तुर्की के साथ भूकंप से थर्रा उठी न्यूजीलैंड की धरती, इतनी मापी गई तीव्रता, घर छोड़ बाहर भागे लोग, मचा हाहाकार

तुर्की में एक बार फिर भूकंप के झटके महसूस किए गए। इसके साथ ही न्यूजीलैंड की धरती भी भूकंप से थर्रा उठी है।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

पश्चिमी एशियाई देशों तुर्की की धरती लगातार भूकंप से थर्रा रही है। तुर्की में शनिवार तड़के फिर भूकंप के झटके महसूस किए गए। रिक्टर स्केल पर इस भूकंप की तीव्रता 4.3 मापी गई है। यूरोपीय भूमध्य भूकंपीय केंद्र ने कहा कि यह भूकंप 05:27 GMT पर आया। इसका असर दक्षिण-पूर्व तुर्की में ज्यादा देखने को मिला। इस भूकंप का केंद्र 2 किलोमीटर की गहराई पर आदियमान प्रांत में सेलिखन शहर के उत्तर-पश्चिम में 6 किलोमीटर की दूरी पर स्थित था।

भूकंप के झटके इतने तेज थे कि पहले से ही त्रासदी झेल रहे लोग घर से बाहर निकल आए। इससे पहले 6 फरवरी को 7.7 और 7.6 तीव्रता के दो भूकंप तुर्की में आए थे। इन दो भूकंपों के कारण सिर्फ तुर्की में 45000 से अधिक लोग मारे गए, जबकि लाखों की संख्या में लोग बेघर हुए। 11 तुर्की प्रांतों और सीरिया में भूकंप के बाद सैकड़ों आफ्टरशॉक्स आ चुके हैं। हालांकि, दोनों देश अब भी पुराने भूकंप से हुई क्षति से उबरने की कोशिश कर रहे हैं।

उधर, ऑस्‍ट्रेलिया महाद्वीप के दक्षिण में स्थित देश न्यूजीलैंड भी भूकंप के झटकों से हिल गया। जानकारी के मुताबिक न्यूजीलैंड के केर्माडेक द्वीप समूह में 6.9 तीव्रता का भूकंप आया है। यूनाइटेड स्टेट्स जियोलॉजिकल सर्वे के मुताबिक न्जीलैंड में केर्माडेक द्वीप समूह में शनिवार को 6.9 तीव्रता का भूकंप आया। USGS ने कहा कि भूकंप का केंद्र 152 किमी (94 मील) की गहराई में था। इससे पहले यूरोपियन मेडिटेरेनियन सीस्मोलॉजिकल सेंटर ने 6.6 की तीव्रता और 183 किमी की गहराई का अनुमान लगाया था। अमेरिकी सुनामी चेतावनी प्रणाली ने कहा कि भूकंप के बाद सुनामी की कोई चेतावनी जारी नहीं की गई।

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


;