कोरोना के इस नए रूप से अमेरिका की अर्थव्यवस्था पर मंडराया खतरा, जानें वायरस से क्यों सहमा सुपर पावर

अमेरिकी अर्थव्यवस्था की रिकवरी के लिए नोवेल कोरोना वायरस के वेरिएंट्स को एक बड़े खतरे के तौर पर देखा जा रहा है। मिनियापोलिस रिजर्व बैंक के अध्यक्ष नील काशकारी ने यह बात कही।

फोटो: IANS
फोटो: IANS
user

आईएएनएस

अमेरिकी अर्थव्यवस्था की रिकवरी के लिए नोवेल कोरोना वायरस के वेरिएंट्स को एक बड़े खतरे के तौर पर देखा जा रहा है। मिनियापोलिस रिजर्व बैंक के अध्यक्ष नील काशकारी ने यह बात कही। सिन्हुआ समाचार एजेंसी की रिपोर्ट के मुताबिक, काशकारी ने वायरस के एक वेरिएंट का जिक्र करते हुए न्यूयॉर्क के ईकोनॉमिक क्लब को बताया, "सबसे बड़ा खतरा तो मुझे इन वेरिएंट्स से रिकवरी की दिख रही है।" उन्होंने जिस वेरिएंट का जिक्र किया, उसकी अधिकता देश के कई भागों में देखने को मिल रही है और जिसकी चपेट में युवा आसानी से आ रहे हैं।

उन्होंने आगे कहा, अगर डेकेयर सेंटर्स और स्कूल वगैरह को वायरस के प्रसार पर काबू पाने के मद्देनजर बंद रखा जा रखा जा रहा है, तो इससे हम आने वाले समय में आर्थिक समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है। वह कहते हैं, "ऐसा मेरा मानना नहीं है, बल्कि स्वास्थ्य विशेषज्ञों से जब मैंने बात की, तो उन्होंने मुझे इसकी चेतावनी की।"

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia