हमास को उत्तर कोरिया से भी मिले थे हथियार? प्योंगयांग ने अमेरिका पर लगाए गंभीर आरोप

यह खंडन वाशिंगटन स्थित मीडिया आउटलेट रेडियो फ्री एशिया के इस दावे के बाद किय गया, कि हमास ने उत्तर कोरियाई हथियारों का उपयोग किया है।

फोटो: IANS
फोटो: IANS
user

नवजीवन डेस्क

कहा जा रहा है कि हमास द्वारा इजरायल पर हमले के लिए उसे कई देशों से सहयोग मिला था। उत्तर कोरिया पर भी हमास को हथियार देने के आरोप लगे हैं। हालांंकि उत्तर कोरिया ने खारिज कर दिया है। प्योंगयांग ने शुक्रवार को उन अटकलों को निराधार बताया है कि हमास आतंकवादी समूह ने इजरायल पर हमले के लिए उत्तर कोरियाई हथियारों का इस्तेमाल किया था। समाचार एजेंसी योनहाप की रिपोर्ट के अनुसार, अंतरराष्ट्रीय मामलों पर उत्तर कोरियाई कॉमेंटेटर री क्वांग-सॉन्ग ने कहा कि अमेरिका हाल के मध्य पूर्व संकट को जानबूझकर प्योंगयांग से जोड़ने के लिए अपने घिसे-पिटे अभियान का सहारा ले रहा है।

उत्तर कोरिया की सरकारी कोरियन सेंट्रल न्यूज एजेंसी द्वारा लिखे गए एक लेख में री ने कहा, "अमेरिकी प्रशासन की प्रेस संस्थाएं और अर्ध-विशेषज्ञ एक आधारहीन और झूठी अफवाह फैला रहे हैं कि 'उत्तर कोरिया के हथियारों' का इस्तेमाल इजराइल पर हमले के लिए किया गया।


यह खंडन वाशिंगटन स्थित मीडिया आउटलेट रेडियो फ्री एशिया के इस दावे के बाद किय गया, कि हमास ने उत्तर कोरियाई हथियारों का उपयोग किया है। इस रिपोर्ट में लड़ाकूओं में से एक के पास उत्तर कोरिया में निर्मित एफ -7 रॉकेट-प्रोपेल्ड ग्रेनेड लांचर जैसा दिखने वाला एक वीडियो दिखाया गया था। 

पहले भी यह संदेह जताया गया था कि उत्तर कोरिया ने हमास को हथियार मुहैया कराये हैं।लेकिन यह स्पष्ट नहीं है कि क्या उत्तर कोरिया ने सीधे आतंकवादी समूह को एफ-7 रॉकेट लॉन्चर की आपूर्ति की थी, या क्या उन्हें अन्य देशों से जुड़े लेनदेन के माध्यम से प्रदान किया गया था।


इस सप्ताह की शुरुआत में, उत्तर कोरिया ने हमास के साथ बढ़ते संघर्ष के लिए इजराइल की निंदा की और दावा किया कि यह फिलिस्तीन के लोगों के खिलाफ इजराइल की लगातार आपराधिक कार्रवाइयों का परिणाम है।

आईएएनएस के इनपुट के साथ

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


;