कोरोना का कोहराम: घरों में सड़ रही बुजुर्गों की लाशें, मरने के लिए छोड़ दिए गए कई लोग, सड़कों पर उतरी सेना

कोरोना वायरस ने पूरी दुनिया में कहर बरपा रखा है। कई देशों में हजारों हजार लोग काल के गाल में समा गए हैं। हालात यह हो गए हैं कि घरों में बुजुर्गों की लाशें सड़ रही हैं। कई बुजुर्गों को तो गंभीर हालत में लावारिस छोड़ दिया गया है।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

कोरोना वायरस ने पूरी दुनिया में कहर बरपा रखा है। कई देशों में हजारों हजार लोग काल के गाल में समा गए हैं। हालात यह हो गए हैं कि घरों में बुजुर्गों की लाशें सड़ रही हैं। कई बुजुर्गों को तो गंभीर हालत में लावारिस छोड़ दिया गया है। स्वास्थ्य सेवाओं में आई आपातकाल की स्थिति को देखते हुए खुद मिलिट्री ने अब मोर्चा संभाल लिया है। बुजुर्गों के लिए बनाए गए Old People Homes में कई लाशें मिली हैं। इतना ही नहीं खुलासा यह भी हुआ है कि कई निजी ओल्ड होम्स में कोरोना वायरस से संक्रमित बुजुर्गों को गंभीर हालत में मरने के लिए छोड़ दिया गया है।

जी हां ऐसा हो रहा है! शायद आपको यकीन न हो पर ये सच हैऔर ये सब हो रहा है कोरोना से सबसे ज्यादा प्रभावित तीसरे बड़ देश स्पेन में। यहां रक्षा मंत्रालय ने साफ किया है कि मिलिट्री इस वक्त किसी तरह लोगों तक राहत पहुंचाने की कोशिशों में जुटी हुई है। सेना को ऐसे कई घरों के बारे में पता चला है जहां वायरस से पीड़ित बुजुर्ग गंभीर हालत में लावारिस पड़े हैं। इन बुजुर्गों की देखभाल करने वाला कोई नहीं है। स्पेन के रक्षा मंत्री ने कहा है कि जिन लोगों ने भी ऐसे हालात में अपनी जिम्मेदारियां नहीं निभाई हैं उनके खिलाफ कानून के मुताबिक कार्रवाई की जाएगी।

कुछ दिनों पहले भी स्पेन से इस सिलसिले में एक चौंकाने वाली खबर आई थी। खुलासा हुआ था कि मैड्रिड के एक ओल्ड एज होम में 25 बुजुर्गों की मौत कोरोना वायरस की वजह से हो गई थी। इनमें से ज्यादातर लोगों को अस्पताल तक भी नहीं पहुंचाया जा सका था। दर्जनों पेंशन भोगियों को निजी होम में भी शिफ्ट किया गया था।

गौरतलब है कि स्पेन में कोरोना वायरस से मरने वालों में 67 प्रतिशत लोग 80 वर्ष से ज्यादा की उम्र के हैं। कई लाशों की खोज उस वक्त की गई जबकि यहां के स्वास्थ्य कर्मचारियों ने सरकार से मदद मांगी थी। दरअसल मैड्रिड के एक अस्पताल का वीडियो यहां वायरल हुआ था जिसमें कई बुजुर्ग फ्रर्श पर पड़े नजर आ रहे थे। वीडियो में नजर आ रहा था कि अस्पताल में मरीजों को जबरदस्ती जमीन पर लेट कर अपने इलाज के लिए इंतजार करने के लिए कहा जा रहा था।

आपको बता दें कि 14 मार्च यूरोपीय देश स्पेन में लॉकडाउन है। फिर भी वहां मरने वालों की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है। अब तक कई हजार लोगों की मौत हो चुकी है। वहीं संक्रमित लोगों की संख्या भी लगातार तेजी से बढ़ रही है। सेना को कोरोना से बचाने के लिए लगाया गया है। स्पेन में सेना को इस बात की जिम्‍मेदारी दी गई है कि वह केयर होम्‍स को वायरस मुक्‍त करे ताकि बीमारी के प्रसार को रोका जा सके।

स्‍पेन की सेना को इस बात का भी जिम्‍मा दिया गया है कि वह घरों में लावारिश पड़ी लाशों का पता लगाए। बताया जा रहा है कि कुछ घरों में कई दिनों से लाशें पड़ी हुई हैं लेकिन कोरोना के संक्रमण के डर से उसी घर में रह रहे परिवार के सदस्‍य उन्‍हें उठाने की हिम्‍मत नहीं जुटा पा रहे हैं।

लोकप्रिय