दुनिया

नीरव मोदी को बीजेपी ने ही भगाया, अब चुनाव के लिए वापस लाकर फिर छोड़ देगी: कांग्रेस

भारत के सबसे बड़े बैंकिंग घोटाले का आरोपी और हीरा कारोबारी नीरव मोदी को लंदन पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। पीएनबी से हजारों करोड़ के घोटाले के खुलासे के बाद गिरफ्तारी से बचने के लिए विदेश भागे नीरव मोदी को भगोड़ा घोषित कर दिया गया था।

फोटोः सोशल मीडिया

नवजीवन डेस्क

भारत में हजारों करोड़ का घोटाला कर लंदन में बेखौफ घूम रहा नीरव मोदी गिरफ्तार हो गया है। मंगलवार को लंदन पुलिस ने उसे लंदन के होलबोर्न मेट्रो स्टेशन से गिरफ्तार किया है। मिली जानकारी के अनुसार लंदन पुलिस अब नीरव मोदी को वहां के समय के अनुसार सुबह 11.20 पर कोर्ट में पेश करेगी। हाल ही में उसके लंदन में देखे जाने के बाद खबर आई थी कि वह लंदन के पॉश इलाके पॉइंट टावर ब्लॉक के एक 3 बेडरुम के फ्लैट में रह रहा है, जिसका किराया 17 हजार पौंड महीना है।

गौरतलब है कि नीरव मोदी के इतना बड़ा घोटाला कर देश से आसानी से भागने को लेकर विपक्षी पार्टियां लगातार मोदी सरकार को घेर रही हैं। विपक्ष का आरोप है कि सरकार की नाकामी की वजह से वह लंदन भागने में सफल रहा। नीरव मोदी की गिरफ्तारी और भारत प्रत्यर्पण की खबरों पर कांग्रेस के वरिष्ठ नेता गुलाम नबी आजाद ने कहा कि बीजेपी ने उसे भागने में मदद की थी। अब वे उसे चुनाव के लिए वापस ला रहे हैं। उन्होंने कहा कि बीजेपी नीरव मोदी को चुनाव के बाद फिर वापस भेज देगी।

बीते दिनों लंदन की सड़कों पर उसके बेकौफ घुमते देखे जाने के बाद दबाव में आई भारत सरकार ने उसके प्रत्यर्पण के लिए कोशिशें शुरू की थीं। इसके तहत ईडी ने मनी लॉन्ड्रिंग मामले में ब्रिटेन से नीरव मोदी के भारत प्रत्यर्पण की अपील की थी, जिस पर लंदन की वेस्टमिंस्टर कोर्ट ने नीरव मोदी के खिलाफ गिरफ्तारी वारंट जारी कर दिया था। ये गिरफ्तारी उसी वारंट के आलोक में की गई है।

भारत में करीब 13 महीने पहले 13 हजार करोड़ के पीएनबी लोन घोटाले के खुलासे के बाद नीरव मोदी विदेश भाग गया था, जिसके बाद उसे भगोड़ा घोषित कर दिया गया था। घोटाले में भारतीय जांच एजेंसियों को नीरव मोदी की तलाश थी। अब उसकी गिरफ्तारी के बाद भारत सरकार ब्रिटेन से उसके प्रत्‍यपर्ण का प्रयास करेगी। भारत से सीबीआई और प्रवर्तन निदेशालय की टीम लंदन जा सकती है।

Published: 20 Mar 2019, 4:25 PM
लोकप्रिय