दुनिया की खबरें: तुर्की ने 18000 से अधिक अफगान प्रवासियों को वापस भेजा, पेरू में खनिकों की झड़प में 14 की मौत

एलन मस्क के स्पेसएक्स ने 2022 के अपने 23वें रॉकेट लॉन्च में मिस्र की कंपनी नाइलसैट द्वारा संचालित कक्षा में एक उपग्रह को सफलतापूर्वक लॉन्च किया है। विश्व बैंक ने दक्षिण सूडान में कमजोर परिवारों की मदद के लिए 129 मिलियन डॉलर के अनुदान को मंजूरी दी है।

फोटोः IANS
फोटोः IANS
user

नवजीवन डेस्क

तुर्की ने 18,000 से अधिक अफगान प्रवासियों को स्वदेश वापस भेजा

तुर्की ने कुल 18,256 अफगानों को उनके देश वापस भेज दिया है। 27 जनवरी से युद्धग्रस्त देश के लिए उड़ानें फिर से शुरू हो गई हैं। देश के गृह मंत्रालय ने यह जानकारी दी। समाचार एजेंसी सिन्हुआ ने मंत्रालय के हवाले से कहा कि इस साल की शुरूआत से अपने देश भेजे गए अवैध प्रवासियों की कुल संख्या 34,112 हो गई है।

89 देशों के कुल 24,344 विदेशियों को निर्वासन के लिए प्रशासनिक हिरासत में रखा गया है।
अगस्त 2021 में जब से तालिबान ने अफगानिस्तान पर नियंत्रण किया है, तुर्की क्षेत्र में अवैध क्रॉसिंग बढ़ रही है। तुर्की उन प्रवासियों के लिए एक प्रमुख पारगमन बिंदु रहा है जो यूरोप को पार करने का लक्ष्य रखते हैं।

पेरू में खनिकों की झड़प में 14 लोगों की मौत

पेरू के अरेक्विपा विभाग में छोटे पैमाने पर सोने के खनिकों के समूहों के बीच संघर्ष में कम से कम 14 लोग मारे गए। स्थानीय अभियोजक कार्यालय ने यह जानकारी दी। अरेक्विपा के अभियोजक मारिया डेल रोसारियो लोजादा ने बुधवार को स्थानीय मीडिया को बताया कि सात शवों को गोलियों के घाव के साथ पाया गया और सात और मंगलवार को पाए गए, जबकि और शवों की खोज की जा सकती है क्योंकि कई लोग लापता हैं।

स्थानीय समाचार पत्र एल कॉमेर्सियो के अनुसार, 2 जून को कारवेली प्रांत के एटिको जिले में हुआनाक्विटा नामक एक विवादित क्षेत्र में हिंसा भड़क उठी। लोजादा ने कहा कि अधिकारियों ने घटना के सिलसिले में 31 लोगों को गिरफ्तार किया है और घटना में उनकी भूमिका निर्धारित करने के लिए बरामद आग्नेयास्त्रों और गोला-बारूद पर बैलिस्टिक जांच की जाएगी।अभियोजक का कार्यालय घटना के वीडियो और ऑडियो का विश्लेषण कर रहा है ताकि जिम्मेदार लोगों की पहचान की जा सके।

फोटोः IANS
फोटोः IANS

स्पेसएक्स ने मिस्र के संचार सैटेलाइट को कक्षा में लॉन्च किया

एलन मस्क के स्पेसएक्स ने 2022 के अपने 23वें रॉकेट लॉन्च और लैंडिंग में मिस्र की कंपनी नाइलसैट द्वारा संचालित की जाने वाली कक्षा में एक उपग्रह को सफलतापूर्वक लॉन्च किया है।
कंपनी ने अपनी वेबसाइट पर पोस्ट किया कि दो चरणों वाला एक फाल्कन 9 रॉकेट बुधवार को शाम 5:04 बजे फ्लोरिडा के केप कैनावेरल स्पेस फोर्स स्टेशन के स्पेस लॉन्च कॉम्प्लेक्स 40 से नाइलसैट 301 को जियोसिंक्रोनस ट्रांसफर ऑर्बिट में ले गया।

