ब्रेक्जिट के कारण ब्रिटेन की एक और सरकार खतरे में, पीएम बोरिस जॉनसन ने खोया बहुमत

ब्रेक्जिट को लेकर अपनी कंजरवेटिव पार्टी में विरोधियों से निपटने की तैयारी में लगे प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन को उस समय करारा झटका लगा, जब मंगलवार को उनकी पार्टी के एक सांसद फिलिप ली दल-बदल कर यूरोपीय संघ के समर्थक लिबरल डेमोक्रेट्स धड़े में शामिल हो गए।

फोटोः सोशल मीडिया
फोटोः सोशल मीडिया

नवजीवन डेस्क

ब्रिटेन में ‘ब्रेक्जिट’ की वजह से राजनीतिक अस्थिरता का दौर जारी है। अगले महीने के आखिर में ‘ब्रेक्जिट’ पर होने वाले एक अहम मतदान से पहले मंगलवार को कंजरवेटिव पार्टी के एक सांसद के पाला बदल लेने की वजह से ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन ने संसद में बहुमत खो दिया है। इसके बाद से ब्रेक्जिट के कारण एक बार फिर ब्रिटेन पर राजनीतिक अस्थिरता का संकट गहराता नजर आ रहा है।

ब्रेक्जिट को लेकर अपनी कंजरवेटिव पार्टी में विरोधियों से निपटने की तैयारी में लगे प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन को उस समय करारा झटका लगा, जब मंगलवार को उनकी पार्टी के एक सांसद फिलिप ली संसद में दल-बदल कर यूरोपीय संघ (ईयू) के समर्थक लिबरल डेमोक्रेट्स धड़े में शामिल हो गए। संसद में फिलिप ली पाला बदलकर लिबरल डेमोक्रेट सांसदों के साथ विपक्ष की बेंच पर उस समय जाकर बैठ गए, जब पीएम जॉनसन हाउस ऑफ कॉमन्स को संबोधित कर रहे थे।

लिबरल डेमोक्रेट्स ने एक बयान जारी कर कहा कि लिबरल डेमोक्रेट्स को यह घोषणा करते हुए खुशी महसूस हो रही है कि सांसद फिलिप ली पार्टी में शामिल हो गए हैं। वहीं सांसद फिलिपली ने अपने फैसले को लेकर कहा कि सरकार लोगों की रोजी-रोटी को दांव पर लगाकर गैर सैद्धांतिक तरीके से एक घातक ब्रेक्जिट को अमली जामा पहनाने की कोशिश कर रही है।

गौरतलब है कि ब्रिटिश प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन इन दिनों अपनी पार्टी के उन बागी सांसदों से निपटने की कोशिश कर रहे हैं, जो ब्रेक्जिट का विरोध कर रहे हैं। बीते दिनों उन्होंने अपनी पार्टी के ऐसे सांसदों को एक तरह से चेतावनी देते हुए कहा था कि वह अभी आम चुनाव नहीं चाहते हैं। सोमवार को डाउनिंग स्ट्रीट में एक बयान में उन्होंने कहा था कि किसी भी परिस्थिति में 31 अक्टूबर को निर्धारित ब्रेक्जिट में किसी भी तरह की देरी को स्वीकार नहीं करेंगे। उन्होंने कहा था कि वह अपने वादे से पीछे हटने के किसी प्रयास को स्वीकार नहीं करेंगे और न ही जनमत संग्रह को रद्द करेंगे। जॉनसन की इस चेतावनी ने एक तरह से स्पष्ट कर दिया है कि वह किसी भी परिस्थिति में ब्रेक्जिट में देरी बर्दाश्त नहीं करेंगे।

लोकप्रिय