अफगानिस्तान में लाइब्रेरी बनवाने पर डोनाल्ड ट्रंप ने पीएम मोदी की ली चुटकी, पूछा- कौन करेगा इसका इस्तेमाल?

अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने पीएम मोदी के सरकार की अफगानिस्तान में निवेश करने के कदम का मजाक उड़ाते हुए कहा कि वो लोग अफगानिस्तान में लाइब्रेरी बनवा रहे हैं, समझ में नहीं आता है कि इसका इस्तेमाल कौन करेगा?

नवजीवन डेस्क

अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने बुधवार को अफगानिस्तान की एक लाइब्रेरी को फंड देने की वजह से पीएम मोदी पर तंज कसा। ट्रंप ने पीएम मोदी का मजाक उड़ाते हुए कहा, “भारत के प्रधानमंत्री लगातार मुझे बताते हैं कि हमने अफगानिस्तान में लाइब्रेरी बनाई। लेकिन मैं कहता हूं कि उसका इस्तेमाल कौन कर रहा है?”

खबरों के मुताबिक, अमेरिकी राष्‍ट्रपति डोनाल्‍ड ट्रंप ने बुधवार को नए साल की पहली कैबिनेट बैठक में कहा , “जब वह पीएम मोदी से मिले थे, तब भी पीएम मोदी मुझे लगातार बता रहे थे कि उन्होंने अफगानिस्तान में एक पुस्तकालय बनाया है। पता है वह ऐसा था जैसे हमने 5 घंटे साथ में खपा दिया हो। और हमसे ऐसी उम्मीद की जा रही थी कि मैं यह कह दूं। ओह, लाइब्रेरी के लिए धन्यवाद। लेकिन मुझे नहीं पता कि अफगानिस्तान में इसका इस्तेमाल कौन कर रहा है”

अमेरिका के राष्ट्रपति ने अफगानिस्तान में शांति और विकास के लिए भारत के प्रयासों का जिक्र किया साथ ही आरोप लगाया कि अन्य देश युद्धपीड़ित देश में पर्याप्त प्रयास नहीं कर रहे हैं और वे अमेरिका का फायदा उठा रहे हैं। हाल ही में अमेरिका ने सीरिया और अफगानिस्तान से अपनी सेना हटाने का फैसला लिया था। और अपने खर्चें को कम कर रहा है। डोनाल्ड ट्रंप ने पिछले महीने ही ऐलान किया था कि वो सीरिया से अपनी सेना हटा रहे हैं और अफगानिस्तान में भी अमेरिका की स्ट्रॉन्ग फोर्स को बड़ी संख्या में कम किया जाएगा।

बता दें कि भारत अफगानिस्तान में पिछले काफी समय से एक्टिव है। अफगानिस्तान में शिक्षा व्यवस्था सुदृढ़ करने के लिए भारत लगातार मदद दे रहा है। इसके अलावा भी कई कार्यक्रमों को चलता है। जिसमें स्कूली जरूरतों, पुनरुत्थान जैसे कार्यक्रम भी शामिल हैं। साथ ही इसमें हर साल भारत पढ़ने आने वाले 1,000 अफगानी छात्रों को स्कॉलरशिप भी देना शामिल है। हालांकि, अमेरिकी राष्ट्रपति किस प्रोग्राम की बात कर रहे थे यह साफ नहीं है।

Published: 3 Jan 2019, 9:08 AM
लोकप्रिय