिंध बैंक और यूनाइटेड बैंक लिमिटेड से संदिग्ध इंट्रा-बैंक लेनदेन की सूचना मिली थी। खाताधारकों की प्रोफाइल उनकी कमाई/आय से मेल नहीं खा रही थी। एफआईए के अधिकारियों को संदेह हुआ कि ये खाते जरदारी समूह और ओमनी समूह द्वारा चलाए जा रहे हैं।

दुनियाभर में कोविड-19 के मामले हुए 1.66 करोड़ के पार

जॉन्स हॉपकिंस विश्वविद्यालय के अनुसार, दुनियाभर में कोरोनोवायरस के मामलों की कुल संख्या 1.66 करोड़ की संख्या पार कर गई है, जबकि इससे होने वाली मौतों की संख्या 659,000 से अधिक हो गई हैं। विश्वविद्यालय के सेंटर फॉर सिस्टम साइंस एंड इंजीनियरिंग (सीएसएसई) ने अपने नवीनतम अपडेट में खुलासा किया कि बुधवार की सुबह तक कुल मामलों की संख्या 16,667,130 थी, जबकि इससे होने वाली मौतों की संख्या 659,045 हो गई है। सीएसएसई के अनुसार, अमेरिका 4,349,324 मामलों और 149,235 मौतों के साथ दुनिया का सबसे अधिक प्रभावित देश बना हुआ है।ब्राजील 2,483,191 संक्रमण और 88,539 मौतों के साथ दूसरे स्थान पर है।

एआईआईबी के सदस्य देश 57 से बढ़कर 103 हुए

एशियाई आधारभूत संस्थापन निवेश बैंक (एआईआईबी) के पांचवें परिषद का वार्षिक सम्मेलन 28 जुलाई को वीडियो के माध्यम से आयोजित हुआ। पिछले चार से अधिक सालों में एआईआईबी के सदस्यों की संख्या 57 से बढ़कर 103 तक जा पहुंची, जो दुनिया के छह महाद्वीपों से आते हैं। एआईआईबी चीन के नेतृत्व में स्थापित हुआ, जो एशिया की अर्थव्यवस्था को बढ़ाने में संलग्न है। पिछले चार से अधिक सालों में एआईआईबी ने अपने अधिकांश ऋण चीन के अलावा अन्य सदस्य देशों को दिये। एआईआईबी ने भारत को 75 करोड़ अमेरिकी डॉलर का आपात ऋण दिया। संयुक्त राष्ट्र संघ और क्षेत्रीय विकास बैंक समेत बहुत से अंतर्राष्ट्रीय संगठनों ने एआईआईबी के साथ सहयोग के समझौते संपन्न किये हैं। कोविड-19 महामारी के दौरान एआईआईबी ने विश्व बैंक, अंतर्राष्ट्रीय वित्त निगम और एशियाई विकास बैंक के साथ सहयोग कर विकासशील देशों को सहायता दी।

एआईआईबी ने 3 अप्रैल को घोषणा की थी कि महामारी के मुकाबले में 5 अरब डॉलर का संकट कोष स्थापित किया जाएगा। वहीं, 17 अप्रैल को इसे 10 अरब डॉलर तक बढ़ाया। अब तक भारत, बांग्लादेश, थाईलैंड, इंडोनेशिया, तुर्की, जॉर्जिया, फिलीपींस, मंगोलिया, पाकिस्तान, मालदीव, कजाकिस्तान और वियतनाम आदि देशों को 5.9 अरब डॉलर का समर्थन मिला है।

हांगकांग ने कनाडा, ऑस्ट्रेलिया और ब्रिटेन के साथ आपराधिक न्यायिक सहायता समझौते स्थगित किए

चीन के हांगकांग विशेष प्रशासनिक क्षेत्र की सरकार ने 28 जुलाई को हांगकांग स्थित कनाडा, ऑस्ट्रेलिया और ब्रिटेन के कौंसुलेटों को सूचना दी कि इन देशों के साथ आपराधिक न्यायिक सहायता पर समझौतों का कार्यान्वयन स्थगित किया गया है। हांगकांग के प्रवक्ता ने कहा कि कानून के जरिए राष्ट्रीय सुरक्षा की गारंटी अंतर्राष्ट्रीय नियम है। कनाडा, ऑस्ट्रेलिया और ब्रिटेन में राष्ट्रीय सुरक्षा और प्रभुसत्ता की रक्षा से संबंधित कानून और नियम हैं। लेकिन इन देशों ने हांगकांग में राष्ट्रीय सुरक्षा कानून के बहाने से एकतरफा तौर पर हांगकांग के साथ संपन्न भगोड़े अपराधियों के हस्तांतरण पर समझौता स्थगित किया। यह दोहरे मापदंडों की मिसाल है। प्रवक्ता ने कहा कि इन तीन देशों ने गंभीरता से चीन के अंदरूनी मामलों में हस्तक्षेप किया, अंतर्राष्ट्रीय कानून और अंतर्राष्ट्रीय संबंधों के सावधानीपूर्वक बुनियादी मापदंडों का उल्लंघन किया। हांगकांग इसका दृढ़ विरोध करता है।

पाक सैनिक अफगान सीमा पर गोलीबारी में मारा गया

खैबर पख्तूनख्वा प्रांत में बुधवार को अफगानिस्तान की ओर से सीमा पार से की गई गोलीबारी में एक पाकिस्तानी सैनिक मारा गया। अधिकारियों ने यह जानकारी दी। समाचार एजेंसी सिन्हुआ के मुताबिक, सेना के एक बयान में कहा गया है कि आतंकवादियों ने बाजौर जिले में सुरक्षा बलों की चौकी पर अफगान सीमा की ओर से गोलीबारी की। पाकिस्तानी सुरक्षा अधिकारी लंबे समय से कहते रहे हैं कि देश के कबायली क्षेत्रों में बड़े अभियानों के परिणामस्वरूप आतंकवादी अफगानिस्तान में सीमा पार कर गए हैं। पाकिस्तानी आतंकवादी अफगान की ओर से आए दिन सीमा चौकियों पर हमला करते हैं।

आईएएनएस के इनपुट के साथ

Published: 29 Jul 2020, 9:00 PM
लोकप्रिय
next