यह इस बूस्टर का सातवां लॉन्च और लैंडिंग था। कंपनी ने कहा कि इसने दो स्टारलिंक मिशन शुरू करने में भी मदद की। नाइलसैट 301 भूस्थिर कक्षा से संचालित होगा, जो पृथ्वी से लगभग 35,800 किलोमीटर ऊपर है। स्पेसएक्स के पास जून 2022 में पांच और लॉन्च की योजना है, जिसमें एक अजीब तरह से गुप्त ग्लोबलस्टार मिशन और जून के मध्य में स्टारलिंक लॉन्च शामिल है।

दुनिया की खबरें: तुर्की ने 18000 से अधिक अफगान प्रवासियों को वापस भेजा, पेरू में खनिकों की झड़प में 14 की मौत

'समिट ऑफ अमेरिकाज' से नदारद रहे कई लातिन अमेरिकी देश

अमेरिका में बुधवार को तीन दिवसीय 'समिट ऑफ अमेरिकाज' की शुरूआत की गई, लेकिन इस शिखर सम्मेलन में कई महत्वपूर्ण देशों की अनुपस्थिति ने सम्मेलन की सफलता पर प्रश्नचिह्न् लगा दिया है। चीन की संवाद समिति शिन्हुआ की रिपोर्ट के अनुसार, राष्ट्रपति जो बाइडेन इस सम्मेलन की अगुवाई करेंगे। इस सम्मेलन में आर्थिक विकास, जलवायु परिवर्तन और कोविड-19 महामारी के विषय पर चर्चा होने की संभावना है।

लातिन अमेरिकी देश मेक्सिको, ग्वाटेमाला, होंडुरास और अल सल्वाडोर ने इस सम्मेलन का बहिष्कार कर दिया है तो क्यूबा, वेनेजुएला और निकारागगुआ को खुद अमेरिका ने भी आमंत्रित नहीं किया है। बोलिविया ने भी सम्मेलन में शामिल होने से इनकार कर दिया है। ऊरूग्वे के राष्ट्रपति लुईस लकाले पू कोरोना वायरस संक्रमित होने के कारण इसमें नहीं शामिल होंगे।
मेक्सिको के राष्ट्रपति एंड्रेस मैनुअल लोपेज ओब्राडर ने सोमवार को ही यह कहकर सम्मेलन को विवादों में ला दिया था कि जिस सम्मेलन में अमेरिका के सभी देश शामिल ही न हों, उसे समिट ऑफ अमेरिकाज नहीं कहा जा सकता है।

दुनिया की खबरें: तुर्की ने 18000 से अधिक अफगान प्रवासियों को वापस भेजा, पेरू में खनिकों की झड़प में 14 की मौत

विश्व बैंक ने दक्षिण सूडान के लिए 129 मिलियन डॉलर अनुदान को मंजूरी दी

विश्व बैंक ने कहा कि उसने दक्षिण सूडान में सबसे कमजोर परिवारों के लिए आर्थिक और आजीविका के अवसरों तक पहुंच बढ़ाने लिए 129 मिलियन डॉलर के अनुदान को मंजूरी दी है।
वैश्विक ऋणदाता ने यहां जारी एक बयान में कहा कि अंतर्राष्ट्रीय विकास संघ (आईडीए) के अनुदान में मेजबान समुदायों और शरणार्थियों (डब्ल्यूएचआर) के लिए आईडीए19 विंडो से 25 मिलियन डॉलर और संकट प्रतिक्रिया विंडो (सीआरडब्ल्यू) से 30 मिलियन डॉलर शामिल हैं।

दुनिया की खबरें: तुर्की ने 18000 से अधिक अफगान प्रवासियों को वापस भेजा, पेरू में खनिकों की झड़प में 14 की मौत

दक्षिण सूडान के विश्व बैंक के कंट्री मैनेजर फिरास राद ने कहा कि नए वित्त पोषण से सरकार को धीरे-धीरे एक राष्ट्रीय स्वामित्व वाला सुरक्षा जाल कार्यक्रम स्थापित करने में मदद मिलेगी।
राड ने कहा कि यह देश में एक अनुमानित और विश्वसनीय राष्ट्रीय सुरक्षा तंत्र बनाए रखने और राष्ट्रीय संस्थानों में नागरिकों के विश्वास को बढ़ाने में भी मदद करेगा। एसएनएसओपी का लक्ष्य अब तक हासिल किए गए विकास लाभों को समेकित और गहरा करना, प्रत्यक्ष आय तक पहुंच प्रदान करना और सबसे गरीब और सबसे कमजोर परिवारों के लिए सामाजिक और आर्थिक अवसरों को बढ़ाना है।

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia