दुनिया की बड़ी खबरें: अमेरिकी संसद में रूस पर गरजे जेलेंस्की, रूस ने यूक्रेन से वार्ता में समझौते की उम्मीद जताई

संयुक्त राष्ट्र शरणार्थी एजेंसी ने सीरिया में 12 साल से चले आ रहे युद्ध से विस्थापित हुए सीरियाई लोगों की दुर्दशा को नहीं भुलाने की वैश्विक अपील जारी की। ईरान में चाहरशांबे सूरी या फायर फेस्टिवल में कम से कम 11 लोगों की मौत हो गई और 486 लोग घायल हो गए।

फोटोः सोशल मीडिया
फोटोः सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

अमेरिकी संसद में रूस पर गरजे जेलेंस्की, यूक्रेन के सपनों पर हमले का आरोप लगाया

यूक्रेन के राष्ट्रपति वलोदिमिर ज़ेलेंस्की ने आज अमेरिकी संसद को संबोधित किया। इस दौरान उन्होंने भारी समर्थन के लिए अमेरिका का आभार जताया और कहा कि रूस ने न सिर्फ हम पर, न सिर्फ हमारी जमीन पर, न सिर्फ हमारे शहरों पर, बल्कि हमारे मूल्यों के खिलाफ, हमारे अपने देश में स्वतंत्र रूप से जीने के हमारे अधिकार के खिलाफ, हमारे राष्ट्रीय सपनों के खिलाफ एक क्रूर हमला किया है। ये सपने ठीक आप अमेरिकियों जैसे सपने हैं। अपने भाषण की शुरुआत में जेंलेंस्की ने रूस के हमलों के खिलाफ अमेरिका के भारी समर्थन के लिए आभार जताया। जेलेंस्की के भाषण के बाद अमेरिकी सांसदों ने खड़े होकर तालियों की गड़गड़ाहट के साथ उनकी तारीफ की।

दुनिया की बड़ी खबरें: अमेरिकी संसद में रूस पर गरजे जेलेंस्की, रूस ने यूक्रेन से वार्ता में समझौते की उम्मीद जताई

रूस ने यूक्रेन से बातचीत में समझौते की उम्मीद जताई

रूस के विदेश मंत्री सर्गेई लावरोव ने आज एक बड़ा बयान देते हुए कहा कि रूस और यूक्रेन के बीच बातचीत आसान नहीं है, लेकिन समझौते की कुछ उम्मीद है। लावरोव ने आरबीसी के साथ एक साक्षात्कार में कहा, "मैं हमारे वार्ताकारों द्वारा दिए गए आकलन से निर्देशित हूं। वे कहते हैं कि बातचीत स्पष्ट कारणों से अच्छी नहीं चल रही है।" हालांकि, उनके अनुसार समझौता होने की कुछ उम्मीद है।

रूसी प्रतिनिधिमंडल के प्रमुख, व्लादिमीर मेडिंस्की ने कहा कि कीव के साथ बातचीत में रूस का लक्ष्य नहीं बदला है- मास्को को एक शांतिपूर्ण, स्वतंत्र, तटस्थ और स्वतंत्र यूक्रेन की जरूरत है और आने वाली 'पीढ़ियों के लिए समझौते' की जरूरत है। उन्होंने कहा कि हमें एक शांतिपूर्ण, मुक्त और स्वतंत्र यूक्रेन की आवश्यकता है। एक ऐसा देश जो तटस्थ हो, सैन्य गुटों का सदस्य नहीं, नाटो का सदस्य नहीं, एक ऐसा देश जो हमारा मित्र, पड़ोसी है, जिसके साथ हम एक साथ संबंध विकसित कर रहे हैं, अपने भविष्य का निर्माण कर रहे हैं और जो हमारे देश के खिलाफ सैन्य और आर्थिक हमलों का अड्डा न हो।"

दुनिया की बड़ी खबरें: अमेरिकी संसद में रूस पर गरजे जेलेंस्की, रूस ने यूक्रेन से वार्ता में समझौते की उम्मीद जताई

अमेरिका यूक्रेन के जैव लैब को स्वतंत्र जांच के लिए खोले- चीन

चीनी विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता चाओ लीच्येन ने 15 मार्च को हुई प्रेस वार्ता में कहा कि चीन अमेरिका से यूक्रेन स्थित जैव प्रयोगशाला को स्वतंत्र जांच के लिए खोलने और जैव हथियार पाबंदी समझौते की जांच व्यवस्था स्थापित करने का विरोध नहीं करने की अपील करता है। चीनी प्रवक्ता ने बताया कि हाल ही में जारी खबरों के अनुसार यूक्रेन में दसियों जैव प्रयोगशाला अमेरिकी रक्षा मंत्रालय के आदेश के मुताबिक संचालित है। इन प्रयोगशालाओं में अमेरिका की पूंजी 20 करोड़ अमेरिकी डॉलर से अधिक है।

चीनी प्रवक्ता ने बताया कि रूस ने यूक्रेन के जैव प्रयोगशालाओं में अमेरिका की कुछ अध्ययन योजनाएं जारी कीं, जिनमें प्रवासी पक्षी और चमगादड़ के प्रयोग कर वायरस फैलाने की योजना शामिल है। प्रवक्ता ने बताया कि अगर अमेरिका अपनी सफाई साबित करना चाहता है, तो उसे जिम्मेदारी उठाकर अपनी जैविक सैन्य गतिविधियों का पूरा स्पष्टीकरण करना चाहिए।

दुनिया की बड़ी खबरें: अमेरिकी संसद में रूस पर गरजे जेलेंस्की, रूस ने यूक्रेन से वार्ता में समझौते की उम्मीद जताई

ईरान में फायर फेस्टिवल के दौरान 11 की मौत, 486 लोग घायल

ईरान में चाहरशांबे सूरी या फायर फेस्टिवल के दौरान कम से कम 11 लोगों की मौत हो गई और 486 लोग घायल हो गए। समाचार एजेंसी सिन्हुआ ने ईरान के आपातकालीन संगठन के प्रवक्ता मोजतबा खालिदी के हवाले कहा कि गंभीर घायलों में 49 लोगों को अस्पताल में भर्ती कराया गया है। खालिदी ने कहा कि ज्यादातर हताहतों की संख्या पिछले साल की तुलना में 47 प्रतिशत अधिक है, जो पिछले चार से पांच दिनों में हुई है।

ईरानी नववर्ष 21 मार्च को मनाते हैं। अंतिम बुधवार की पूर्व संध्या पर फायर फेस्टिवल मनाया जाता है। ईरानी लोग अलाव पर कूदकर और सार्वजनिक स्थानों पर पटाखों का उपयोग करके अग्नि उत्सव मनाते हैं, जो पुराने वर्ष को विदाई देने और नए साल का स्वागत करने के लिए किया जाने वाला त्योहार है।

दुनिया की बड़ी खबरें: अमेरिकी संसद में रूस पर गरजे जेलेंस्की, रूस ने यूक्रेन से वार्ता में समझौते की उम्मीद जताई

दुनिया को सीरिया में लोगों की दुर्दशा को नहीं भूलना चाहिए- UNHRC

संयुक्त राष्ट्र शरणार्थी एजेंसी (यूएनएचसीआर) ने मंगलवार को देश में 12 साल से चले आ रहे युद्ध से विस्थापित हुए सीरियाई लोगों की दुर्दशा को नहीं भुलाने की वैश्विक अपील जारी की। समाचार एजेंसी सिन्हुआ की रिपोर्ट के अनुसार, यूएनएचसीआर के प्रवक्ता बोरिस चेशिरकोव ने मंगलवार को एक प्रेस वार्ता में कहा, "इस संकट के शुरू होने के 11 साल बाद, सीरिया दुनिया का सबसे बड़ा विस्थापन संकट बना हुआ है। 1.3 करोड़ से ज्यादा लोग देश छोड़कर भाग गए हैं या विस्थापित हो गए हैं।"

दुनिया की बड़ी खबरें: अमेरिकी संसद में रूस पर गरजे जेलेंस्की, रूस ने यूक्रेन से वार्ता में समझौते की उम्मीद जताई

चेशिरकोव ने कहा कि सीरिया की सीमा से लगे या उसके करीब के देशों ने 56 लाख से ज्यादा सीरियाई शरणार्थियों की मेजबानी की है। ये देश अब खासकर कोरोना महामारी के विनाशकारी सामाजिक-आर्थिक प्रभाव के कारण बढ़े हुए वित्तीय दबाव में हैं। चेशिरकोव ने चेतावनी दी, "आज, इस क्षेत्र में अधिकांश सीरियाई शरणार्थी गरीबी में रहते हैं। उनमें से सबसे कमजोर लोगों के लिए संभावनाएं गंभीर हैं।"

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia